चूत के छल्ले उड़ा दिए

हाय बॉयज एंड गर्ल्स, मेरा नाम अंकिता है और मैं अलवर की रहने वाली हूँ | मेरी उम्र 20 साल है और मैं चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में पढ़ती हूँ | इसलिए मैं चंडीगढ़ में हॉस्टल में रहती हूँ अपनी एक रूममेट के साथ जिसका नाम मेघा है | मैं दिखने में बहुत सुन्दर हूँ इसलिए मुझे बहुत से लड़कों ने प्रोपोस किया है लेकिन उन्हें ये नहीं पता कि मुझे लड़कियों में इंटरेस्ट है और मैं एक लेस्बियन हूँ | मेरी रूममेट लेस्बियन नहीं थी लेकिन मैंने उसको बना दिया और अब हम खूब मज़े लूटते है | तो मेरी कुछ इस तरह है कि छोटे से ही मुझे बहुत से लड़के प्रोपोस करते थे लेकिन मैं सबको मना कर देती थी | स्कूल में मेरी एक दोस्त थी उसका नाम टीना था और उसको भी लड़कियों में इंटरेस्ट था | हम दोनों साथ रहते थे और एक दूसरे को छुआ करते थे और अगर मौका मिल जाता था तो बहुत कुछ कर लिया करते थे |

एक बार की बात है मैं और टीना क्लास में बैठे थे, तो टीना ने कहा चल न मेरे घर चलते है और मैंने भी कोई सवाल नहीं किया और उसके साथ उसके घर चली गई | उसके घर पहुँच के मैंने अपने पे फ़ोन कर दिया और कहा मैं टीना के घर में हूँ थोड़ी देर से आ जाउंगी | हम उसके लैपटॉप में मूवी देख रहे थे तभी उसमें सेक्स सीन आया और उसे देखने के बाद उसने मूवी बंद कर दी | तो मैंने पूछा क्यों बंद कर दी ? तो उसने कहा इससे अच्छा देखेंगे और एक फोल्डर खोलके लेस्बियन सेक्स वीडियोज़ लगा दिए | अब हूँ दोनों बड़े गौर से वीडियो देखते रहे और दो तीन वीडियो देखने के बाद उसने अपने कमरे का दरवाज़ा बंद किया और स्पीकर पे गाने लगा दिया | उसके बाद उसने अपने कपड़े उतारे और मेरे बाजू में बैठके अपनी चूत में ऊँगली करने लगी | मैं बैठे बैठे बस उसको चूत में ऊँगली करते हुए देख रही थी, तो उसने मेरे हाँथ पकड़ा और अपने दूध पर रखवा लिए और कहा दबाना और मैं डरते डरते उसके दूध दबाती रही | उसके बाद उसने मेरा हाँथ अपनी चूत पे रखवाया और कहा चल ऊँगली कर जैसे वीडियो में वो लड़की रही थी |

तो मुझे डर लग रहा था इसलिए मैंने ऊँगली नहीं की, तो उसने कहा चल अच्छा अपने कपड़े उतार और उसने मेरे कपड़े उतार दिए | फिर उसने मेरी चूत मलना शुरू किया और मैं उससे कहती रही नहीं रहने दो मुझे कुछ ठीक नहीं लग रहा लेकिन वो मलती रही | फिर उसने मेरे दूध चूसे और अपनी एक ऊँगली मेरी चूत में डाल दी | मुझे चूत में अजीब सा लगा तो मैंने कहा नहीं निकालो उसको, तो उसने कहा रुक थोड़ी देर अच्छा लगेगा और वो अपनी ऊँगली अन्दर बाहर करती गई | थोड़ी देर ऊँगली करने के बाद मेरी चूत से पानी जैसा कुछ निकलने लगा तो उसने झुककर मेरी चूत चाटना शुरू कर दिया | जब उसने मेरी चूत चाटना शुरू किया, तो मुझे ऐसा लग रहा था कि वो बस ऐसे ही चाटते रहे रहे कभी न रुके | इसी तरह उसने मेरी चूत बहुत देर तक चाटी और फिर मुझसे कहा मज़ा आया | तो मैंने कहा बहुत तो उसने कहा चल अब मेरी चाट और अब मेरा दर ख़त्म हो गया था तो मैंने भी उसकी चूत में ऊँगली की और उसके बाद चाटने लगी | मैं भी उसकी चूत बहुत देर तक चाटती रही और उसके बाद हम दोनों अपनी अपनी चूत में ऊँगली करने लगे | थोड़ी देर ऊँगली करने के बाद उसकी चूत से सफ़ेद सफ़ेद पानी निकला और उसके बाद वो थककर लेट गई और उसके बाद मैंने ऊँगली नहीं की और मैं भी उसके साथ लेट गई और हम दोनों किस करने लगे |

फिर करने के बाद हम दोनों ने कपड़े पहने और मैं अपने घर वापस चली गई | यही सब हम दोनों आये दिन करते थे जैसे ही मौका मिल जाता था एक बार तो जब सारी क्लास गेम्स पीरियड बाहर थी, तो हम दोनों क्लास में लगे थे और हमें हमारी क्लास के एक लड़के ने देख लिया था जिसका नाम अभिषेक था |

ख़त्म हो जाये और मैं कामयाब हुई | फिर मैंने भी उससे लेस्बियन वाली बातें शुरू की और कभी कभी हम साथ बैठके लेस्बियन वाले वीडियो भी देखते थे मगर कभी कभी हम लम्बे लंड वाले लड़को की चुदाई भी देखते ताकि उसको शक न हो |

मैंने ऑनलाइन डिलडो भी आर्डर कर दिया था और अकेले में ऊँगली तो मैं करती ही रहती थी लेकिन अब मेरा मन करता था कि मैं मेघा की चूत चाटूं और मेघा मेरी लेकिन अभी तक हमने ऐसा कुछ किया नहीं था | तो मैंने भी अपनी दोस्त तीन वाला रास्ता अपनाया और उसी दिन रात को हम दोनों मेरे लैपटॉप पे लेस्बियन वीडियोज़ देखने लगे | हमने चार पाँच वीडियोज़ देखे और उसके मैंने दरवाज़ा बंद किया, कपड़े उतारे और उसके बाजू में आके चूत में ऊँगली करने लगी | तो उसने कहा अच्छा मतलब तुम लेस्बियन हो, तो मैंने कहा हाँ, तो उसने कहा पहले क्यों नहीं बताया मुझे भी मज़ा आता है इन सब में | इतना कहने के बाद वो भी अपने कपड़े उतारने लगी और नंगी होके मेरे साथ बैठ गई और अपनी चूत मलने लगी | चूत मलते हुए उसने कहा मैंने पहले कभी किसी लड़की के साथ नहीं किया, तो मैंने आज मौका मिला है और मेरे साथ रहोगी तो ऐसे मौके मिलते रहेंगे | फिर मैंने उसके दूध चूसना शुरू किया और दूध चूसने के बाद, मैंने उसकी चूत चाटना शुरू कर दिया | मैंने उसकी चूत चाटी और वो उम्म उम् उम्म्म म्मम्म मम्म ऊम्म्म्म अह्ह्ह अह्ह्ह अह्ह्ह उम्म्म उम्म्म अह्ह्ह आआ आआ उम्म्म्म करती रही | उसकी चूत चाटने के बाद जब मैं रुकी तो उसने कहा पहली बार किसी ने चाटी है अगर पता होता इतना मज़ा आता है इसमें तो रोज़ अपने बॉयफ्रेंड से चटवाती | तो मैंने अब उसकी ज़रूरत नहीं और उसके बाद वो मेरी चूत चाटने लगी |

उसने भी मेरी चूत बहुत देर तक चाटी और उसके बाद हम दोनों बैठके अपनी चूत में ऊँगली करने लगे और उम्म उम् उम्म्म म्मम्म मम्म ऊम्म्म्म अह्ह्ह अह्ह्ह अह्ह्ह उम्म्म उम्म्म अह्ह्ह आआ आआ उम्म्म्म करते रहे | थोड़ी देर चूत में ऊँगली करने के बाद हम दोनों का पानी निकल गया और हम जाके अपने अपने बिस्तर पे सो गए | उसके लगभग दो तीन दिन बाद डिलडो भी आ गया और उसने हमारी मौज मस्ती में चार चाँद लगा दिए | जब डिलडो आया तो सिर्फ मैं ही हॉस्टल में थी मेघा अपने कॉलेज गई थी तो मैंने आर्डर रिसीव किया और अन्दर लाके जब निकाला तो उसका साइज़ देखके मेरी तो फटने लगी | पहले मैंने अपना पजामा उतारा और पैंटी भी और उसके बाद अपनी चूत मलते हुए डिलडो चूसने लगी | जब मेरी चूत भी थोड़ी गीली हो गई तो पहले मैंने उसका उपरी हिस्सा अपनी चूत में डाला और मुझे दर्द होने लगा तो मैंने उससे बाहर निकाला और चूत में ऊँगली करने लगी दो ऊँगली डाल के | जब मैंने थोड़ी देर ऊँगली कर ली उसके बाद मैंने डिलडो को अपनी चूत में डाला और वो थोडा सा अन्दर चला गया और मैंने भी ज्यादा अन्दर नहीं डाला और उतना ही अन्दर बाहर करके चुदने के मज़े लेने लगी | उसके बाद मैं ऐसा करी रही जब तक मेरा मन नहीं भरा और फिर उसके बाद मैंने उसको छुपा के रख दिया |

फिर जब मेघा शाम को वापस आई तो उसको मैंने उसके बारे में कुछ नहीं बताया और रात को जब हम नंगे होकर एक दूसरे के मज़े ले रहे थे तो मैंने उससे कहा अच्छा आँखें बंद करो और उसने आँखें बंद कर ली | मैं भी डिलडो निकाला और उसकी चूत में डाल दिया और उसकी एकदम से चीख निकल पड़ी | फिर मैंने उसकी चूत में डिलडो धीरे धीरे अन्दर बाहर किया और वो अहह अहह अहह अहह आआ ऊम्म्म्म अह्ह्ह अह्ह्ह अह्ह्ह अह्ह्ह आआ आआ उम्म्म्म करती रही | उस दिन हम दोनों एक एक दूसरी की चूत को डिलडो से चोदा जब तक हमारा मन नहीं भरा और उसके बाद हम सो गए | हम दोनों अभी भी रोज़ इसी तरह मज़े लेते है और आगे भी लेते रहेंगे |

Bhabhi Ki ChudaiHindi Kahani

Leave a Comment