शराब के साथ शादीशुदा की चूत

loading...

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम विशु है और मेरी उम्र 21 साल है. मेरा कलर गोरा है और में दिखने में स्मार्ट हूँ. मेरा एक दोस्त है, वो शादीशुदा है और हम अक्सर एक साथ बैठकर शराब पीते है. फिर एक दिन शाम को पीने का प्रोग्राम बना, लेकिन काफ़ी बारिश हो रही थी तो उसने बोला कि आज मेरे घर पर ही पी लेते है. फिर में बोला कि ठीक है चल, लेकिन तेरी बीवी तो गुस्सा नहीं करेगी ना.

फिर वो बोला कि नहीं, तो हम उसके घर पर चले गये. अब अभी तक हमने 3-4 पैग ही लगाए थे कि मेरी नज़र सामने पड़ी तो मैंने देखा कि उसकी बीवी सामने मेरी तरफ अपनी पीठ करके खड़ी थी. फिर मेरी नज़र सीधी उसके बिग बूब्स पर गयी, तो में उसको देखकर पागल हो गया और मेरा लंड एक ही झटके में खड़ा हो गया तो मैंने बड़ी मुश्किल से अपने आप पर कंट्रोल किया.

फिर मैंने ध्यान से उसका फिगर देखी. उसका फिगर साईज़ 32-30-36 है, तो उस दिन मैंने सोच लिया कि में इसको चोदकर रहूँगा. फिर मेरा उसके घर रोज़ आना जाना शुरू हो गया, तो धीरे-धीरे वो मेरे साथ घुल मिल गयी. फिर एक दिन मैंने ध्यान से उसकी आँखों में देखा तो में समझ गया कि वो भी कुछ चाहती है, लेकिन मेरी उसको बोलने की हिम्मत नहीं हुई.

loading...

एक दिन मैंने उसके घर पर कुछ ज्यादा ही पी ली और मैंने सोच लिया कि आज में उसको पकड़कर बोल ही दूँगा कि में तेरे लिए पागल हो गया हूँ, लेकिन में डर गया और अपने घर चला आया. फिर एक दिन में उसके घर गया, तो दरवाजा खुला था, तो में अंदर घुस गया तो मैंने देखा कि वो कपड़े धो रही थी. फिर मैंने उसको पीछे से पकड़ लिया, तो उसने भी अपनी आँखें बंद कर ली, अब हम दोनों किसी और ही दुनिया में थे.

फिर उसके बाद मैंने धीर-धीरे उसके सूट को ऊपर किया और उस बीच में मैंने उसके कान में अपनी जीभ डाल दी, तो उसके मुँह से आवाज़ निकली आहाआ, उम्म्म्मम, आह. फिर मैंने उसकी ब्रा की हुक खोल दिया, तो वो बोली कि यह ठीक नहीं है कोई आ जाएगा, ये गलत है. फिर मैंने बोला कि प्यार में कुछ भी गलत नहीं होता, उसके बूब्स पर ब्राउन कलर के निप्पल थे.

फिर में उसके निपल पर हल्की-हल्की अपनी जीभ फैरने लगा, तो वो मस्त होने लगी और मेरे सिर को पकड़कर अपने बूब्स की तरफ दबाने लगी थी. अब उसके मुँह से आवाजे निकल रही उम्म्म्मम, अहह दोनों को चूसो, तुम तो एक पर ही लगे हो, तो यह सुनते ही में पागल हो गया. फिर मैंने उससे पूछा कि क्या तुम भी इसी दिन का इंतजार कर रही थी? तो उसने बोला कि हाँ, लेकिन क्या करती? डर लगता था. फिर मैंने उसको लेटा दिया और उसके बूब्स चूसने लगा और उसकी नाभि में अपनी जीभ डाल दी, तो वो सिहर उठी जैसे उसको करंट लगा हो.

फिर में धीरे-धीरे उसके जिस्म पर कपड़ो के ऊपर से अपनी जीभ फैरता हुआ उसके पैरो के पास पहुँच गया और उसके पैर को अंगूठा चूसने लगा. अब वो बेड पर मचलने लगी थी और में उसके पैरो की उंगलियों पर धीरे-धीरे अपनी जीभ फैरता रहा और उसके मुँह से आवाजे आती रही आहाआअ, ऊहूऊऊ, में पागल हो जाउंगी, यह सब तुमने कहाँ से सीखा है? अब मुझसे रहा नहीं जाता, जल्दी से ऊपर आ जाओ.

loading...

अभी में उठा ही था कि अचानक से मेरा मोबाइल बजा, वो ऑफिस से कॉल थी कि लंच टाईम ख़त्म हो चुका है, तुम कहाँ हो? बॉस बुला रहे है. बस फिर क्या था? अब मेरा सारा मूड ऑफ हो गया था तो मैंने उसको बोला कि मुझे जाना होगा. फिर वो बोली कि मुझे इस हाल में छोड़कर मत जाओ, थोड़ी देर और रुक जाओ, लेकिन में चला आया और उसको बोला कि जल्दबाजी में मज़ा नहीं आएगा और अगर में नहीं गया तो मेरी नौकरी खतरे में पड़ सकती है, क्योंकि पहले ही बहुत प्रोब्लम चल रही है.

फिर शाम को जब में अपने दोस्त के साथ उसके घर पर गया, तो वो गुस्से में थी और मेरी तरफ देख भी नहीं रही थी. फिर हम रोज की तरह पैग लगाते रहे और बातें करते रहे. अब मेरी नज़र उस पर ही थी, लेकिन वो अभी भी गुस्से में थी और मेरी तरफ देख भी नहीं रही थी. फिर इतने में मेरा दोस्त बोला कि में बाथरूम जाकर आता हूँ, बस मुझे मौका मिला और मैंने झट से उसको पकड़ लिया और पूछा कि क्या हुआ? तो वो कुछ नहीं बोली.


जिसकी कहानी पढ़ी उसका नंबर यह से डाउनलोड करलो Install [Download]
loading...

और कहानिया

loading...
One Comment
  1. January 30, 2017 |