पड़ोसन भाभी की गान्ड चुदाई

loading...

हेलो दोस्तो मेरा नाम जे है और मैं गुजरात का रहने वाला हूँ, ये सेक्स स्टोरीस इन हिन्दी मेरी और एक भाभी की है, मेरी उमर 25 साल है और मैं एक मंक मे जॉब कराता हूँ और मेरे लॅंड का साइज़ 6.5” है और 2’’ मोटा है और अगर कोई भाभी और आंटी मुझे सेक्स के लिए इन्वाइट करना चाहती है तो मुझे मैल कर सकती है.

मेरी ये कहानी आज से 2 साल पहले की है जब मैं 23 साल का था और मैं आपनी पढ़ाई ख़त्म करके घर आया था. वैसे तो सब दिन नॉर्मल बीत रहे थे लेकिन जब एक दिन मैं बाजार से घर आया तो मैने देखा की एक लड़की जो बहुत खूबसूरात है और मेरी मम्मी से बात कर रही थी.

उनको देखते ही मूह मे पानी आ गया क्या माल थी उनकी उमर करीब 28 साल थी और उनका फिगर 36,30,36 था, उनके बड़े बड़े बूब्स को देख कर मेरे मूह मे पानी आ गया था. मैं तो उनको देखता ही रह गया और थोड़ी देर बाद वो चली गयी.

loading...

उसके जाने के बाद मैने मम्मी से पुचछा की को थी?

तो मम्मी ने बताया की आपने पड़ोस मे रहने आई है उनके पाती किसी बॅंक मे जॉब करते है. उस दिन मैने उनकी याद मे 2 बार मूठ मारी और सो गया.

फिर जब मैं अगली सुबह उठा तो मैने देखा की वो बाल्कनी मे कपड़े सूखा रही है, तो मैं बाल्कनी मे जाके उनको देखने लगा और जब वो कुच्छ लेने नीचे झुकी तो मैं उनके बूब्स को देख के इतना एक्शिटेड हो गया की मुझे फिर से मूठ मारनी पड़ी.

फिर सब नॉर्मल हो गया था रोज सुबह उतना और उनको बाल्कनी मे जाके देखना और अब उनको भी पता चल गया था की मैं उनको देखने के लिए बाल्कनी मे खड़ा रहता हूँ.

loading...

एक दिन मैं बाल्कनी मे खड़ा तट तो मैने देखा की वो बहुत सारा समान लेकर ऑटो से उतार रही है, तो मुझे ध्यान आया की लिफ्ट मे प्राब्लम की वजह से लिफ्ट बाँध है, तो मैने झट से नीचे उतार कर उनको पुचछा की मैं आपकी हेल्प कर सकता हूँ.

तो उसने हाँ कहा और मैने उनके बाग लेके उनके घर पर छोड़ दिए और मैं निकल ही रहा था की उसने कहा की रूको मैं कुच्छ ठंडा लेकर आती हूँ, फिर उसने मेरे लिए जूस बनाया और मुझे दिया और बात करने लगी की क्या करते हो.

मैने कहा जॉब ढूँढ रहा हूँ और फिर हम आपस मे बात करने लगे, उसने आपना नाम कविता बताया, जब हम बात कर रहे थे तब मैं उनके बूब्स को बार बार देख रहा था और उनको ये बात पता चल गयी थी. फिर मैं वाहा से निकला और घर जाकर सीधे बाथरूम मे मूठ मरने लगा.

फिर एक दिन शाम को मैं घर लोटा तो मम्मी ने बताया की कविता भाभी को कंप्यूटर के लिए आपका कुच्छ काम है तो आपको बुलाया है, तो मैं फ्रेश होकर उनके घर चला गया और देखा की दूर लॉक था, तो मैने दूर बेल बजाई तो कविता भाभी ने दरवाजा खोला.

मैं उनको देखता ही रह गया क्योकि उस टाइम उन्होने ब्लॅक नेट वाला गाउन पहना हुआ था जिसमे उनके बूब्स का उभर सॉफ दिख रहा था, उसने मुझे अंदर बुलाया.

तो मैने कहा क्या काम है?

तो उसने कहा मेरे कंप्यूटर मे नेट न्ही चल रहा है तो ठीक कर डीजये.

मैने उनका कंप्यूटर स्टार्ट किया और नेट कनेक्ट कर रहा था तो वो मेरे पास मे बैठी थी, तो मुझसे कंट्रोल नही हो रहा था और मैं बार बार उनके बूब्स को देख रहा था.

तो उसने पुचछा क्या देख रहे हो?

तो मैने कहा कुच्छ नही.

और फिर उसने अचानक मुझे पुचछा की आपकी कोई गर्लफ्रेंड है?

तो मैने कहा नही तो.


जिसकी कहानी पढ़ी उसका नंबर यह से डाउनलोड करलो Install [Download]

और कहानिया

loading...