पारूल की सील तोड़ी बड़े प्यार से

loading...

हैल्लो फ्रेंड्स.. में राज एक बार फिर इस साईट पर आप सभी के सामने एक और घटना लेकर आया हूँ और में दिल से आप सभी को मेरी पिछली कहानी को इतना प्यार देने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद देना चाहता हूँ। दोस्तों.. मेरी उम्र 22 साल है और में एक बहुत स्मार्ट लड़का हूँ और मेरी हाईट 5.11 इंच और मेरा लंड 6 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा है। दोस्तों.. में अब अपनी कहानी शुरू करता हूँ.. यह एक सच्ची कहानी है। मेरी पहले वाली कहानी की तरह यह भी एक साल पहले की है। दोस्तों एक दिन मुझे कॉल आया और यह कॉल गुडगाँव से पारूल नाम की लड़की का था। उसका असली नाम नहीं बता सकता इसलिए नाम चेंज किया है। उसने अभी अभी बारहवीं की पढ़ाई पूरी थी और नई नई घर से बाहर कॉलेज लाईफ में प्रवेश किया था। एक दिन उसका मुझे कॉल आया और वो थोड़ी परेशान और डरी हुई थी.. क्योंकि लाईफ में पहली बार किसी लड़के से बात कर रही थी और वो भी सेक्स के लिए.. किसी को पता चल जाएगा तो? यह सब उसने मुझे कॉल में बताया था.. लेकिन जब मैंने उसे समझाया कि में किसी को कुछ नहीं बताऊँगा.. तब जाकर उसको मुझ पर थोड़ा विश्वास हुआ।

फिर उसने बताया कि मैंने इस साईट पर आपकी स्टोरी पढ़ी है और वो मुझे बहुत अच्छी लगी। आपने एक वर्जिन लड़की को कितने प्यार से संतुष्ट किया है.. इसलिए में आपको कॉल कर रही हूँ। तभी मैंने उससे पूछा कि क्या तुम भी वर्जिन हो? तो उसने कहा कि हाँ.. मुझे अभी तक किसी ने भी नहीं छुआ है और ना ही मैंने किसी को कुछ करने दिया है। तो मैंने पूछा कि फिर मुझसे सेक्स के लिए कैसे मन बना लिया? तो उसने कहा कि आपकी कहानी मुझे बहुत पसंद आई और मैंने अपनी फ्रेंड से सुना था कि अनुभवी लड़के के साथ सेक्स करने में बहुत मज़ा आता है। आपने इतनी वर्जिन गर्ल के साथ सेक्स किया हुआ है और में भी वर्जिन हूँ इसलिए में आपके साथ सेक्स करना चाहती हूँ। मैंने उससे पूछा कि फिर कब मिलना चाहती हो? तो उसने कहा कि अगले सप्ताह उसकी फ्रेंड का जन्मदिन है और में रात को उसके घर पर ही रुकने वाली हूँ.. तो उस रात हम मिल सकते है.. अगर आप फ्री हो तो। फिर मैंने कहा कि में आ जाऊंगा.. लेकिन क्या उसके घर पर उसके माता, पिता नहीं होंगे? तो उसने कहा कि उसके माता, पिता बिज़नेस के काम से दो दिन के लिए चंडीगढ़ गये है। घर पर वो और उसके है और दादा, दादी नीचे के कमरे में सोते है और रात को ऊपर नहीं आते।

तो मैंने पूछा कि.. तुम्हारी फ्रेंड का क्या? तो उसने कह दिया कि वो अपने बॉयफ्रेंड के साथ साईड वाले रूम में रहेगी और में उससे यह कहूंगी कि आप मेरे बॉयफ्रेंड है फिर उसने पूछा कि क्या आप ज्यादा उम्र के तो नहीं लगते? तो मैंने कहा कि में जवान और सुंदर लड़का हूँ। तुम्हारी फ्रेंड को शक भी नहीं होगा। फिर हमने एक सप्ताह तक चेटिंग की और उसने अपना मोबाईल नंबर भी मुझे दे दिया था और देर रात को हमारी बातें भी होती थी और कभी कभी फोन सेक्स भी। फिर एक सप्ताह के बाद उसका मुझे शाम को कॉल आया कि वो अपनी फ्रेंड के घर जा रही है और वो रात को मुझे कॉल कर देगी। में उसके फोन का इन्तजार करने लगा। रात 11 बजे तक कोई कॉल नहीं आया। मुझे लगा कि वो पागल बना रही थी। फिर 11:15 पर उसका कॉल आया.. वो बोली कि आप आ जाओ मैंने अपनी फ्रेंड को बोल दिया है उसका फ्रेंड भी आ गया है। में आपको नीचे लेने आ जाउंगी.. आप मुझे कॉल कर देना। में बताये हुए एड्रेस पर गया और उसे कॉल किया तो वो नीचे आई और दरवाजा खोला तो मैंने देखा कि मेरे सामने बेहद ही सेक्सी और ब्यूटीफुल लड़की पिंक कलर की ड्रेस में थी। में उसे देखता ही रह गया। मैंने उससे पूछा तुम पारूल हो तो उसने कहा हाँ में ही हूँ.. वो थोड़ी परेशान थी और बोली की जल्दी ऊपर चलो कोई देख लेगा। में उसके साथ ऊपर चला गया। तब तक उसकी फ्रेंड के दादा, दादी सो चुके थे और वो अपने बोयफ्रेंड साथ अपने रूम में थी। पारूल मुझे दूसरे रूम में ले गयी.. वो खुश भी थी और परेशान भी। मैंने उससे पूछा कि तुम इतनी परेशान क्यों हो?

loading...

पारूल : मुझे बहुत डर लग रहा है।

में : लेकिन किस से?

पारूल : मेरी फ्रेंड ने मुझे अभी अभी बताया है कि पहली बार सेक्स करने पर बहुत दर्द होता है।

में : तुम डरो मत ऐसा कुछ भी नहीं होता और में हूँ ना.. में तुम्हे बिल्कुल भी दर्द नहीं होने दूंगा और थोड़ा बहुत होगा ज्यादा नहीं.. जिसे तुम आराम से सह सकती हो।

loading...

फिर मैंने उससे बातें की और करीब एक घंटे के बाद वो थोड़ी शांत हुई। मैंने उसे कंधे पर छुआ तो वो स्माईल करने लगी.. फिर मैंने उसे गर्दन पर किस किया तो उसने अपनी दोनों आंखे बंद कर ली। में उसे किस करते हुए आँखों पर गया और फिर होंठ पर। उसके होंठ गुलाब की तरह मुलायम थे और मैंने उसे स्मूच करना शुरू कर दिया। वो कुछ नहीं कर रही थी.. लेकिन में उससे लगातार स्मूच करता रहा। फिर उसका भी जवाब आने लगा.. उसने अपने होंठ खोल दिए। यार क्या टेस्ट था उसके होंठो में? फिर हमने 10 मिनट तक स्मूच किया और स्मूच करते करते मैंने उसके टॉप में हाथ डालकर उसके बूब्स को दबाने, सहलाने लगा वो बहुत ज्यादा मुलायम थे और धीरे धीरे उनकी निप्पल टाईट हो रही थी। जब मैंने उसके बूब्स को प्रेस किया तो वो धीर धीरे आवाज़ निकालने लगी, में समझ गया था कि उसे मज़ा आ रहा है। फिर मैंने उसे बेड पर लेटा दिया और उसके ऊपर आकर उसकी गर्दन पर किस करने लगा और किस करते हुए में नीचे उसके बूब्स पर टॉप के ऊपर से ही किस करने लगा और निप्पल अपने दांत से पकड़ने लगा। उसने मेरे चहरे को पकड़ लिया और बोली कि आराम से करो.. में आपकी ही हूँ। तो में और जोश में आ गया और उसके बूब्स पर किस करता रहा और फिर उसके टॉप को ऊपर उठाकर बूब्स को सक करने लगा। फिर जीभ को नाभि में डाल दिया। वो तो मेरे ऐसा करने से जैसे पागल हो गयी। तो उसने मुझसे कहा कि प्लीज़ और तड़पाओ मत अब मेरे साथ सेक्स करो।

में : इतनी जल्दी नहीं.. आज तुम्हे सेक्स के पूरे मज़े दूंगा जिसे तुम जिंदगी भर याद करोगी।

पारूल : तो ठीक है फिर आप जो करना चाहो करो में मना नहीं करूंगी.. लेकिन अब मुझसे कंट्रोल नहीं हो रहा।

में : तुम कंट्रोल में मत रहो.. आऊट ऑफ कंट्रोल हो जाओ।

पारूल : ह्म्‍म्म्मम अह्ह्ह।

फिर उसने अपनी आंखे बंद कर ली और पूरे पूरे मज़े लेने लगी.. तो मैंने उसका टॉप निकाल दिया और फिर ब्रा भी.. वो क्या लग रही थी बिना टॉप के एकदम सेक्सी.. मानो कि उसके शरीर के हर हिस्से को तराश कर बनाया हो। मैंने उससे कहा कि तुम बहुत ज्यादा सुंदर हो तो वो शरमा गई।

पारूल : आज पहली बार किसी ने मेरी इतनी ज्यादा तारीफ की है और वो भी इतने प्यार से.. आप सही में बहुत अच्छे हो।

फिर में उसके बूब्स और निप्पल चूसने लगा वो ज़ोर ज़ोर से जोश में आवाजे निकालने लगी और मेरे सर को बूब्स पर ज़ोर से दबा रही थी और कह रही थी कि और ज़ोर से चूसो राज। तो मैंने भी उसके बूब्स के निप्पल चूस चूसकर उसके गुलाबी निप्पल लाल कर दिए और में बहुत ज्यादा प्यार से सक कर रहा था। फिर नीचे नाभि पर किस करते हुए चूत तक गया और लोवर के ऊपर से ही उसकी चूत पर किस किया.. वो कामुक हो रही थी और किस करते ही लोवर गीला हो गया.. फिर मैंने लोवर को नीचे करना शुरू किया उसने मेरे दोनों हाथ पकड़ लिए। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

पारूल : प्लीज़ मुझे बहुत शरम आ रही है। प्लीज़ नीचे नहीं.. मैंने यह सब कभी नहीं किया।

में : मैंने ऊपर जो किया वो भी तुमने पहली बार किया था.. फिर क्यों तुम इतनी शरम महसूस कर रही हो?

तभी उसने हाथ हटा लिए और मैंने लोवर निकाल दिया और उसकी पेंटी पर किस करने लगा.. जो कि पूरी गीली थी और वो बहुत ज्यादा गरम भी हो रही थी। वो आहे भरने लगी और सिसकियाँ लेने लगी।

में : जान अभी से ही यह हाल है तो जब में तुम्हारी चूत चाटूंगा तब क्या होगा?

पारूल : राज अभी ही कंट्रोल नहीं हो रहा है.. तब तो में मार ही जाऊंगी।

में : में तुम्हे अभी नहीं मरने दूंगा.. क्योंकि अभी तो तुम्हे जन्नत के मज़े लेने है।

फिर मैंने उसकी पेंटी को अपने मुँह से निकाल दिया.. वाह क्या चिकनी चूत थी? उसकी गुलाबी, बहुत मुलायम और बहुत हॉट चूत.. में तो देखते ही उस पर टूट पड़ा और उसके दोनों पैरों को खोलकर चूसने लग गया।


जिसकी कहानी पढ़ी उसका नंबर यह से डाउनलोड करलो Install [Download]
loading...

और कहानिया

loading...