मालकिन की कूवारी चुत कि चुदाई

loading...

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम आरूश है और में पुणे का रहने वाला हूँ। दोस्तों यह पहली कहानी है और में कामुकता डॉट कॉम का पिछले दो साल से पाठक हूँ।

मुझे इसकी सेक्सी कहानियाँ पढ़ना बहुत अच्छा लगता है और आज में आप सभी के सामने अपनी गर्लफ्रेंड की पहली चुदाई की उस घटना को सुनाने जा रहा हूँ, जिसमें मैंने अपनी गर्लफ्रेंड को चोदा और बहुत मज़े किए और में उम्मीद करता हूँ कि यह चुदाई की सच्ची घटना आप सभी को जरुर पसंद आएगी, क्योंकि यह बहुत हॉट चुदाई है।

अब आपको ज़्यादा बोर ना करते हुए सीधे में अपनी आज की कहानी पर आता हूँ। दोस्तों यह बात उस समय की है जब में कॉलेज के दूसरे साल में अपनी पढ़ाई कर रहा था।

loading...

दोस्तों आज से चार साल पहले में जहाँ पर मेरी ट्यूशन के लिए जाता था तो वहां पर पास में 12th के स्टूडेंट्स की भी ट्यूशन चलती थी और वो लड़की भी वहां पर आती थी। उस वक़्त उसकी उम्र 19 वर्ष की थी और उसका नाम इशिका था और वो बहुत सेक्सी माल थी।

दोस्तों उसके फिगर का साईज 32-28-34 था, वो दिखने में भी बहुत सुंदर थी और वो मुझे पहली नजर में ही भा गई थी |

और में उसके आगे-पीछे घूमने लगा और उससे बात करने के मौके ढूंढने लगा था, वो भी अब मेरी तरफ कभी कभी मुस्कुरा जाती थी और उसकी नजरे भी अब मुझ पर ही टिकी रहती थी, लेकिन वो मुझे देखकर जानबूझ कर अनदेखा करने लगी थी और फिर दस दिन बाद मैंने उसे एक ग्रीटिंग दिया और अपने प्यार के बारे में बताया, मैंने उस ग्रीटिंग पर अपना मोबाईल नंबर भी लिख दिया था।

फिर अगले दिन मेरे मोबाइल पर उसका फोन आया और उसने मुझसे कहा कि वो भी मुझे बहुत पसंद करती थी, लेकिन बस वो मुझसे पहल चाहती थी। दोस्तों उसके मुहं से यह बात सुनकर में मन ही मन बहुत खुश हुआ और मैंने उससे कहा कि में तुम्हें बहुत प्यार करता हूँ और तुम मुझे बहुत अच्छी लगती हो, क्या तुम भी मुझे चाहती हो? तो उसने तुरंत मुस्कुराकर मुझे हाँ में अपना जवाब दिया।

loading...

दोस्तों अब में अपनी इसके आगे की पूरी बात थोड़ा विस्तार से बताता हूँ। दोस्तों कुछ दिन ऐसे चेटिंग और फोन पर बात करने के बाद मैंने उससे मिलने को कहा और वो भी मुझसे मिलना चाहती थी, लेकिन वो मुझसे कहने लगी कि उसके पापा की बहुत जानपहचान है तो इसकी वजह से हम बाहर नहीं मिल सकते, क्योंकि उसके पापा के मिलने वाले उसे बहुत अच्छी तरह से जानते है।

दोस्तों मेरा नसीब उस वक़्त बहुत अच्छा था कि में उस वक्त अपने एक दोस्त के साथ फ्लेट में किराए से रहता था तो जब मैंने उससे मेरे फ्लेट में आने के लिए कहा तो वो वहां पर आने के लिए तुरंत मान गई।

फिर वो मेरे फ्लेट पर आई, वाह वो क्या सेक्सी माल लग रही थी, उसने सफेद कलर का बिल्कुल टाईट टॉप और टाईट जींस पहनी हुई थी और उसे देखकर मेरा मन तो कर रहा था कि बस अभी इसी वक्त उसे अपनी गोद में उठाकर बिस्तर पर ले जाऊँ, लेकिन मैंने बहुत कंट्रोल किया।

फिर वो रूम के अंदर आ गई और कुछ देर हमने इधर उधर की बात की और फिर उसने मुझसे कहा कि वो अपने घर पर घरवालों से अपनी दोस्त के घर पर जाने का बहाना बनाकर आई है और उसे जल्दी अपने घर जाना होगा। फिर जब वो फ्लेट देखने के लिए उठी तो में भी उठकर उसके पीछे पीछे चला गया और मैंने उसे पीछे से उसकी कमर पर हाथ डालकर पकड़ लिया।

फिर उसने हड़बड़ाहट में मुझसे पूछा कि अगर कोई यहाँ पर आएगा तो? मैंने कहा कि अब यहाँ पर कोई नहीं आएगा, क्योंकि मेरा दोस्त शाम तक वापस आएगा।

अब मैंने उसके होंठो पर होंठ रख दिए और किस करने लगा, वो भी मेरे बालों से खेलते हुए मेरा पूरा पूरा साथ देने लगी और अब मैंने भी एक अच्छा मौका देखकर अपनी जीभ को उसके मुहं में डाल दिया और उसकी जीभ को चूसने लगा और अब में उसके टॉप के ऊपर से बूब्स को दबाने लगा, वाह दोस्तों क्या बूब्स थे और वो क्या सेक्सी माल था और वो अब धीरे धीरे गरम होने लगी थी।

फिर मैंने मन ही मन में सोचा कि यही एकदम सही समय है और में उसे अपनी गोद में उठाकर बेडरूम में ले गया, हमारा किस अब भी लगातार चल रहा।

तभी मैंने महसूस किया कि वो अब मेरी जीन्स का बटन खोल रही थी तो में और ज़ोर से किस करने लगा और हमारा सलाइवा इधर उधर होने लगा। फिर उसने जैसे ही मेरा लंड पकडकर देखा तो उसके मुहं से आहह वाह कितना बड़ा लंड है कि आवाज़ निकली और मेरे भी मुहं से आहहह उह्ह्ह की आवाज़ बाहर आ गई और अब मैंने उससे पूछा कि क्या तुम वर्जिन हो? तो उसने तुरंत हाँ कहा।

दोस्तों में तो अब उसके मुहं से यह शब्द सुनकर जैसे आसमान में उड़ने लगा था, में उसके मुहं से यह बात सुनकर बहुत खुश था। फिर हमने एक दूसरे के कपड़े उतार दिए और मैंने देखा कि उसने अंदर सफेद कलर की ब्रा और पेंटी पहनी हुई थी।

मैंने अब झट से उसकी ब्रा का हुक खोल दिया और ब्रा को उतारकर एक साईड में फेंक दिया और मैंने मेरे भी सभी कपड़े उतार दिए।

अब हम पूरे नंगे हो गये और मैंने एक बार फिर से ज़ोर ज़ोर से किस्सिंग शुरू की तो वो बहुत गरम हो रही थी और उफ्फ्फ अरूश आहहहह की आवाजें करते हुये मेरी जीभ को चूस रही थी और अपना एक हाथ नीचे ले जाकर मेरे लंड को ऊपर नीचे कर रही थी और लंड को सहला रही थी।

फिर मैंने उससे अपना लंड मुहं में लेने को कहा तो उसने तुरंत हाँ कहकर झट से मेरा लंड अपने मुहं में लेने लगी, वाह दोस्तों क्या चूस रही थी वो एकदम लोलीपोप की तरह और जिसकी वजह से पच पच की आवाजें आ रही थी,|

अब में उसके बूब्स को और ज़ोर ज़ोर से दबाने लगा तो वो भी मेरे लंड के साथ साथ अब मेरे आंड को धीरे धीरे दबाती सहलाती और लंड चूसती रही। फिर कुछ देर बाद हम दोनों 69 पोज़िशन में आ गये।

अब वो जोश में आकर बहुत गरम हो चुकी थी। फिर मैंने उसकी चूत को बहुत ध्यान से देखा तो उस पर हल्के से बाल थे और वो अंदर से बिल्कुल गुलाबी थी।

फिर मैंने जैसे ही अपने होंठो को उसकी चूत के दाने पर रखा तो वो एकदम से चीख उठी, आअहह अरूश आईईईइ मर गई तुम यह क्या कर रहे हो? और वो मेरा सर पकड़कर अपनी चूत पर दबाने लगी और मेरे लंड को बहुत ज़ोर ज़ोर से जल्दी जल्दी चूसने लगी, वो बहुत जोश में थी और करीब बीस मिनट के बाद वो झड़ गई।


जिसकी कहानी पढ़ी उसका नंबर यह से डाउनलोड करलो Install [Download]
loading...

और कहानिया

loading...