हेलो दोस्तों मेरा नाम विकास पवार है | मैं मध्य प्रदेश के एक छोटे से गाँव का रहने वाला हूँ | आज मैं आप लोंगो को अपनी जिंदगी की एक सच्ची घटना बताने जा रहा हूँ | पहले आप लोंगो को मैं अपने बारे में बता दूँ  | मेरी हाईट थोड़ी कम है | जिसकी वजह से मेरे अच्छे लुक की बावजूद स्कूल के टाइम में मेरी कई लड़कियां फ्रेंड तो थी लेकिन कोई भी मेरी गर्लफ्रेंड नहीं बनना चाहती थी | लेकिन फिर भी मैं अपने स्कूल टाइम पे सबके लिए हीरो था | वैसे तो मैं शुरू में गर्लफ्रेंड बनाने के मूड में ही नहीं था | क्योकि मुझे लगता था की ये सब झंझट होता है  लेकिन समय के साथ साथ मेरी भी इच्छा जग गई थी कि मुझे भी एक गर्लफ्रेंड बनानी है |

अभी ये तो थी मेरी स्कूल लाइफ तक की कहानी | अब मैं स्कूल से कॉलेज में आ गया था | एस बीच कई लड़कियों से मेरी दोस्ती हुई और कुछ लड़कियों को तो मैंने पटा भी लिया लेकिन किस्मत ने यहाँ भी मेरा साथ नहीं दिया | जो भी लड़की मुझसे पटती थी वो या तो कही दूर की होती थी या फिर वो कही चली जाती थी | मेरी उम्र के साथ अब सेक्स की भूख़ बढती ही जा रही थी | अब मुझे किसी तरह से बस सेक्स करना था | इसी बीच मेरी दोस्ती एक विदेश की लड़की के साथ हुई | उसका नाम सैयना था | वो लन्दन से थी | वो दिखने में बहुत ही हॉट थी | उसकी फोटो देखते ही मेरा लंड खड़ा हो जाता था | फिर किसी तरह से मुठ मर के अपनी गर्मी शांत करता था | उसकी गांड तो इतनी बड़ी थी मनो की वो एक पोर्न फिल्मो की एक्ट्रेस हो | उसके चुंचे देखते ही मन करता की अगर मिल जाए तो बस दबा दबा के पी जाऊ | मैंने उससे एक इंटरनेट साईट पर मिला था | फर उससे बात होने लगी |

एक दिन उसने मुझे प्रपोज कर दिया | मैं तो एकदम ख़ुशी के मारे पागल सा हो गया था | मैंने तुरंत हाँ कह दी | बस फिर क्या था हमारी बातें शुरू हो गयी | विदेशी लड़कियां बहुत ही खुली दिमाग की होती हैं | वो सब कुछ मेरे से शेयर करती थी | एक बार तो उसने मुझे इन्टरनेट से ही कॉल भी किया | मेरी उससे करीब 90 मिनट तक बात हुई | वो बहुत ही खुश थी | एक दिन उसने मुझसे थोड़ी हॉट बातें करना स्टार्ट किया | वो एक बहुत ही होर्नी बात हुई | एक तरीके से सेक्स चैट किआ हमने | अब तो अक्सर मेरी सेक्स चैट होने लगी थी | फिर एक दिन पतन नहीं किस बात को ले कर वो नाराज़ हो गई | और बात करना बंद कर दिया |

अब आते हैं अपनी असली कहानी पर | जो शुरू हुई मेरे कॉलेज में | सेक्स चाट की आदत की वजह से अब मेरे अन्दर सेक्स की भूख़ और भी बढ़ गई थी | अब तो बस सेक्स करना था | मेरी एक फ्रेंड बनी जिसका नाम माला था | वो बहुत ही हॉट थी | उसका फिगर बहुत ही मस्त है | मैं उसे पटाना चाहता था लेकिन कुछ बात नहीं बन रही थी तो मैंने कैसे भी कर के उससे दोस्ती कर ली | अब तो बस उसके साथ समय बिताने का मौका ढूंढ रहा था | वो भी मुझे पसंद करने लगी थी | एक बार उसने मुझे फिल्म देखने जाने के लिए पूछा | मैंने तुरंत हाँ कर दी | हम साथ में मूवी देखने गए | हाल  में एक रोमांटिक सीन आया तो वो मेरे करीब आ गई और मेरे होंठो से होंठो को लगा दिया | मैं बस फूला नहीं समां रहा था | मैं भी उसे जोर जोर से चूसने लगा | ये मेरी पहली लिप टू लिप किस थी | मैंने तुरंत उसके बूब्स पर हाथ रख दिए और जोर जोर से दबाने लगा | वो आह्ह्ह अह्म्म्मउह्ह्ह्ह आह्ह्ह्ह करके धीरे धीरे से आवाज़े निकलने लगी | वो पागल हुई जा रही थी |

अब मैंने उसकी गर्दन पर किस करना शुरू कर दिया | वो मजे से आःह हह ह ह हह ह ह ह हह ह ह ह हह ह ह ह हह ह ह ह ह हह उ उ उ ऊ उ उ उ उ ऊऊ ऊ उ उ ऊ उ उ ऊ उ उ ऊ उ ऊ उ उ करने लगी | मैंने किस करना जारी रखा | वो मेरा साथ दे रही थी | मैंने उसकी गर्दन पकड़ी और जोर जोर से चूमने लगा | अब मैंने धीरे धीरे उसके बूब्स पर हाथ फेरना शुरू कर दिया | उसने थोडा रोका लेकिन जोश में होने की वजह से मैं माना नही और मैं उसके बूब्स दबाने लगा | अब मैंने उसका टॉप उठा दिया और उसका निप्पल चूसने लगा | वो मजे से आः ह्ह्ह ह ह हह ह हह ह ह हह ह हह ह ह हह ह हह ह हह ह हह ह ह हह ह हह ह ह हह ह ह्ह्ह्ह ह ह हह उ उ ऊ उ उ इउ ई इ इ इ ई इ इ इ ई इ इ इ ई इ ई इ इ ई ई इ इ ई करने लगी | उसके निप्पल काफी मस्त थे और मुझे चूसने में बडा मजा आ रहा था | मैंने उसके दुसरे दूध को पकड़ा और चुसना शुरू कर दिया | वो मजे से चुस्वाने लगी |

अब मैंने उसका टॉप उतार दिया और उसकी ब्रा भी | मुझे उसके निप्पल अब दिख रहे थे सही से | क्या मस्त निप्पल थे दोस्तों.. देख के मेरा लंड तुरंत खड़ा हो गया | मैंने इधर निप्पल चुसना शुरू किया उधर अपना एक हाथ उसकी पैंट में डाल दिया | उसकी चूत चिकनी और गर्म थी | मैं उसकी चूत सहलाने लगा | वो भी मस्ती में आ अह ह ह ह हह ह हह ह ह हह ह हह ह ह हह ह ह हह ह ह हह ह हह ह ह हह करके सिसकियाँ लेने लगी | अब मैंने उसकी चूत में एक ऊँगली डाल दी | वो दर्द से चिहुंक पड़ी और आआअ  हह ह ह हह हह हह ह ह हह ह ह ह ह्ह्ह ह्ह्ह्हह्ह हग हह ह ह हह ह ह ह ह ह उ उ ऊऊ ऊऊ ऊ इउ इ ई इ ई उ ऊ उ ऊ उ ऊऊ ऊऊ ऊ ह हह ह इ इ ईई इ ई इ इ इ इ ई इ ईई ई इ इ ई ईई ई इ इ ई उ उ उ ऊ उ उ उ उ ऊऊ उ ऊ उ ऊऊ ऊ उ उ ऊ ऊ उ उ इ ई इ इ इ इ ई इ ईई इ ई इ ईई ई इ ईईइ इ ईई ई ई इ इ ई इ इ ई इ उ ऊऊ उ ऊ ऊऊऊऊ उ ऊ उ ऊऊ ऊऊउ ऊऊ उ ऊ करने लगी |

मैं रुका नही और उसकी चूत में ऊँगली करना जारी रखा | अब मैंने उसकी पैंट उतार दी और उसकी पैंटी भी उतार दी | उसकी चूत क्या मस्त थी दोस्तों.. गुलाबी सी.. मन का रहा था अभी चाट लूं | मैंने सोचा क्यूँ न मन की मान ही लूं | मैंने उसकी टांगों को फैलाया और उसकी चूत पर अपनी जीभ रख दी | वो सिसकियाँ लेने लगी | अब मैंने उसकी चूत में अपनी जीभ डाल दी और उसकी चूत को चाटना शुरू कर दिया | वो दर्द और मजे से कराहने लगी और आआअह्ह्ह हह ह हह हह ह हह ह हह ह हह हह ह ह हह उ ऊ ऊऊ ऊ उ ऊऊऊउ उ उई इ इ ई इ ईई ईई ई इ ई इ ई इ इ ई ई ई इ इ ईईइ इ ई ई इ इ इ करने लगी | मैंने अब जीभ और अन्दर घुसेड दी | वो अब जोर जोर से ओह यस, ओह यस, ओह्ह्ह ह हह ह हह ह हह ह ह ह हह ह्ह्ह ह ह ह हह ह ह हह ह ईई ईई इ इ इ ई इ इ ई इ इ इ इ करने लगी |

थोड़ी देर तक ऐसे ही उसकी चूत को चाटने के बाद मैंने अपने कपडे उतार दिए और उसके पैर फैला दिए | उसकी चूत पर मैंने अब अपना लंड टिकाया और एक ही झटके में घुसेड दिया | वो दर्द से रोने लगी | मैंने थोडा रुक कर फिर से उसे चोदना शुरू कर दिया | वो आह ह ह हह ह ह हह हह ह हह ह हह फक मी.. आह हह ह ह ह हह ह ह फक मी हार्ड.. आई ई इ इ ई इ इ ई इ इ ई इ ई इ इह ह हह ह हह उह ह हह ह ह हह करने लगी | लगभग 10 मिनट के बाद वो झड गयी | फिर मैंने भी अपना लंड निकाल कर उसके पेट पर अपना मुठ निकाल दिया |

दोस्तों उस दिन के बाद भी हमने कई बार चुदाई के मजे लिए |

loading...

Write A Comment