दीदी: चल विकाश मुझे कही जाना है sex stories
मैं:ठीक है दीदी

दीदी मुझे एक बाबा के पास ले गयी. बाबा ने दीदी को कुछ उपाय करने को बोला. दीदी माँ बनने के लिए ५ सालो से इन बाबाओ के चक्कर काटती रहती है.
मैं अपनी दीदी का परिचय दे दूँ. मेरी दीदी शिला मुझसे १० साल बड़ी है, दिखने में बहुत ही सुन्दर और गोरी है. उम्र ३२ साल और फिगर ४०-३०-४० है. दीदी का बदन शादी के बाद और गदरा गया था. बड़ी बड़ी पपीते के जैसे तनी हुई चूचियां और भरी हुई चौड़ी गांड किसी का भी लंड खड़ा करदे.
आज उन्होंने ग्रीन कलर की साड़ी पहनी हुई थी.और ब्लाउज काफी डीप था. दीदी का क्लीवेज लाइन पूरा दिख रहा था, आधी से ज्यादा चूची नंगी थी साली की. कसी हुई साड़ी में उनकी मटकती हुई गदरायी गांड जानलेवा थी. मैं क्या बाबा भी दीदी की जवानी को ताड़ रहा था. मैं बहुत दिनों से दीदी को चोदने का प्लान बना रहा था. वहा से हम वापस घर आ गए.

मैं: दीदी आप इन ढोंगी बाबा के चक्करो में क्यू पड़ी हो
दीदी: क्या करू भाई, शादी के ८ साल बाद भी बाद भी बच्चा नहीं हो रहा है
मैं: दीदी आप कितने सालो से इन बाबा के चक्कर काट रही हो पर कुछ हुआ है क्या? ये सिर्फ पैसा लूट रहे है आपसे
दीदी: पर क्या करू भाई
मैं: दीदी आपको माँ बनाने के लिए दमदार लंड चाहिए, लगता है जीजाजी के पास वो नहीं है
दीदी: क्या बक रहा है.. होश में है
मैं: सच कह रहा हूँ दीदी और आपके भाई के पास जबरदस्त लंड है, जिससे वो आपको चोदना चाहता है
दीदी: छी भाई तुझे शर्म नहीं अति .. ऐसे बातें करते हुए
मैं: दीदी अपने सब चीज try कर लिया, एक बार मेरी बात भी मान लो
दीदी: पर हम भाई बहन है ऐसा कैसे कर सकते है
मैं: सोचलो दीदी मैं आपकी शादी बचा सकता हूँ,
दीदी: ठीक है ये उपाय भी देखलेते है
मैं: सच दीदी.. आप टेंशन मत लो आपका भाई आपको बहुत चोदेगा और आप माँ बन जाओगी..
दीदी: अह्ह्ह्ह भाई तुझे बिलकुल भी शर्म नहीं है
मैं: दीदी आपकी जैसी माल को चोदने के लिए शर्म छोड़ना पड़ेगा. कसम से दीदी बहुत गदराई जवानी है आपकी, कितनी बड़ी बड़ी चूचियां है आपकी
दीदी: अच्छी लगती है तुझे… आ देख ले अच्छे से

दीदी ने अपना पल्लू गिरा दिया. उनकी पहाड़ जैसी चूचियां अब खुला आमंत्रण दे रही थी. दीदी की हर साँस के साथ अधनंगी चूचियां ऊपर निचे हो रही थी.

मैं: कसम से दीदी ये क्या दिखा दिया अपने.. पूरा लंड खड़ा कर दिया
मैं दीदी के पास गया और उनका ब्लाउज फाड़ दिया. उनकी फुटबॉल जैसी चूचियां अब नंगी मेरे आँखों के सामने थी. मैं उनकी चूचियों को मसलने लगा

मैं: क्या मस्त चूचियां है दीदी आपकी
दीदी: अह्ह्ह्हह्ह्ह्ह भाई.. तूने मेरी चुदास जगा दी है..
मैं: घबरा मत साली.. बहुत चुदाई करूंगा तेरी
दीदी: अह्हह्ह्ह्ह… उईईईईई भाई.. और दबा मजा आ रहा है

मैंने दीदी की साड़ी उतर दी, अब दीदी नंगी बेड पर पड़ी थी. दीदी का गोरा, नंगा और जवान बदन मेरे आँखों के सामने था.. मैंने अपना लंड निकाला और दीदी की बूर में पेल दिया…

दीदी: उईईईईई माँ … बस कर भाई…. बड़ा मोटा लंड है
मैं: दीदी आज तो आपकी बूर फाड़ूंगा मैं
दीदी: अह्हह्ह्ह्ह.. फाड़ दे भाई.. चोद ले अपनी बहन को. और चूस ले मेरी जवानी
मैं: येले साली फिर.. खा मेरे पूरा लंड

अब मेरा लंड पूरा दीदी की चुत में समा गया था… और दीदी की आहों से रूम गूंज रहा था..

दीदी: आह्ह्ह्हह.. ओह्ह्ह्हह्ह
मैं: ओह्ह्ह्ह शिला मेरी रांड दीदी.. क्या बदन है तेरा
दीदी: अह्ह्ह्हह.. उईईईईई भाई और तेज
मैं: ओह्ह्ह्ह .. आह्ह्ह्हह्ह … क्या बड़े बड़े आम है दीदी आपके.. आपको चोदकर मेरा लंड धन्य हो गया…
दीदी: और तेज चोद साले…मजा आ रहा है
मैं: दीदी आओ हम सम्भोग करते है एक दूसरे का

दीदी को हग करके उनकी चुदाई करने लगा. मैं उनकी चूचियों को दबादबा कर चोद रहा था. मेरा लंड बहुत तेजी से उनकी चुत में अंदर बाहर हो रहा था..

दीदी: अह्ह्ह्हह भाई.. मजा आ रहा है अपनी बहन को चोदकर..
मैं: हाँ दीदी, आपको मैं कबसे चोदना चाहता था..
दीदी: बहनचोद कही क्या… अपनी बहन की जवान बदन को भोग रहा है..अह्हह्ह्ह्ह
मैं: आज से आप मेरी रंडी बनकर रहोगी… डेली चोदूूँगा मैं आपको
दीदी: चोद ले भाई.. आइईईई….

४० मिनट दीदी को बहुत चोदने के बाद मैंने पूरा माल उनकी बूर में गिरा दिया. १ हफ्ते मैंने दीदी को खूब चोदा. दीदी अब प्रेग्नेंट हो गयी और अब भी मुझसे चुदती है

loading...

Write A Comment