_

सविता भाभी का WhatsApp यहाँ से डाउनलोड करो और बाते करे पूरी नाईट सेक्सी भाभी से [Download Number ]


कॉलबॉय बनने की शरुआत

loading...

हाय चुदक्कड़ दोस्तों! मैंने सेक्सी 90% कहानियां पढ़ी है, मुझे सेक्सी कहानियां और सेक्स बहुत पसंद है तो मैंने सोचा की मैं भी मेरी लाइफ में हुए सारे चुदाई किस्से आपके सामने पेश करूँ. इस कहानी में सभी सिर्फ नाम बदले हुए है. कोई रियल नाम नहीं है. बाकी कहानी बिलकुल सच्ची है.

हाँ तो, मेरा नाम रोहित सिन्हा है, मेरी उम्र 25 साल है, ये कहानी सिर्फ 1 साल पुरानी है मेरी फॅमिली मीडियम क्लास है. मैं मेरे मम्मी पापा का बहुत लाडला बेटा हूँ, मुझे मॉडलिंग और मूवी में हीरो बनने का बहुत शोक था.

इसलिए मेरी बॉडी काफी सेक्सी है और मेरा लुक भी बहुत सेक्सी है, मुझे बॉम्बे जाना था, लेकिन मेरे किसी दोस्त ने बोला की अहमदाबाद में भी काफी मॉडलिंग एजेंसी है और मॉडल शो भी होते है.

तो अभी 1 साल यहां ही थोडा कर ले फिर बॉम्बे चले जाना. मेने उसकी बात मान ली और चला तरक्की के सफ़र पर वहाँ गया मैं.

थोड़े दिन रैंप वाक भी किया, लेकिन अब मेरे पास पैसो की कमी होने लगी, अच्छे कपडे चाहिए अच्छा फ्लैट, तब मुझे मेरे रूम मेट ने कॉल बॉय बिज़नस के लिए बोला.

वैसे मेने बहुत गर्ल्स और भाभियों को चोदा है, मॉडलिंग लाइन में बहुत मजा करने को मिलता है, लेकिन फिर भी पहले तो मेने एकदम मना कर दिया फिर सोचा चलो ट्राय करते है ये बिज़नस और मैंने उन लोगो की बात मान ली और मेरा कॉल बॉय बनने का सफ़र शुरू हो गया.

मैंने उनकी बात मान के, रेड शर्ट में अहमदाबाद की 1 जगह पर चला गया वो सब भी मेरे साथ थे.

नाईट के 9 बजे का टाइम था मैं सिगरेट पी रहा था, इतने में एक कार आई, उसने कार का मिरर नीचे किया तो देखा की, एक बहुत सेक्सी और हॉट आंटी थी. उसने इशारे में बोला अन्दर आ जाओ.

मैं बेथ गया, दूर से मेरे दोस्तों ने मुझे बेस्ट ऑफ़ लक बोला. मेरी गांड फट रही थी के साली ये कहाँ ले जाएगी, क्या करेगी, पुलिस वाली तो नहीं होगी न आदि आदि मैं सोच रहा था..

उसने कुछ भी नहीं बोला रास्ते में, थोड़ी देर में उसका घर आ गया.. वो अन्दर ले गयी और बोली जाओ सामने वाले रूम में बैठ जाओ..

मैं बैठ गया, यारो वो कमाल की खुबसूरत आंटी थी, उसकी आगे 28 साल होगी. फिगर 34-30-36 था. और एक दम वाइट थी. उसका घर भी अमीर लोगो जैसा था. उसका रूम काफी सेक्सी था.. घर में ही छोटा सा बियर बार जैसा प्लेटफार्म था उसमे काफी अलग अलग ड्रिंक्स थे.. मैं सब देख रहा था की एकदम वो आ गयी.

वो बोली क्या देख रहे हो, में बोला कुछ नहीं. फिर वो पास आकर बैठ गयी और उसने मेरा नाम, पता सब पूछा. उसने उसका नाम विधिशा बताया. वो अकेली ही रहती है और उसके पति बिजनेसमैन है, और वो दुबई गए हुए है.

इतने में उसने 2 ड्रिंक्स बनाए और हम ने ड्रिंक पिने लगे, पीते पीते वो मेरे लिप्स को छू के बोली, मेरा राजा आज मेरी प्यास बुझा दो, बहुत दिनों से में प्यासी हूँ.

मैंने कहा, मैडम आज ऐसे चोदुंगा की आप लाइफ टाइम मुझे याद रखोगी, चूत की साड़ी गर्मी को शांत कर दूंगा, तब वो बोली प्लीज मुझे मैडम नहीं विधिशा कहिये, और मेने कहा ठीक है.

फिर हम दोनों एक दुसरे को किस करने लगे, आह्ह्ह.. क्या सेक्सी माल थी यार, मेरा तो लुंड खड़ा हो कर सलाम मार रहा था.

किस करते करते मेने उसका टॉप खोल दिया, ओह्ह्ह्ह.. उसने अन्दर कुछ पहना नहीं था, और उसके बूब्स को काफी पिंक थे, जब मेने उसके बूब्स को छुआ था तो वो बहुत कठिन हार्ड थे जैसे कभी किसी ने दबाये ही ना हो.. अह्ह्ह्ह.. क्या माल थी यार..

मैं उसके बूब्स दबाने लगा.. आह्ह्ह्ह आह्ह्ह्हह्ह….

उसके निप्पल्स को चूसने लगा वो सिसकियाँ .. अह्ह्ह आह्ह्हह्ह.. मैं उसके निप्पल्स को चूस चूस रहा था.. अह्ह्ह..

वो कहने लगी बेबी प्लीज धीरे धीरे काटो अह्ह्ह्ह…

उसने मेरा शर्ट निकाल दिया, मेरी बॉडी देख के बोली यार तुम तो मॉडलिंग करते हो क्या? मैंने कहा ठीक पहचाना. तो बोली तो आज मुझे जम के चोदना. और मेरे चेस्ट पर किस करने लगी थी.

वो बहुत गरम हो चुकी थी.

मैं भी उसके पेट पर किस कर रहा था.

धीरे से उसकी पेंटी में हाथ डाला.. अह्ह्ह.. उसकी चूत पे एक भी बाल नहीं था. लग रहा था की आज ही क्लीन शेव की हो..

मेने धीरे से उसकी पेंटी निकाल दी.. ओह्ह्ह्ह.. साली की चूत तो एक दम गुलाबी थी और लगता था की काफी महीनो से किसी ने चोदा नहीं है. वो मेरे लंड को बाहर से ही पकड़ के बोली, तेरा लंड इतना मोटा है.

मेने कहा बाहर निकल के तो देखो डार्लिंग. तो उसने मेरा पेंट और निकर उतार दिया और देख के बोली ओह्ह्ह मादरचोद लंड है या गधे का लोड़ा.. मेरा लंड 9 इंच का है. मोटा है और मेरा लंड किसी भी चूत को देख के सलाम मारने लगता है.

उसने तुरंत मेरे लंड को मुह में ले लिया और चुसाने लगी.. अह्ह्ह्ह.. अह्ह्ह.. क्या मजा आ रहा था दोस्तों अह्ह्ह..

मेने कहा हम 69 पोजीशन में हो जाते है तो बोली नहीं, पहले में चूसती हूँ फिर तुम मेरी चुसना.. मेने कहा ठीक है.

वो मेरे लंड को 5 मिनट तक लोलीपोप की तरह चूसती रही.. फिर बोली पक्का रंडवा है तू, खूब स्टैमिना वाला लोड़ा है तेरा.. फिर बोली अब मेरी चूस..

मेने उसको अच्छे से लिटाया, मेरा मुह उसकी चूत की ऊपर था, मैं धीरे धीरे उसकी चूत के आस पास मेरी जुबान फिर रहा था.. वो कसकसाई और और आह्ह्ह्ह… अहह्ह्ह्ह… भेन्चोद अह्ह्ह.. बोलने लगी, उसकी मुह से गाली सुनके अजीब लगा लेकिन मुझे सेक्स के टाइम ऐसी गन्दी बाते और गालियाँ स्मोकिंग करना पसंद है..

मैं उसकी चूत को चूस रहा था, अह्ह्ह अह्ह्ह 5 मिनट तक चूसा और वो एकदम से उठ गयी और मेरा मुह हटा लिया, मेने पूछा क्या हुआ तो बोली के भेन के लोडे, बिना लंड डाले ही तूने मेरा सारा पानी निकाल दिया.. मैं बोला अरे वो तुम्हारी चूत काफी दिन से प्यासी है इसलिए ऐसा हुआ और बोला अभी तो पूरी रात बाकी है.

और उसको वापस गरम करने लगा, साली वो भी रांड थी, क्या फटाफट वापस गरम हो गयी, निप्पल भी साली के कड़क हो गए. अब वो बोली चूतिये मुझसे रहा नहीं जा रहा, लंड डालने के पेसे दिए है रोमांस का नहीं..

और अब मेरा लोड़ा बहुत तैयार था.. उसकी चूत में मैंने मेरा लोड़ा रखा.. साली की चूत बहुत टाइट थी.. धीरे धीरे पहले उंगली कर के उसकी चूत के मुह को खोला.. अब मैं मेरा मेरी डार्लिंग.. तैयार हो जाओ.. लोड़ा आने वाला है..

वो बोली मैं तो तैयार ही हूँ दाल डे मादरचोद, लेकिन धीरे से..

मैं धीरे धीरे से लोडे का आगे का थोडा सा सुपाडा अन्दर डाला और वो चीख पड़ी और बोली मर गयी, आह्ह्ह्ह… मर गयी बापरे, भोसडीके धीरे से डाल..

मैंने उसके मुह को मेरे लिप्स पर रख कर बंध कर दिया, और एक जोर से एक झटका दिया, आधा लौड़ा मेरा अन्दर चला गया, वो बहुत चीखना चाहती थी लेकिन मेने उसके मुह मेरे मुह से बढ़ कर दिया था.

अब उसकी चूत में थोड़ी जगह होने लगी थी.. अब मैं धीरे धीरे अन्दर बाहर कर रहा था, वो भी मजा ले रही थी.. अह्ह्ह अह्ह्ह्ह… चोदो चोदो.. मेरी चूत की प्यास बुझादो ऐसा बोल बोल के मुझे और गरम कर रही थी.

मेने बोला अब कोई और स्टाइल में करते है, फिर मैंने उसे घोड़ी बना दिया. और पीछे से चूत में लंड डाला.. और लगातार उसकी चूत में अन्दर बाहर कर रहा था.

वो आह्ह्ह… अह्ह्ह.. हरामी मादरचोद… चोदो चोदो कह के मेरा स्टैमिना और बढ़ा रही थी, पुरे रूम में पच पच की आवाजे आ रही थी.

अब पोजीशन और बदली, वो मेरे ऊपर बैठा दिया मैंने और मैं उसकी चूत में लंड डालने लगा.. वो उछल उछल कर मेरे लंड पर बैठ रही थी और मेरा लंड अन्दर बाहर हो रहा था… आह्ह्ह्ह… अह्ह्ह्ह…

वो इस दौरान दूसरी बार झड गयी थी, लेकिन मेरा चुदाई का सिलसिला चालू ही था.

अब मैंने कहा डार्लिंग, मैं आने वाला हूँ.. तो बोली भेनचोद अन्दर ही डाल डे.. चूत बहुत महीनो से प्यासी है और फिर मैंने रफ़्तार बधाई.. अह्ह्ह्ह… अह्ह्ह्ह… साली रांड आह्ह्हह्ह बहन की लौड़ी ले लंड ले.. अह्ह्ह.. और मैं थोड़ी देर में उसकी चूत में झड गया और थोड़ी देर ऐसे ही उसके साथ सोता रहा..

थोड़ी देर में उसने 2 सिगरेट जलाई और एक मुझे दी.. फिर थोड़ी देर सोने के बाद वापस हमारा चुदाई कार्यक्रम स्टार्ट हो गया और पूरी रात में हमने और 4 बार सेक्स किया, वो बहुत सतुष्ट थी.

अब दिन के 6 बज गए थे, हम नंगे लेते हुए स्मोकिंग कर रहे थे और एकदम वो मेरे पास आकर बोली कबसे कॉल बॉय का बिज़नस स्टार्ट किया तो मैं बोला सच में आप ही मेरे पहले कस्टमर हो लेकिन उसे विश्वास नहीं हुआ, उसने मुझे 10000 रुपये दिए, और कार में जहाँ से मुझे बिठाया था वहाँ तक छोड़ने गयी.

और दोस्तों बाद में मेरे उस भाभी को काफी बार चोदा, और काफी बार फ्री में भी चोदा. बाद में मेने उसकी 7 फ्रेंड्स को भी चोदा ये सब तो मेरे कॉल बॉय बनने के बाद की बाते है.

लेकिन मेरे कॉल बॉय बनने के पहले भी में काफी भाभियों और लड़कियों को चोदा है, मेरे फॅमिली की मौसी की बेटी और मेरी आंटी को भी चोदा है.. मैं ये सब कहानिया आपके सामने बारी बारी लिखूंगा.

ऐसा करता हूँ आप मेरी कहानी पढ़ के लंड वाले अपना लंड हिलाएंगे और चुतवाली आंटीयां अपनी चूत में मोमबत्ती डाल लेगी.

loading...
Comments