Hindi Sex Kahaniya & Sex Pictures

Desi Chudai Kahani, Indian Sex Stories, Chudai Pics ,College Girls Pics , Desi Aunty-Bhabhi Nude Pics , Big Boobs Pics

मुझे एक और लंड चाहिए बेबी

हेल्लो दोस्तों मै फिर लौट आया हूँ एक नयी कहानी के साथ वैसे आप तो मेरा नाम जानते ही होगे अगर जो लोग नए है मै फिर से बता देता हूँ मेरा ना राहुल है आप लोगो ने मेरी ढेर सारी कहानियां पढ़ी मुझे ढेर सारे मेल भी आये कुछ भाई लोग रिक्वेस्ट कर रहे थे की कोई भाभी हो तो दिला दू तो उनको मै बताना चाहता हूँ दोस्तों मै भी आपके तरह ही था बस मस्ताराम पर कहानियां क्या लिखना स्टार्ट किया मेरी तो किस्मत ही बदल गयी मुझे कई लडकियों के मेल भी आये जिन्हें मै इसके बाद पोस्ट करुगा वैसे ये कहानी भी काफी मजेदार है चीनी की तरह मिक्स है मज़ा आया तो कमेंट दे देना |

मैं आपको एक सच घटना सुना रहा हूँ इसकी हकीकत में बिल्कुल ही मिलावट नही है जैसा की आप लोग जानते है की मैं एक मैनेजमेंट इंस्टिट्यूट में प्रोफ़ेसर हूँ मेरे अंडर में बहुत से विद्यार्थी पीएचडी करते है जब उनकी पीएचडी हो जाती है तब वे लोग कुछ न कुछ मुझे दक्षिणा में देते है एक बार मेरे अंडर में एक लड़की ने पीएचडी करना सुरु किया कई बार मेरे पास आती थी मैंने उसे खूब गाइड किया आखिर कर उसकी पीएचडी स्वीकार कर ली गयी इस तरह उसे लोग डॉक्टर रागिनी कहने लगे आप यह कहानी मस्ताराम.नेट पर पढ़ रहे है | रागिनी एक खूबसूरत औरत बन चुकी थी उसकी चून्चियों बड़ी बड़ी हो गयी थी उसके नाप की ब्रा बड़ी मुस्किल से बाज़ार में मिलती थी चूतड बड़े बड़े हो गए जांघे मोटी मोटी सुडौल निकल आयें थी चेहरा बहुत सुंदर था सच कहू मैं जब उसे देखता था तो मेरा लंड खडा हो जाता था पीएचडी की डिग्री मिलने पर रागिनी बहुत खुश थी एक दिन मेरे पास दोपहर में ही आ गयी छुट्टी का दिन था मैंने घर पर बैठा कर अपनी खुशी ज़ाहिर की वह बोली सर, यह सब आपकी ही बदौलत सम्भव हो पाया है मैं तो आपकी रिनी हूँ और मैं वह ऋण उतरना चाहती हूँ मैंने कहा कैसे तो उसने झट से कह दिया अपनी चूत देकर मैंने कहा रागिनी यह क्या कह रही हो तो उसने कहा की मैं सच कह रही हूँ सर, केवल चूत ही नही साथ में अपनी चूंची भी और गांड भी यह कह कर वह मेरे सामने ही कपड़े उतरने लगी मैं उसे नंगी देखना चाहता था इसलिए उसे मना नही किया देखते ही देखते वह बिल्कुल नंगी हो गयी मेरा तो लंड साला उंदर ही उंदर खड़ा हो गया था उसने मेरे हाथ पकड़ कर अपनी चून्चियों पर रख दिया और बोली सर, इन्हे खूब जोर जोर से मसलिये ना फिर वह मेरे भी कपड़े उतरने लगी अब मैं एकदम नंगा हो चुका था उसने मेरा लंड पकड़ लिया और सहलाते हुए कहा सर आपका लौड़ा तो साल बहन चोद बड़ा तगड़ा है देखो कैसे फुफकार मार रहा है उसने मुझे पलंग पर लिटा दिया और मेरा लौड़ा चूसने लगी बोली भोसड़ी के मेरे सर साले हरामी बेटी चोद अभी तक अपना लौड़ा छिपा कर रखा था पहले दिखाया होता तो अब तक कई बार चुदवा चुकी होती ले साले अब तू मेरी चूत चाट कर मज़ा लेले हम दोनों ६९ की स्थिति में हो गए मैं उसकी बुर और वह मेरा लौड़ा चटाने में लग गए मैंने कहा तू बुर चोदी अभी तक अपनी चूत को क्यों छिपा रखा था उसने कहा अबे माँ के लौडे पहले मेरी चूंची कस के चूस ले फिर बतलाती हूँ थोडी देर में रागिनी ने लौड़ा पकड़ कर अपनी चूत में घुसेड लिया बोली ले जल्दी जल्दी चोद पुरा लौड़ा बुर में घुसेड दे मैं सतासत गचागच फचफच चोदने लगा थोडी देर में वह उठी और अपनी गांड ऊपर करके बोली बहन चोद प्रोफ़ेसर अब तू मेरी चूत पीछे से चोदो मैं चोदने लगा फिर वह घूम गयी और अपना मुह पुरा खोल कर मेरा लौड़ा मूठी में लेकर सड़का मारने लगी लौड़ा एकदम से उसके मुह में ही झड़ गया रागिनी झड़ते हुए लंड को चाट चाट कर साफ कर दिया | आप यह कहानी मस्ताराम.नेट पर पढ़ रहे है |
फिर हम दोनों ने नहा धोकर खाना खाया करीब करीब एक घंटे बाद रागिनी बोली सर आज से मेरी चूत मेरी चूंचियों मेरी गांड मेरा मुह मेरा तन मन सब आपको गुरु दक्षिणा में देती हूँ आप जब चाहें जहाँ चाहें मुझे चोद सकते है और आप किसी और से भी मुझे चुदवा सकते है सर मैं आज यह जान गयी की आपका लंड बड़ा जबरदस्त है यह किसी भी और कैसी भी चूत को जमकर चोदने की छमता रखता है अब आप मुझे यह बतलाये की मेरे कॉलेज में आप किस लड़की को चोदना पसंद करेंगे मैंने कहा सुभागिनी को मगर वह बड़ी शर्मीली लड़की है कुछ बोलेगी नही तो मज़ा नही आएगा उसने कहा सर यह आपको किसने बताया की सुभागिनी शर्मीली है वह तो माथेर चोद बड़ी गन्दी गन्दी बातें करती है लंड बुर चूत झांट चुदाई चूंची आदि सब उसके जबान पर हमेसा रहता है मैं वादा करती हूँ की सुभागिनी खूब मस्त होकर भद्दी भद्दी गालियाँ सूनाते हुए आपसे गांड उछल उछल कर चुद्वायेगी तो सर अबकी सनिवार को प्रोग्राम बना लेते है आप अपने चेलों को बुला लीजिये मेरे पास तीन चेले है जिनके लंड मेरे लंड की तरह मजबूत है वह बोली तो फिर मैं एक और लड़की गौरी को बुला लेती हूँ..

कहानी जारी है… आगे की कहानी पढ़ने के लिए निचे दिए गए पेज नंबर पर क्लिक करे |

गतांग से आगे ..
अगले सनिवार को सभी लोग मेरे घर पर आ गए रागिनी ने सब से पहले ही यह बता दिया था की सभी लोग अपनी अपनी झांटे बना कर ही आयें सुभागिनी बोली मैं सबसे पहले इस बेटी चोद प्रोफ़ेसर को नंगा करती हूँ और देखती हूँ की इसका लंड कितना बड़ा है यह कह कर पहले सुभागिनी ही नंगी हो गयी फिर मुझे नंगा किया मेरा लंड हाथ में लेकर हिलाने लगी लौड़ा साला टनाटन खड़ा हो गया उधर रागिनी ने उन्तीनो चेलों को नंगा कर दिया राका जैकी और सलमान अब चार लंड और दो चूत मैदान में थे | आप यह कहानी मस्ताराम.नेट पर पढ़ रहे है | सुभागिनी ने हाथ बढ़ा कर सलमान का लंड पकड़ लिया बोली अरे यह तो कटा लंड है देखो कितनी जल्दी खड़ा हो गया भोसड़ी का रागिनी के पास भी दो लंड थे एक राना का और दूसरा जैकी का उन्दोनो ने दोदो लंड से खूब मस्ती में आकर चुदवाया अब लंड बदल गए सुभागिनी ने राना और जैकी के लंड अपने दोनों हाथों से थाम लिया और रागिनी ने मेरा और सलमान का उसे दोनों लंड बड़े मस्ताने लग रहे थे बोली सर दो दो लंड से चुदवाने में जायदा मज़ा आता है उधर सुभागिनी की चूत में एक लंड था दूसरा उसके मुह में वह लंड को मुह से निकाल कर बोली सर अभी मेरी गांड खली पड़ी है मुझे एक और लंड चाहिए मैं तो तीन तीन लंड से चुदवाने में माहिर हूँ मैंने कहा रागिनी वास्तव में सुभागिनी बुर चोदी बड़ी चुदक्कड औरत है आज मुझे मालूम हुआ की लड़कियां कितनी छुपी रुस्तम होती है इतने में हम चारों के लंड एकदम से उनदोनो के मुह में झड़ गए
दो लंड से चुदाई

आशिया बोली अम्मी देखो आज मैं सुहेल अंकल से चुदवौंगी उनसे कह देना की अपने साथ असलम को भी लेते आयें क्योकि मुझे उसका लंड बहुत पसंद है अब मुझे दो दो लंड से चुदवाने में ही मज़ा आता है अम्मी बोली तो मैं फिर क्या करूंगी आशिया ने उत्तर दिया तुम मेरे शौहर से चुदवा लेना उसका लौडा तो तुमको पसंद है न साथ में खालू को ले लेना मैं जानती हूँ की तुम उनसे अच्छी तरह चुदवाती हो
यह कह कर आशिया चली गयी दरअसल वे दो नो माँ बेटी एक साथ चुदवाने में बड़ी माहिर हो चुकी है क्यों की लंड बदल बदल कर चुदवाने का दो नो को शौक हो गया है घर भर के लौडे सभी दोनों को चोद चुके है यहाँ तक कि आशिया अपने बाप से भी चुदवाती है जब पहली बार उसकी माँ ने कहा की आशिया ले अब तू अपने अब्बा का लंड पकड़ तो पहले आशिया कुछ संकोच कर गयी फिर उसकी माँ ने बताया की तू लंड बड़े शौक से पकड़ ले चुदवा भी ले क्योंकि यह तुम्हारे असली बाप नही है तो आशिया ने पूंछा फिर मेरा असली बाप कौन है उसकी माँ ने उत्तर दिया अर्री आशिया अब तू ही बता की हर रोज तीन तीन चार चार लंड जब मुझे चोदेंगे तो मैं कैसे यह पता लगा लूँगी की तेरा बाप कौन है लेकिन एक बात सच है कि तेरा बाप कोई हलब्बी लंड है वह लंड किसका है यह पता नही है मुझे लगता है कि वह लंड जबरदस्त था क्यंकि वह लंड चोदने में सबसे आगे था और अब तेरी चूत भी चुदवाने में सबसे आगे है आशिया बोली मेरी भोसड़ी की अम्मी माँ की लौड़ी तेरी बहन की चूत सब साली तूने ही तो सिखाया है अब तो मैं रंडी की तरह चुदवाती हूँ कोई कितना भी तगड़ा लंड क्यों न हो मैं उसे अपनी चूत की भट्टी में डाल कर भून डालती हूँ तभी तो मेरी चूत से भुने हुए बैगन की तरह लंड निकलते है
आशिया के जाने के बाद उसका शौहर अरबाज आगया और अपनी सासू माँ से बोला की आशिया कहाँ है तो उसने बताया की वह तो चली गयी है अब शाम को ही आएगी तो अरबाज बोला अम्मी मैं तो अपने दोस्त शाहिल को लेकर इसलिय आया हूँ की वह मेरी बीवी को चोद ले क्योंकि सारी रात मैंने उसकी बीवी को चोदा है
सासू:- क्या उसकी चूत तुमको ज्यादा अच्छी लगी ?
अरबाज :- चूत नही, अम्मी वह लौडा बड़े प्यार से चूसती है और उसके चुदवाने का अंदाज़ बड़ा मस्ताना है
सासु:- तो उसका मर्द क्या कर रहा था ?
अरबाज:-वह अपनी भाभी को मेरे सामने चोद रहा था
सासु:- तो तुमने उसकी भाभी को नही चोदा क्या?
अरबाज:- अरे मेरी सासू माँ भला कोई औरत मेरे सामने नंगी पड़ी हो और मैं उसको चोदूं नही ऐसा कभी हो सकता है क्या?
सासु:- तो तू यह बता भोसड़ी के तेरी माँ की बुर चोदों साले हरामी अगर मेरे सामने दोदो मर्द साले लौडा चूत की बात कर रहे हो तो क्या मैं उनके लौडे देखे बगैर रह सकती हूँ चलो तुम दोनों जल्दी से नंगे हो जाओ और मेरी एक एक चूंची पीने लगो मैं देखती हूँ की तुम्हारे लंड कितने बड़े है अरबाज का लंड तो मुझे चोद चुका है लेकिन आज मेरे सामने शाहिल का लौड़ा नया होगा
आशिया की माँ नसिफा शाहिल का लंड पकड़ कर हिलाने लगी उधर अरबाज का लौडा चोदने के लिए तैयार हो गया नसिफा बोली मेरे चोदू दामाद तू अपना लंड मेरी चूत में घुसेड दे मादर चोद और जल्दी जल्दी चोद डाल मेरी चूत को अरबाज बोला तुम दोनों माँ बेटी चुदवाने में बड़ी मस्त हो
नसिफा :- शाहिल क्या तुमने मेरी बेटी को कभी चोदा है ?
शाहिल :- नही कल जब तुम्हारी बेटी का शौहर बीवी को मेरे सामने चोद रहा था तो मैंने कहा था कल मैं तुम्हारी बीवी को चोदूंगा इसी शर्त पर मैंने अपनी बीवी को इससे चुदवाया और जब मैं इसकी बीवी को चोदने के लिया आया तो बीवी तो नही मिली उसकी माँ जरूर मिल गयी बुर चोदी अब मैं तुझे चोद चोद कर भरता बना दूंगा लेकिन अगर तेरी बेटी भी साथ होती तो उसे भी अपने मस्ताने लंड का मज़ा चखा देता
अरबाज:- यार गिला मत कर मेरी बीवी स्वयम तुमसे चुदवाने आएगी वह साली अपनी से ज्यादा चुदक्कड़ है अभी तू पीछे से मेरी बुर चोदी सासू को चोद साले बहन के लौडे
अरबाज और शाहिल ने मिलकर नसिफा को खूब चोदा और दोनों लंड नसिफा के प्यार में मस्त हो गए
रात को करीब ८.०० बजे आशिया आ गयी उसने देखा की उसके अंकल सुहेल बैठे है और उनके साथ उनका दोस्त असलम भी है आशिया समझ गयी की ये दोनों मुझे चोदने आए है
आशिया ;- यार सुहेल अंकल अब क्या मुझे चुदवाने के तुम्हे बार बार बुलवाना पड़ेगा क्या तुम्हारा लौडा मेरी चूत चोद कर थक गया है क्या?
सुहेल :- नही मेरी रानी बुर चोदी आशिया मेरा लंड तो तुम्हारे नाम से ही खड़ा हो जाता है ले तू लंड चूसती जा मैं तुझे सारी कहानी बताता जाता हूँ
आशिया :- नही यार मैं पहले असलम का लंड लूँगी क्योकि यह मुझे कई दिनों के बाद मिला है
देखते ही देखते तीनो नंगे हो गए आशिया असलम का लंड सहलाने लगी सुहेल उसकी चूत चाटने लगा
आशिया :- बहन चोद असलम तेरा लंड तो कुछ् ज्यादा मोटा हो गया है मुझे मोटे मोटे लंड बड़े पसंद है
असलम:- जब इतनी सारी खूबसूरत औरते मेरे लंड को हिला हिला कर प्यार करेंगी तो साल मोटा हो ही जाएगा सुहेल:- आशिया भी लंड से खूब मस्ती करती है यार
इतने में आशिया ने देखा की उसकी माँ नसिफा अपने दोनों हाथो में एक एक लंड पकडे हुए आ रही

कहानी जारी है… आगे की कहानी पढ़ने के लिए निचे दिए गए पेज नंबर पर क्लिक करे |

गतांग से आगे ..
अगले सनिवार को सभी लोग मेरे घर पर आ गए रागिनी ने सब से पहले ही यह बता दिया था की सभी लोग अपनी अपनी झांटे बना कर ही आयें सुभागिनी बोली मैं सबसे पहले इस बेटी चोद प्रोफ़ेसर को नंगा करती हूँ और देखती हूँ की इसका लंड कितना बड़ा है यह कह कर पहले सुभागिनी ही नंगी हो गयी फिर मुझे नंगा किया मेरा लंड हाथ में लेकर हिलाने लगी लौड़ा साला टनाटन खड़ा हो गया उधर रागिनी ने उन्तीनो चेलों को नंगा कर दिया राका जैकी और सलमान अब चार लंड और दो चूत मैदान में थे | आप यह कहानी मस्ताराम.नेट पर पढ़ रहे है | सुभागिनी ने हाथ बढ़ा कर सलमान का लंड पकड़ लिया बोली अरे यह तो कटा लंड है देखो कितनी जल्दी खड़ा हो गया भोसड़ी का रागिनी के पास भी दो लंड थे एक राना का और दूसरा जैकी का उन्दोनो ने दोदो लंड से खूब मस्ती में आकर चुदवाया अब लंड बदल गए सुभागिनी ने राना और जैकी के लंड अपने दोनों हाथों से थाम लिया और रागिनी ने मेरा और सलमान का उसे दोनों लंड बड़े मस्ताने लग रहे थे बोली सर दो दो लंड से चुदवाने में जायदा मज़ा आता है उधर सुभागिनी की चूत में एक लंड था दूसरा उसके मुह में वह लंड को मुह से निकाल कर बोली सर अभी मेरी गांड खली पड़ी है मुझे एक और लंड चाहिए मैं तो तीन तीन लंड से चुदवाने में माहिर हूँ मैंने कहा रागिनी वास्तव में सुभागिनी बुर चोदी बड़ी चुदक्कड औरत है आज मुझे मालूम हुआ की लड़कियां कितनी छुपी रुस्तम होती है इतने में हम चारों के लंड एकदम से उनदोनो के मुह में झड़ गए
दो लंड से चुदाई

आशिया बोली अम्मी देखो आज मैं सुहेल अंकल से चुदवौंगी उनसे कह देना की अपने साथ असलम को भी लेते आयें क्योकि मुझे उसका लंड बहुत पसंद है अब मुझे दो दो लंड से चुदवाने में ही मज़ा आता है अम्मी बोली तो मैं फिर क्या करूंगी आशिया ने उत्तर दिया तुम मेरे शौहर से चुदवा लेना उसका लौडा तो तुमको पसंद है न साथ में खालू को ले लेना मैं जानती हूँ की तुम उनसे अच्छी तरह चुदवाती हो
यह कह कर आशिया चली गयी दरअसल वे दो नो माँ बेटी एक साथ चुदवाने में बड़ी माहिर हो चुकी है क्यों की लंड बदल बदल कर चुदवाने का दो नो को शौक हो गया है घर भर के लौडे सभी दोनों को चोद चुके है यहाँ तक कि आशिया अपने बाप से भी चुदवाती है जब पहली बार उसकी माँ ने कहा की आशिया ले अब तू अपने अब्बा का लंड पकड़ तो पहले आशिया कुछ संकोच कर गयी फिर उसकी माँ ने बताया की तू लंड बड़े शौक से पकड़ ले चुदवा भी ले क्योंकि यह तुम्हारे असली बाप नही है तो आशिया ने पूंछा फिर मेरा असली बाप कौन है उसकी माँ ने उत्तर दिया अर्री आशिया अब तू ही बता की हर रोज तीन तीन चार चार लंड जब मुझे चोदेंगे तो मैं कैसे यह पता लगा लूँगी की तेरा बाप कौन है लेकिन एक बात सच है कि तेरा बाप कोई हलब्बी लंड है वह लंड किसका है यह पता नही है मुझे लगता है कि वह लंड जबरदस्त था क्यंकि वह लंड चोदने में सबसे आगे था और अब तेरी चूत भी चुदवाने में सबसे आगे है आशिया बोली मेरी भोसड़ी की अम्मी माँ की लौड़ी तेरी बहन की चूत सब साली तूने ही तो सिखाया है अब तो मैं रंडी की तरह चुदवाती हूँ कोई कितना भी तगड़ा लंड क्यों न हो मैं उसे अपनी चूत की भट्टी में डाल कर भून डालती हूँ तभी तो मेरी चूत से भुने हुए बैगन की तरह लंड निकलते है
आशिया के जाने के बाद उसका शौहर अरबाज आगया और अपनी सासू माँ से बोला की आशिया कहाँ है तो उसने बताया की वह तो चली गयी है अब शाम को ही आएगी तो अरबाज बोला अम्मी मैं तो अपने दोस्त शाहिल को लेकर इसलिय आया हूँ की वह मेरी बीवी को चोद ले क्योंकि सारी रात मैंने उसकी बीवी को चोदा है
सासू:- क्या उसकी चूत तुमको ज्यादा अच्छी लगी ?
अरबाज :- चूत नही, अम्मी वह लौडा बड़े प्यार से चूसती है और उसके चुदवाने का अंदाज़ बड़ा मस्ताना है
सासु:- तो उसका मर्द क्या कर रहा था ?
अरबाज:-वह अपनी भाभी को मेरे सामने चोद रहा था
सासु:- तो तुमने उसकी भाभी को नही चोदा क्या?
अरबाज:- अरे मेरी सासू माँ भला कोई औरत मेरे सामने नंगी पड़ी हो और मैं उसको चोदूं नही ऐसा कभी हो सकता है क्या?
सासु:- तो तू यह बता भोसड़ी के तेरी माँ की बुर चोदों साले हरामी अगर मेरे सामने दोदो मर्द साले लौडा चूत की बात कर रहे हो तो क्या मैं उनके लौडे देखे बगैर रह सकती हूँ चलो तुम दोनों जल्दी से नंगे हो जाओ और मेरी एक एक चूंची पीने लगो मैं देखती हूँ की तुम्हारे लंड कितने बड़े है अरबाज का लंड तो मुझे चोद चुका है लेकिन आज मेरे सामने शाहिल का लौड़ा नया होगा
आशिया की माँ नसिफा शाहिल का लंड पकड़ कर हिलाने लगी उधर अरबाज का लौडा चोदने के लिए तैयार हो गया नसिफा बोली मेरे चोदू दामाद तू अपना लंड मेरी चूत में घुसेड दे मादर चोद और जल्दी जल्दी चोद डाल मेरी चूत को अरबाज बोला तुम दोनों माँ बेटी चुदवाने में बड़ी मस्त हो
नसिफा :- शाहिल क्या तुमने मेरी बेटी को कभी चोदा है ?
शाहिल :- नही कल जब तुम्हारी बेटी का शौहर बीवी को मेरे सामने चोद रहा था तो मैंने कहा था कल मैं तुम्हारी बीवी को चोदूंगा इसी शर्त पर मैंने अपनी बीवी को इससे चुदवाया और जब मैं इसकी बीवी को चोदने के लिया आया तो बीवी तो नही मिली उसकी माँ जरूर मिल गयी बुर चोदी अब मैं तुझे चोद चोद कर भरता बना दूंगा लेकिन अगर तेरी बेटी भी साथ होती तो उसे भी अपने मस्ताने लंड का मज़ा चखा देता
अरबाज:- यार गिला मत कर मेरी बीवी स्वयम तुमसे चुदवाने आएगी वह साली अपनी से ज्यादा चुदक्कड़ है अभी तू पीछे से मेरी बुर चोदी सासू को चोद साले बहन के लौडे
अरबाज और शाहिल ने मिलकर नसिफा को खूब चोदा और दोनों लंड नसिफा के प्यार में मस्त हो गए
रात को करीब ८.०० बजे आशिया आ गयी उसने देखा की उसके अंकल सुहेल बैठे है और उनके साथ उनका दोस्त असलम भी है आशिया समझ गयी की ये दोनों मुझे चोदने आए है
आशिया ;- यार सुहेल अंकल अब क्या मुझे चुदवाने के तुम्हे बार बार बुलवाना पड़ेगा क्या तुम्हारा लौडा मेरी चूत चोद कर थक गया है क्या?
सुहेल :- नही मेरी रानी बुर चोदी आशिया मेरा लंड तो तुम्हारे नाम से ही खड़ा हो जाता है ले तू लंड चूसती जा मैं तुझे सारी कहानी बताता जाता हूँ
आशिया :- नही यार मैं पहले असलम का लंड लूँगी क्योकि यह मुझे कई दिनों के बाद मिला है
देखते ही देखते तीनो नंगे हो गए आशिया असलम का लंड सहलाने लगी सुहेल उसकी चूत चाटने लगा
आशिया :- बहन चोद असलम तेरा लंड तो कुछ् ज्यादा मोटा हो गया है मुझे मोटे मोटे लंड बड़े पसंद है
असलम:- जब इतनी सारी खूबसूरत औरते मेरे लंड को हिला हिला कर प्यार करेंगी तो साल मोटा हो ही जाएगा सुहेल:- आशिया भी लंड से खूब मस्ती करती है यार
इतने में आशिया ने देखा की उसकी माँ नसिफा अपने दोनों हाथो में एक एक लंड पकडे हुए आ रही

कहानी जारी है… आगे की कहानी पढ़ने के लिए निचे दिए गए पेज नंबर पर क्लिक करे |

गतांग से आगे ..
अगले सनिवार को सभी लोग मेरे घर पर आ गए रागिनी ने सब से पहले ही यह बता दिया था की सभी लोग अपनी अपनी झांटे बना कर ही आयें सुभागिनी बोली मैं सबसे पहले इस बेटी चोद प्रोफ़ेसर को नंगा करती हूँ और देखती हूँ की इसका लंड कितना बड़ा है यह कह कर पहले सुभागिनी ही नंगी हो गयी फिर मुझे नंगा किया मेरा लंड हाथ में लेकर हिलाने लगी लौड़ा साला टनाटन खड़ा हो गया उधर रागिनी ने उन्तीनो चेलों को नंगा कर दिया राका जैकी और सलमान अब चार लंड और दो चूत मैदान में थे | आप यह कहानी मस्ताराम.नेट पर पढ़ रहे है | सुभागिनी ने हाथ बढ़ा कर सलमान का लंड पकड़ लिया बोली अरे यह तो कटा लंड है देखो कितनी जल्दी खड़ा हो गया भोसड़ी का रागिनी के पास भी दो लंड थे एक राना का और दूसरा जैकी का उन्दोनो ने दोदो लंड से खूब मस्ती में आकर चुदवाया अब लंड बदल गए सुभागिनी ने राना और जैकी के लंड अपने दोनों हाथों से थाम लिया और रागिनी ने मेरा और सलमान का उसे दोनों लंड बड़े मस्ताने लग रहे थे बोली सर दो दो लंड से चुदवाने में जायदा मज़ा आता है उधर सुभागिनी की चूत में एक लंड था दूसरा उसके मुह में वह लंड को मुह से निकाल कर बोली सर अभी मेरी गांड खली पड़ी है मुझे एक और लंड चाहिए मैं तो तीन तीन लंड से चुदवाने में माहिर हूँ मैंने कहा रागिनी वास्तव में सुभागिनी बुर चोदी बड़ी चुदक्कड औरत है आज मुझे मालूम हुआ की लड़कियां कितनी छुपी रुस्तम होती है इतने में हम चारों के लंड एकदम से उनदोनो के मुह में झड़ गए
दो लंड से चुदाई

आशिया बोली अम्मी देखो आज मैं सुहेल अंकल से चुदवौंगी उनसे कह देना की अपने साथ असलम को भी लेते आयें क्योकि मुझे उसका लंड बहुत पसंद है अब मुझे दो दो लंड से चुदवाने में ही मज़ा आता है अम्मी बोली तो मैं फिर क्या करूंगी आशिया ने उत्तर दिया तुम मेरे शौहर से चुदवा लेना उसका लौडा तो तुमको पसंद है न साथ में खालू को ले लेना मैं जानती हूँ की तुम उनसे अच्छी तरह चुदवाती हो
यह कह कर आशिया चली गयी दरअसल वे दो नो माँ बेटी एक साथ चुदवाने में बड़ी माहिर हो चुकी है क्यों की लंड बदल बदल कर चुदवाने का दो नो को शौक हो गया है घर भर के लौडे सभी दोनों को चोद चुके है यहाँ तक कि आशिया अपने बाप से भी चुदवाती है जब पहली बार उसकी माँ ने कहा की आशिया ले अब तू अपने अब्बा का लंड पकड़ तो पहले आशिया कुछ संकोच कर गयी फिर उसकी माँ ने बताया की तू लंड बड़े शौक से पकड़ ले चुदवा भी ले क्योंकि यह तुम्हारे असली बाप नही है तो आशिया ने पूंछा फिर मेरा असली बाप कौन है उसकी माँ ने उत्तर दिया अर्री आशिया अब तू ही बता की हर रोज तीन तीन चार चार लंड जब मुझे चोदेंगे तो मैं कैसे यह पता लगा लूँगी की तेरा बाप कौन है लेकिन एक बात सच है कि तेरा बाप कोई हलब्बी लंड है वह लंड किसका है यह पता नही है मुझे लगता है कि वह लंड जबरदस्त था क्यंकि वह लंड चोदने में सबसे आगे था और अब तेरी चूत भी चुदवाने में सबसे आगे है आशिया बोली मेरी भोसड़ी की अम्मी माँ की लौड़ी तेरी बहन की चूत सब साली तूने ही तो सिखाया है अब तो मैं रंडी की तरह चुदवाती हूँ कोई कितना भी तगड़ा लंड क्यों न हो मैं उसे अपनी चूत की भट्टी में डाल कर भून डालती हूँ तभी तो मेरी चूत से भुने हुए बैगन की तरह लंड निकलते है
आशिया के जाने के बाद उसका शौहर अरबाज आगया और अपनी सासू माँ से बोला की आशिया कहाँ है तो उसने बताया की वह तो चली गयी है अब शाम को ही आएगी तो अरबाज बोला अम्मी मैं तो अपने दोस्त शाहिल को लेकर इसलिय आया हूँ की वह मेरी बीवी को चोद ले क्योंकि सारी रात मैंने उसकी बीवी को चोदा है
सासू:- क्या उसकी चूत तुमको ज्यादा अच्छी लगी ?
अरबाज :- चूत नही, अम्मी वह लौडा बड़े प्यार से चूसती है और उसके चुदवाने का अंदाज़ बड़ा मस्ताना है
सासु:- तो उसका मर्द क्या कर रहा था ?
अरबाज:-वह अपनी भाभी को मेरे सामने चोद रहा था
सासु:- तो तुमने उसकी भाभी को नही चोदा क्या?
अरबाज:- अरे मेरी सासू माँ भला कोई औरत मेरे सामने नंगी पड़ी हो और मैं उसको चोदूं नही ऐसा कभी हो सकता है क्या?
सासु:- तो तू यह बता भोसड़ी के तेरी माँ की बुर चोदों साले हरामी अगर मेरे सामने दोदो मर्द साले लौडा चूत की बात कर रहे हो तो क्या मैं उनके लौडे देखे बगैर रह सकती हूँ चलो तुम दोनों जल्दी से नंगे हो जाओ और मेरी एक एक चूंची पीने लगो मैं देखती हूँ की तुम्हारे लंड कितने बड़े है अरबाज का लंड तो मुझे चोद चुका है लेकिन आज मेरे सामने शाहिल का लौड़ा नया होगा
आशिया की माँ नसिफा शाहिल का लंड पकड़ कर हिलाने लगी उधर अरबाज का लौडा चोदने के लिए तैयार हो गया नसिफा बोली मेरे चोदू दामाद तू अपना लंड मेरी चूत में घुसेड दे मादर चोद और जल्दी जल्दी चोद डाल मेरी चूत को अरबाज बोला तुम दोनों माँ बेटी चुदवाने में बड़ी मस्त हो
नसिफा :- शाहिल क्या तुमने मेरी बेटी को कभी चोदा है ?
शाहिल :- नही कल जब तुम्हारी बेटी का शौहर बीवी को मेरे सामने चोद रहा था तो मैंने कहा था कल मैं तुम्हारी बीवी को चोदूंगा इसी शर्त पर मैंने अपनी बीवी को इससे चुदवाया और जब मैं इसकी बीवी को चोदने के लिया आया तो बीवी तो नही मिली उसकी माँ जरूर मिल गयी बुर चोदी अब मैं तुझे चोद चोद कर भरता बना दूंगा लेकिन अगर तेरी बेटी भी साथ होती तो उसे भी अपने मस्ताने लंड का मज़ा चखा देता
अरबाज:- यार गिला मत कर मेरी बीवी स्वयम तुमसे चुदवाने आएगी वह साली अपनी से ज्यादा चुदक्कड़ है अभी तू पीछे से मेरी बुर चोदी सासू को चोद साले बहन के लौडे
अरबाज और शाहिल ने मिलकर नसिफा को खूब चोदा और दोनों लंड नसिफा के प्यार में मस्त हो गए
रात को करीब ८.०० बजे आशिया आ गयी उसने देखा की उसके अंकल सुहेल बैठे है और उनके साथ उनका दोस्त असलम भी है आशिया समझ गयी की ये दोनों मुझे चोदने आए है
आशिया ;- यार सुहेल अंकल अब क्या मुझे चुदवाने के तुम्हे बार बार बुलवाना पड़ेगा क्या तुम्हारा लौडा मेरी चूत चोद कर थक गया है क्या?
सुहेल :- नही मेरी रानी बुर चोदी आशिया मेरा लंड तो तुम्हारे नाम से ही खड़ा हो जाता है ले तू लंड चूसती जा मैं तुझे सारी कहानी बताता जाता हूँ
आशिया :- नही यार मैं पहले असलम का लंड लूँगी क्योकि यह मुझे कई दिनों के बाद मिला है
देखते ही देखते तीनो नंगे हो गए आशिया असलम का लंड सहलाने लगी सुहेल उसकी चूत चाटने लगा
आशिया :- बहन चोद असलम तेरा लंड तो कुछ् ज्यादा मोटा हो गया है मुझे मोटे मोटे लंड बड़े पसंद है
असलम:- जब इतनी सारी खूबसूरत औरते मेरे लंड को हिला हिला कर प्यार करेंगी तो साल मोटा हो ही जाएगा सुहेल:- आशिया भी लंड से खूब मस्ती करती है यार
इतने में आशिया ने देखा की उसकी माँ नसिफा अपने दोनों हाथो में एक एक लंड पकडे हुए आ रही

Tags

1 Comment

  1. hello girls and bhabhi mai hu sex boy call sex wathapp sex real Sex jo bhe girls and bhabhi sex krna chati ho mujhe wathapss kro 9835880036 Mai aapke chut ka pani nikla Duga call me baby aapki chut ka pani nikla kr aapne mum me luga ahhh mere land lo n chut me

Comments are closed.

Hindi Sex Kahaniya & Sex Pictures © 2017