टिचर की चुदाई कोलेज मे

loading...

हेलो दोस्तों, मैं वसिम हे और में एक बार फिर से एक नहीं सच्ची कहानी लेकर आप सब के सामने आया हूं. मैं भाभी के साथ पुणे में मजे कर के फिर से मुंबई आ गया था.भाभी को बहोत ही ज्यादा मिस कर रहा था और प्रॉब्लम यह थी अब वह पुणे नहीं बलके दिल्ली चली गई थी.. खैर जैसे तैसे दिन निकल रहे थे और मैं फेसबुक पर ऐसे ही एक दिन सर्फ़ कर रहा था कि मुझे मेरे पेज पर कमेंट आया, मैंने उसको लाइक किया. उसके बाद से मेरे हर पोस्ट पर लाइक आने लगा. मैंने जब देखा तो लाइक करने वाले का नाम हिना था. मैंने कमेंट में थैंक्स कहा थोड़ी देर बाद उसका मैसेज मुझे इनबॉक्स में आया. उसने मुझे कहा बहुत प्यारी है आपकी पोस्ट बहुत अच्छी लगी.

मैंने थैंक्स कहा और इधर उधर की बातें हुई, उसने अपना नाम हिना बताया कहा कि वह एक ट्यूशन टीचर है पुणे में. मैं तो खुश हुआ, मैंने उसकी पेज पे जाके देखा कोई पिक तो नहीं थी लेकिन उसका बर्थ डेट पता चल गया जो दो दिन बाद ही था.

मेने मन में कहा की मौका अच्छा हे, मैंने अपने पेज पर उसको विश किया वह बहोत खुश हुई. फिर मेरे सरे दोस्तों ने भी उसे बर्थ डे विष किया. फिर हम रेगुलर बात करने लगे, नंबर शेयर किया बात अब धीरे धीरे व्हाट्सअप पर भी होने लगी.

loading...

एक दिन मैंने जस्ट बात बात में उसे उसका एक पिक मांगा तो उस ने सेंड किया. मैं देखता ही रह गया. वह बहोत ही हॉट थी. उसका फिगर ३४-३४-३६ का फिगर था. उस ने साड़ी पहनी थी वह भी हल्की सी पिंक कलर की थी जिसमें उसका क्लीवेज साफ दिख रहा था. मैंने जमकर उसकी तारीफ की तो वह बहोत ही ज्यादा खुश हुई और मैंने उसकी उम्र पूछी तो उसने कहा ३५ साल. मुझे यकीन नहीं हुआ ३५ की इतनी जबर्दस्त आइटम बहुत अच्छे से मेंटेन किया था उसने अपने आप को. फिर पता चला की उसकी शादी कम उमर में हो गयी थी और अब तो डायवोर्स भी हो गया था. जब २५ की थी तब से अकेली है. मैंने और पिक्स मांगे जो उसने सेंड किए. वह बहुत सुंदर लग रही थी.

मेने फिर उसे कहा की आपकी उमर ३५ की नहीं बल्की २४ की लग रही हो. और आपके ब्रेस्ट तो कमाल के हैं और यह नवल ऐसे हे की जी करता है यहां हाथ लगाऊ. वह शरमा गयी लेकिन कुछ सेकंड में रिप्लाई आया हाथ कैसे लगाओगे? मैं तो यहां हूं?

मैंने कहा कोई नही जी मैं वहीं आ जाता हूं पुणे उसमें कौन सी बड़ी बात है. वह मान गई और हमने मिलने का प्लान बनाया. और वह भी उसी के घर पर. सच कहू तो उसके घर वाले सब जयपुर गए थे, लेकिन ट्यूशन की वजह से वह नहीं गई थी, उसने कहा ट्यूशन को वह छुट्टी रखेगी. में उस दिन तो ठीक से सो भी नहीं पाया था और उसी को याद कर के सोचता रहा की में उसे किस तरह से चोदुंगा और किस कीस पोजीशन में उसे पकड के पेलूँगा की जिस से वह मुज से एकदम खुश हो जाये. मुझे उस रात को उसके बारे में सोच सोच के बिल्कुल भी नींद नहीं अ रही थी लेकिन थोड़ी देर बाद जैसे तैसे में सो गया.

मेरी आंख सुबह की उसकी याद के साथ खुली और में उस दिन बहोत ही ज्यादा खुश था क्योंकि में उस दिन मेरी सपनो की रानी को मिलने वाला था. फिर में ने सुबह उठ कर नहाया और फ्रेश हुआ और फिर मेने अपनी पेट पुजा की और नाश्ता किया. बाद में में अपनी बस की टिकट बुक करने के लिए ट्रेवल्स एजंसी में गया और शाम के 4 बजे की पुणे के लिए टिकट बुक कर ली और में फिर से उसके सपने देखने लगा.

loading...

मैंने शाम ४ बजे की बस ले ली और पुणे के ट्रेवलिंग शुरू हुई. और फिर मेने उसको मैसेज किया.
मैंने कहा : हाय..

हिना ने कहां : मिल गई बस? कहां हो आप?

मैंने कहा : हां में बस में हूं, अब तक मुंबई में ही हूं. पर यकीन नहीं होता मैं आपसे मिलने वाला हूं. यह मुझे एक सपने जैसा लग रहा है.

हिना ने कहा : क्या बात है यकीन तो मुझे भी नहीं होता कि इतने साल बाद में ऐसी किसी से मिलूंगी. बड़ी हिम्मत करके हां कहां है तुम को मिलने के लिए.

मैंने कहा : थैंक यू सो मच डोंट वरी में हिम्मत और आप की ट्रस्ट की कदर करता हूं.

हिना ने कहा : थैंक्यू

मैंने कहा : मवाह.

मैंने कहा : सॉरी मैं रोक नहीं पाया और आपके लिप्स पर किस किया.

हिना ने कहा : कोई बात नहीं वसीम मुझे भी बहोत अच्छा लगा.

मैं समझ गया इस को भी आज यही सब चाहिए और मैंने कहा
मैंने कहा : आपने बहुत टाइम से सेक्स नहीं किया होगा ना?

हिना ने कहा : इसीलिए बहुत प्यासी हूं. आखिर कब तक उंगली या मूली काम आएगी?


जिसकी कहानी पढ़ी उसका नंबर यह से डाउनलोड करलो Install [Download]

और कहानिया

loading...
One Comment
  1. Basant Kumar
    October 2, 2016 |