पैसों के लिए चुदवाया

loading...

मेरा नाम अक्षय (बदला हुआ) है, मैं कुल्लू, हिमाचल प्रदेश का रहने वाला हूँ। मेरी उम्र 19 साल है। मुझे पहले से ही मेरे दोस्त बोलते थे कि तेरा लंड बहुत ही बड़ा है और सच में मेरा लंड मेरे दोस्तों की अपेक्षा में बहुत बड़ा भी था।

मुझे लड़कियों में बहुत दिलचस्पी थी, मेरा मन उनके साथ सेक्स करने का करता था परन्तु मुझे कोई लड़की मिलती ही नहीं थी। वैसे मेरी बहुत सी गर्लफ़्रेंन्ड्स भी थी परन्तु मैं उनके साथ कुछ ऐसा नहीं कर सका। मैंने यह बात अपने मित्रों को भी बताई।

तो कुछ दिनों पहले मेरे एक मित्र ने मुझे एक लड़की की बात बताई, वह 20 वर्ष की थी, उस लड़की को पैसे की बहुत जरुरत थी और उस लड़की ने आज तक किसी के साथ भी सेक्स नहीं किया था, वह लड़की सेक्स करने को भी तैयार थी, तो मैंने उसकी सहायता करने का फैसला किया।

loading...

तो मैंने और मेरे दोस्तों ने उसे चोदने की योजना बनाई, वह लड़की इतनी सुंदर तो नहीं थी मगर उसका बदन कमाल का था।

मेरे दोस्तों ने उसे कॉल की और उसे कुल्लू में मिलने को कहा। हम तीन दोस्त थे, हमने अपने एक दोस्त का कमरा एक दिन के लिए माँगा था, हम उसे वहाँ ले गए।

वहाँ हमने उससे थोड़ी देर बात की और उसने हमसे अनुरोध किया कि यह बात कहीं नहीं पता लगनी चाहिये।

हम भी यही चाहते थे कि हमारे बारे में भी किसी को पता न चले और हम उसकी चुदाई भी कर लें।

loading...

हम तीनों दोस्तों ने यह सोचा कि हम सब इसे अकेले बारी-बारी से चोदेंगे, पैसों का इंतजाम मैंने किया था तो सबसे पहले मैंने उसके साथ सेक्स करने को कहा।

मेरे दोस्तों ने भी कोई आपत्ति नहीं जताई। मेरे दोनों दोस्त बाहर ही रुके और मैं उसे कमरे में ले गया और उसे उसके कपड़े खोलने को कहा।

वह थोड़ी सी डरी हुई थी क्यूंकि उसने आज तक किसी का लंड नहीं लिया था, तो मैंने कहा- डरो मत, हम कोई जबरदस्ती नहीं करेंगे। उसने अपने कपड़े उतारने शुरू कर दिए। मैं भी बहुत उत्तेजित हो रहा था और मेरा लंड भी उसकी चूत देखने के लिए बेक़रार था।

जैसे ही उसने अपनी कमीज निकाली, उसके चूचे मेरे सामने आ गए, उसने काले रंग की ब्रा पहनी थी, उसमें क्या क़यामत लग रही थी वो !

मैंने उसके चूचों को बाहर से ही दबाया तो मेरा लंड रह नहीं पाया और मैंने अपनी पैंट खोल दी और मैंने उसे उसका पजामा खोलने को कहा।

उसने थोड़ा शरमाते हुआ अपनी सलवार खोल दी और उसकी जालीदार पैंटी से उसकी चूत बिल्कुल साफ़ दिख रही थी। उसने अपनी चूत के बालों को शेव किया हुआ था।

मैंने उसे मेरा अंडरवीयर उतारने को कहा तो उसने जैसे ही मेरा अंडरवीयर खोला, वह मेरा लंड देख कर हैरान हो गई, क्यूंकि शायद उसने सोचा नहीं था कि 18 साल के लड़के का लंड भी इतना बड़ा हो सकता है।

मुझे उस समय ऐसा लग रहा था कि जैसे मैं स्वर्ग में हूँ। मुझे विश्वास नहीं हो रहा था कि मैं आज उस लड़की की चुदाई करने वाला हूँ।

मैंने उसकी ब्रा निकाल दी और उसके स्तनों को पागलों की तरह चूसने लगा। वो सिसकारियाँ भरने लगी- आ आ मह मह !

मुझे उसकी सिसकारियाँ सुन कर और भी जोश आने लगा और मैं उसके होठों को चूमने लगा।

मैंने जैसे ही अपनी एक उंगली उसकी चूत में डाली, तो वह चीख उठी।


जिसकी कहानी पढ़ी उसका नंबर यह से डाउनलोड करलो Install [Download]
loading...

और कहानिया

loading...