मेरी और मेरी रंडी बीवी की चुदाई

loading...

हैल्लो दोस्तों, आप सभी को नमस्कार ख़ासकर सभी शादीशुदा जोड़े को. मेरा नाम राजेश है और मेरी उम्र 27 है, मेरी पत्नी जिसका नाम ममता है और उसकी उम्र 25 है. दोस्तों मुझे और मेरी पत्नी को सेक्स करना बहुत पसंद है और हम हर बार अलग अलग तरीक़ो से चुदाई करते है.

दोस्तों अब में आप सभी लोगों को थोड़ा बहुत विस्तार से मेरी पत्नी के बारे में बताता हूँ और अपनी पत्नी के साथ अपनी एक सच्ची चुदाई की एक घटना को पूरी तरह विस्तार से सुनाता हूँ और में उम्मीद करता हूँ कि इसे पढ़कर आप सभी कामुकता डॉट कॉम के चाहने वालों को बहुत मज़ा आएगा. दोस्तों मेरी पत्नी थोड़ी सी मोटी है, लेकिन ज्यादा नहीं बस थोड़ी सी, लेकिन हाँ यह सब मेरे कारण ही हुआ था, क्योंकि मैंने उसे चोद चोदकर मोटा कर दिया है और मेरी पत्नी के बूब्स का आकार 34 इंच, कमर थोड़ी मोटी 30 इंच और गांड करीब 34 या 36 इंच होगी और मेरे लंड का साईज़ करीब 7.6 इंच का होगा.

अब में सीधा अपनी आज की कहानी पर आता हूँ और जैसा कि मैंने आप सभी को पहले भी बताया है कि मेरी पत्नी बहुत कामुक, उत्तेजित है और वो चुदाई के लिए हमेशा तैयार रहती है और वो एक छोटे से गाँव की रहने वाली है तो इसलिए बहुत सारी गालियाँ भी जानती है, लेकिन वो केवल चुदाई के समय ही मुझे गालियां देती है.

loading...

दोस्तों यह उस समय की बात है जब हम लोगों को चुदाई किये हुये करीब दस दिन हो गये थे, क्योंकि में उस समय अपने किसी जरूरी काम से बाहर गया हुआ था. दस दिनों के बाद जब में अपने घर पर आया तो मैंने देखा कि मेरी पत्नी दुल्हन की तरह सजधजकर मेरा इंतजार कर रही थी, में करीब 8:30 बजे अपने घर पर आ गया और दरवाजा खोलते ही वो मुझ पर भूखी की तरह टूट पड़ी और मेरे होंठो पर अपने होंठो को लगाकर चूमने लगी और करीब दस मिनट तक चूमा चाटी के बाद में उससे बोला कि थोड़ा सा रूको जानू मुझे फ्रेश तो होने दो उसके बाद हम मस्ती करते है.

फिर मेरी पत्नी मुझसे बोली कि जानू अब मुझसे रुका नहीं जाता, पिछले दस दिनों से में बहुत तड़प रही हूँ और मेरी चूत अब बहुत बैचेन है. फिर मैंने कहा कि थोड़ा सा रूको और मुझे बस 15 मिनट दो और उससे यह बात बोलकर में सीधा बाथरूम में नहाने चला गया और फिर बाथरूम से बाहर आते ही हम दोनों ने खाना खाया और फिर सीधे बेडरूम में मस्ती करने चले गये, मेरी बीवी ने टी.वी. चालू किया और टी.वी. पर एक ब्लूफिल्म लगा दी और फिर वो मुझसे बोली कि चल मादरचोद आजा अब जल्दी से चोद मुझे और बुझा दे मेरी प्यासी चूत की प्यास, प्लीज में बहुत दिनों से तड़प रही हूँ. दोस्तों में आप लोगों को एक बात और बता दूँ कि चुदाई करते समय में अपनी पत्नी को रंडी बोलता हूँ.

में : हाँ साली रंडी में भी इतने दिनों से वहां पर अकेला बहुत तड़पा हूँ माँ की लोड़ी, में आज तेरी माँ को चोद दूंगा, तेरा भोसड़ा फाड़ दूंगा और यह बात कहकर में उस पर टूट पड़ा और उसके होंठो को चूमने, चूसने लगा और वो भी खुलकर मेरा पूरा पूरा साथ देने लगी. अब हम दोनों ही एक दूसरे के होंठो को चूमने, चाटने लगे और एक दूसरे के मुहं में अपनी जीभ को डालकर एक दूसरे का रसपान करने लगे. अब मेरा एक हाथ उसके बूब्स पर था और में कपड़ो के ऊपर से ही उसका बूब्स दबा रहा था और अपने दूसरे हाथ से साड़ी के ऊपर से ही उसकी चूत को मसल रहा था और वो मेरे लंड को दबा रही थी.

तभी अचानक से उसने मुझे पीछे किया और वो मुझसे बोली कि मादरचोद साले अपनी रांड को नंगा तो कर, क्या बस तू मेरे मुहं को ही चूमता रहेगा, इतना कहकर उसने खुद ने ही अपनी साड़ी को खोल दिया. दोस्तों अब वो मेरे सामने ब्लाउज और पेटीकोट में थी. अब मुझसे भी रहा नहीं गया और मैंने उसके ब्लाउज और पेटीकोट को एक ही झटके में खींचकर पूरा फाड़ दिया. मैंने देखा कि उसने अंदर कुछ नहीं पहन रखा था और उसके झूलते, लटकते हुए बूब्स और झाटो वाली चूत जो थोड़ी गीली थी और अब बिल्कुल आज़ाद थी और यह देखकर मुझसे भी अब रहा नहीं गया और में भी जल्दी से पूरा नंगा हो गया और मुझे नंगा देखकर वो मुझ पर टूट पड़ी.

loading...

उसने मुझे धीरे से धक्का देकर बिस्तर पर पटककर वो मेरी नाभि को चाटने लगी, करीब पांच मिनट तक नाभि को चाटने के बाद अचानक से उसने मेरा लंड अपने मुहं में ले लिया और कुतिया की तरह चूसने लगी. दोस्तों वो मुझे अब जन्नत में ले गई और बहुत देर तक चूसने के बाद में अचानक ही उसके मुहं में झड़ गया और वो मेरा गरम गरम वीर्य पी गई.

दोस्तों अब मेरी बारी थी तो में उससे बोला कि चल साली अब तू सीधी लेट जा और मेरे इतना कहते ही वो बिस्तर पर बिल्कुल सीधी लेट गई और में जल्दी से उसके ऊपर चढ़ गया और उसके होंठो को चूमने लगा और धीरे धीरे में उसके बूब्स पर आ गया और ज़ोर ज़ोर से चूसने लगा और उसके मुहं से आहें निकल रही थी, बहुत देर तक चूसने, दबाने के बाद में उसकी नाभि को चूसने लगा और अब उसकी बालों वाली चूत पानी छोड़ रही थी, करीब 15 मिनट तक में नाभि और बूब्स को चूसता रहा और इस बीच हमारी कोई बातचीत नहीं हुई सिर्फ़ वो सिसकियों के साथ साथ आहें भर रही थी और इतने में वो मुझसे बोल पड़ी कि साले नीचे कब जाएगा? फिर उसके मुहं से यह बात सुनते ही मैंने उसके दोनों पैरों को चौड़ा किया और अब में उसकी चूत पर अपना मुहं ले जाकर अपनी जीभ को चूत पर घूमाने लगा और जिसकी वजह से वो अब ज़ोर ज़ोर से सिसकियाँ लेने लगी और मुझसे कहने लगी.


जिसकी कहानी पढ़ी उसका नंबर यह से डाउनलोड करलो Install [Download]
loading...

और कहानिया

loading...