सहेली के लड़के ने चोदा

loading...

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम धारा है, मेरी उम्र 38 साल है और में गाँधीनगर की रहने वाली हूँ. ये हादसा मेरे साथ दिसम्बर 2015 में हुआ था. अब में आपको पहले मेरे बारे में बता दूँ. में दिखने में बहुत सेक्सी औरत हूँ और मेरा फिगर 36-34-38 है. मेरे पति अमेरिका में रहते है तो मुझको भी 24 दिसम्बर को अमेरिका जाना था, मेरे कोई बच्चे नहीं है.

मेरी एक फ्रेंड कालोल में रहती है और एक वालोल में रहती है तो मैंने सोचा कि में अमेरिका जाने से पहले अपनी फ्रेंड को मिलकर जाऊं. फिर मैंने बस पकड़ी और कालोल गई तो मैंने अपनी फ्रेंड को फोन करके बता दिया कि में आ रही हूँ. फिर में वहाँ सुबह 10 बजे पहुँची तो मेरी फ्रेंड मुझे लेने के लिए अपनी कार लेकर आई. फिर में और वो हम उसके घर गये, फिर घर जाते ही मैंने उसके लड़के को देखा, ओह माई गॉड वो दिखने में बहुत सुंदर था. फिर मेरा उसके साथ परिचय हुआ और पता चला कि वो अहमदाबाद में कॉलेज की पढाई करता है.

फिर मैंने 12 बजे लंच लिया और जब मेरी फ्रेंड के पति जॉब पर गये थे तो मैंने और उसने बहुत बातें की. फिर शाम को मैंने सोचा कि चलो मेहसाना मेरी एक फ्रेंड रहती है तो उससे मिलकर आते है तो मैंने कार ड्राइव कर ली और हम मेहसाना जाकर आए. अब रात को बहुत अंधेरा हो गया था, तो फिर मैंने अपनी फ्रेंड से कहा कि मुझे कोई अपने घर तक छोड़ सकता है गाँधीनगर तक. फिर मेरी फ्रेंड ने कहा कि मेरा बेटा तुझे घर तक छोड़ आएगा. फिर में और मेरी फ्रेंड का बेटा निकल गये तो रास्ते में उसने मुझसे बातें करना स्टार्ट कर दिया. फिर बातों-बातों में उसने कहा कि आंटी आप बहुत सेक्सी लग रही हो. बाप रे अब ये शब्द सुनकर तो मुझे पहले कुछ आजीब लगा, लेकिन फिर बाद में अच्छा लगा.

loading...

फिर मैंने उससे पूछा कि में कितनी सेक्सी लगती हूँ? तो उसने कहा कि वो तो आंटी चेक करना पड़ता है. तो मैंने कहा कि चल कर चेक, तो वो बोला कि अभी नहीं हो सकता, तो मैंने कहा कि तो कब? तो वो बोला कि घर जाकर. फिर उतने में मेरा घर आ गया और हम घर में चले गये. तब रात के 10 बजे थे. फिर मैंने कहा कि चलो अंदर आओ पानी पीकर जाओ, तो वो भी मान गया.

फिर मैंने उसे सोफे पर बैठाया और पूछा कि तू मेरी सेक्सी लेवल चेक करने वाला था, तो वो बोला कि में तो ऐसे ही कह रहा था. फिर मैंने कहा कि अरे बेटा ज़रा चेक करना ऐसे क्या करता है, तू अपनी सेक्सी आंटी का इतना भी मन नहीं रखेगा. फिर वो बोला कि आप अपनी आखें बंद करो, तो में मान गयी. फिर उसने मेरे पेट पर अपना हाथ फैरना शुरू कर दिया. फिर उसने धीरे-धीरे मेरी गांड पर अपना हाथ लगाया, क्या बताऊँ वो कितना सेक्सी टच था? फिर उसने अपने एक हाथ से मेरा बूब्स भी दबा दिया.

अब में और वो हम दोनों ही गर्म हो रहे थे. फिर उतने में ही मेरी फ्रेंड का फोन आया कि पहुँचे कि नहीं, तो मैंने उसे बता दिया कि हम पहुँच गये है, लेकिन तुम्हारा बेटा कल सुबह आ जाएगा, क्योंकि गाड़ी पंक्चर हो गई है. फिर उसने अपने बेटे से बात की और कहा कि आज की रात आंटी के घर रुक जा कल सुबह गाड़ी ठीक करवा कर आ जाना. फिर क्या था? फिर हम दोनों खुश हो गये और उसने मुझे अपनी गोद में उठा लिया और बेडरूम में लेकर गया. फिर हम दोनों ने अपने-अपने कपड़े उतार दिए और में उसके लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी. वाह क्या मज़ा आ रहा था? फिर उतने में ही मुझे मेरी एक सहेली का फोन आया कि वो मुझसे मिलने के लिए मेरे घर पर आ रही है, लेकिन वो भी सेक्स की भूखी थी. फिर वो मेरी चूत को चाटने लगा, अब में 3 मिनट में ही झड़ गयी थी.


जिसकी कहानी पढ़ी उसका नंबर यह से डाउनलोड करलो Install [Download]

और कहानिया

loading...