एक औरत का बदला

loading...

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम सुरेश है। मेरी उम्र 25 साल है और मेरी हाईट 6 फुट है, रंग गोरा में दिखने में स्मार्ट हूँ और सबसे खास बात मेरे लंड का साईज़ 8 इंच लम्बा और काफ़ी मोटा है। दोस्तों अब में आपको ज़्यादा बोर नहीं करते हुए सीधे अपनी कहानी पर आता हूँ। मेरा पोस्ट-ग्रेजुयेशन होने के बाद मैंने एक मल्टीनेशनल कंपनी जॉइन की। अब में आपको बता दूँ कि मुझे हमेशा से ही बड़ी उम्र की औरतों में रूचि रही है और अब कंपनी में मेरा काम काफ़ी अच्छे से चल रहा था। अब लंच और टी टाईम में हमेशा अपने दोस्तों के साथ कैटीन में जाता था, वहाँ पर मुझे एक औरत दिखती थी, वो लंच के लिए हमेशा अकेले ही बैठती थी।

अब में आपको उनके बारे में बता दूँ। उस लेडी की उम्र 48 से 50 साल के बीच होगी और वो काफ़ी मस्त है, रंग गोरा,  हाईट मुझसे भी ज़्यादा, बड़े-बड़े बूब्स बिल्कुल फुटबॉल की तरह, थोड़ा सा पेट बाहर निकला हुआ और सबसे अच्छी बात उनकी गांड, यारों में बता नहीं सकता क्या गांड है उनकी? बड़ी सी, लेकिन बिल्कुल कसी हुई ऐसा लगता है कि बस उनकी गांड को चोदता रहूँ। में हमेशा से उन्हें देखा करता था और उनकी गांड और बूब्स को निहारा करता था और वो भी ये बात शायद जानती थी। फिर एक दिन में लंच के लिए लेट हो गया तो अब मेरे सारे दोस्त लंच करके कैटीन से बाहर निकल गये थे। अब किस्मत से ऐसा हुआ कि वो लेडी भी लंच के लिए लेट हो गयी थी और हमेशा की तरह अकेले ही बैठी हुई थी। फिर में हिम्मत करके उनके सामने वाली कुर्सी पर जाकर बैठ गया और अपना लंच स्टार्ट किया। फिर थोड़ी देर के बाद उस मेम ने मुझसे बात की और मेरे बारे में पूछा। फिर मैंने उन्हें अपना परिचय दिया।

फिर मैंने उन मेम से पूछा तो उन्होंने अपने बारे में बताया कि वो एक डिपार्टमेंट हेड है और फिर उन्होंने अपनी फेमिली के बारे में बताया कि उनके दो बेटे और एक बेटी है, बड़े बेटे और बेटी की शादी हो चुकी है और छोटा बेटा अमेरिका में पढ़ाई करता है और उनके पति भी एक मल्टीनेशनल कंपनी में बड़ी पोज़िशन पर है। उसके बाद हम दोनों जब भी मिलते तो एक दूसरे को स्माईल देते, अब में उनकी गांड का दीवाना हो गया था और मुझे किसी भी तरह से उन्हें चोदना था। अब में उन मेम से हमेशा बात करने का मौका ढूँढता रहता था, ऐसे में हमने अपने नंबर भी एक्सचेंज कर लिए थे। फिर एक बार मैंने रविवार को मेम को कॉल किया तो मेम बातों से काफ़ी दुखी लग रही थी। फिर मैंने उनसे पूछा तो वो बोली कि कुछ नहीं ऐसे ही।

loading...

जिसकी कहानी पढ़ी उसका नंबर यह से डाउनलोड करलो Install [Download]

और कहानिया

loading...