_

सविता भाभी का WhatsApp यहाँ से डाउनलोड करो और बाते करे पूरी नाईट सेक्सी भाभी से [Download Number ]


माँ का गेंगबेंग मेरे दोस्तों ने किया

loading...

हॅलो दोस्‍तो.. मेरा नाम अभी है, मैने आपको अपनी पिछली कहानी मे बताया था की कैसे मैने अपनी को नंगा करके चोदा. इस कहानी मे मै आपको बताना चाहता हु की कैसे मेरे दोस्‍तो ने मेरी मॉं के साथ गँगबँग किया. मै आपको अपने बारे मे बताता हुँ. मुझे सेक्‍स बहुत पसंद है, मै किसी से भी सेक्‍स कर सकता हु, अगर कोई लडका या लडकी मुझसे सेक्‍स चॅट या बात करना चाहता है तो वो मुझे मेल कर सकते है (आईडेन्‍टीटी डिस्‍कलोज नही होगी)

फॅमीली इन्‍ट्रोड्युक्‍शनः मै अभीचोदू – उमर 22, पापा – उमर 52, मेरी मॉ प्रिती- उमर 46, मेरी बहन- शिल्‍पा उमर 19, मेरी बहन- स्विटी उमर 17. मेरे पापा नौकरी के सिलसिले मे अक्‍सर बाहर ही रहते है.  मेरी मॉं प्रिती कितनी सेक्‍सी है. उसका रंग बिलकुल साफ है दुध जैसा. उसका फिगर 38-26-38 है. वो है तो 46 की पर लगती है 34-36 की. पापा घर से बाहर रहते है इसलिये मै ही अपनी मॉ की लंड की भुख मिटाता हु.

मेरा दोस्‍त, रमेश, सनी, लकी ऑर अरूण रोज मेरे घर आते थे और मेरी मॉ को देखा करते थे. वो सब मॉ को देख मुठ मारा करते थे. मुझे सब पता था की वो मेरे मॉ को देख के मुठ मारते है. वो मुझे ब्रॅन्‍डेड शराब पिलाते थे, रंडी चुदवाते थे और कभी कभी मुड बनने पर मै उनसे गांड भी मरवाता था. मै आपको बताना चाहता हु की मुझे लडकों के साथ भी सेक्‍स करने मे मजा आता है.

एक बार मैने सट्टा लगाया और मै उसमे सारे पैसे हार गया. मेरे उपर रू. 10000/- का कर्जा चढ गया. जिन लोगों से मैने सट्टा लगाने के लिये पैसे उधार लिये थे वो मुझे धमकी देने लगे. जब ये बात मैने अपने दोस्‍तों को बताई तो वो बोले की हम तुझे 10000 रू. दे देंगे पर तुझे हमारे लिये कुछ करना होगा. तुझे अपनी मॉ की चुत दिलानी होगी. मेरे पास और कोई रास्‍ता नही था. मैने कहा ठिक है लेकिन मेरी मॉं इस काम के लिये मानेगी नही. तो उन्‍होंने मुझे 1 गोली दी और बोले इसे अपनी मॉं को खिला देना. इससे उनको नशा चढ जायेगा और वो रांड कुछ नही कर पायेगी. मैने अगले दिन मॉ को चाय मे गोली मिलाकर दे दी. थोडी देर बाद मैने कमरे मे देखा तो मॉ सा रही थी. मैने मॉ को सोते हुए देखा तो अपने दोस्‍तों को फोन कर दिया. जब तक मेरे दोस्‍त आते तब तक मैने अपनी मॉ के बुब्‍स जोर जोर से दबाये. थोडी देर मे मेरे चार दोस्‍त आ गये. आते ही रमेश ने पुछा कहॉ है वो छिनाल.

मैने कहा कमरे मे. मेरी मॉ अपने बेड पर सोयी हु‍ई थी. वो पिंक नाइटी मे बहुत सेक्‍सी लग रही थी. तो मेरा दोस्‍त सनी बोला बहन के लोडे तेरी मॉ तो कमाल की है. जैसी ही सनी ने मॉ के चूचे पकडे तो मॉ को थोडा थोडा सा होश आ गया. तो रमेश बोला तु चिंता ना करेक्‍सी पर सोयी हु‍ई थी. वो पिक ÑfJÑJÑÑÑfÕlÑ)

ये अभी भी नशे मे है. फिर उसने मॉ की नाईटी उतार दि. मॉ ब्‍लॅक कलर की ब्रा-पॅन्‍टी पहने हुई थी. वो बहुत ही सेक्‍सी लग रही थी. फिर उन्‍होने मेरी मॉ को नंगा कर दिया. मेरी मॉ अब हमारे बिच मे बिलकुल नंगी पडी थी. उसे ऐसा देख मुझे बहुत शरम आ रही थी और साथ मे मजे भी. सनी मेरी मॉ की लेफ्ट बुब पे ब्‍लॅक तील देख के पागल हो गया और मेरी मॉ के चूचे पकडकर जोर जोर से मसलने और चूसने लगा. रमेश ने पिछे से मेरी मॉ की गांड पे थप्‍पड मार रहा था. थप्‍पड की आवाज पूरे रुम में गुंज रही थी.

अरूण मॉ को लिप कीस करने लगा और लकी मॉ की पुसी चाटने लगा. वो सारे मॉ को पागलों की तरह चाट चुस रहे थे. जैसे कभी कोई नंगी लडकी ना देखी हो. फिर सबने अपने कपडे उतार दिये. उन सब का लंड 9-10 इंच लंबा था. इतने बडे लंड देख के मेरी भी गांड मरवाने का जी कर गया. लेकिन उनका ध्‍यान सारा मॉ पर था. उन्‍होने मॉ को बिच मे बैठाया और चारो अपने मोटा काला लंड लेके खडे हो गये. फिर रमेश बोला चूस बहन की लोडे और मॉ ने फटाफट उनका लंड चुसना शुरू कर दिया. मै यह देखकर हैरान था की मॉ नशे मे भी उनके लंड को किसी प्रोफेशनल रांड की तरह चूस रही थी. मॉ ने बारी बारी सबका लंड चूसा. फिर सनी मॉं को पकडा और बोला ‘’एैसे नही छिनाल पुरा मुह मे ले’’ फिर उसने अपना पूरा लंड मॉ के मुह मे दे दिया. उसका लंड मॉ के गले तक पहूच गया. मॉ को सास भी नही आ रही थी.

फिर अरूण ने मा का मुह खोला वत मुह मे थुक दिया. फिर सब ने बारी बारी मॉ के मुह मे थुका. मॉ उनका सारा थुक पि गयी. मै भी यह देख के नंगा हो के मुठ मारने लगा. फिपर लकी ने मो को लेटाया औार मॉ के बूर मे अपना 10 इंच का लंड दे दिया. लंड जाते ही मॉ की चिख निकल गयी.

मॉः आहहहह अहहहह ओहहइइइ

लकीः साली रंडी लगता है तेरी पुदी मे कभी इतना बडा लंड नही गया.

रमेशः इस छिनाल की गांड तो देख एकदम मलाई जैसी परी है.

फिर लकी ने अपना लंड मॉ की बूर मे डाल दिया. अरूण ने पिछे से मॉ की गांड मारने लगा. मॉ दर्द के मारे तडप रही थी.

सनीः इस रंडी को देखो कैसे आह अह कर रही है. फिर उसने अपना लंड मॉ के मुह मे डाल दिया.

मॉः आहहहह अहहहह ओहहइइइ

मॉ का सारा बदन लाल हो गया था.

फिर रमेश ने मुझे अपनी ओर खिचा और अपना लंड मेरी गांड मे डाल दिया. बेड के एक तरफ मे मॉ चुदा रही थी और एक तरफ मै अपनी गांड मरवा रहा था. उन्‍होंने मुझे और मेरी मॉ को दो घंटे तक चोदा. मेरी मॉ पसीने से भीग चुकी थी और पूरी लाल लाल हो गई थी. फिर उन्‍होने अपना सारा मुत मॉ पे उपर निकाल दिया और मॉ किसी रंडी की तरह मुत चाट गयी. फिर वो अपने पहन के वहा से चले गये. मै जब बाहर का गेट बंद करके आया तो देखा मॉ आराम से बैठी थी. और अपनी बूर साफ कर रही थी. मै डर गया लगता है मॉ को सब कुछ पता चल गया है की उसके साथ क्‍या क्‍या हुआ है.

मैः मॉ आपको होश कब आया.

मॉः मादरचोद मै नशे मे कब थी. मैने तुझे चाय मे गोली मिलाते देख लिया था और फोन से सारी बाते भी सुन ली थी. और एक बात और घर मे कोई ना हो तो मुझे सिर्फ रंडी या छिनाल ही कहा कर.

मैः तो रंडी जब तुझे सब कुछ पता था तो तुने ये नाटक क्‍यों किया.

मॉः इतने बडे बडे मोटे मोटे लंड से चुदाने का मौका कौन छोडता.

फिर मै मॉ को किस करने लगा.

loading...