नामर्द पति ने अपनी प्यासी बीवी को मुझसे चुदवाया

दोस्तों मैं सूरत गुजरात से हूँ मेरी उम्र 32 साल हे. ये हिंदी सेक्स कहानी आज से एक साल पहले की हे. मैं रात में सूरत स्टेशन से अपने घर जा रहा था. अचानक एक कार मेरे पास आकर रुकी. उसमे एक आदमी बैठा था. उसने मुझे पूछा आई माता सर्कल जाना हे कैसे जाऊं? मैंने उसे रास्ता बता दिया. उसके कहा की आप कहाँ जाओगे? मैंने कहाँ मोडल टाउन, वो आई माता सर्कल के पास ही हे.

उसने कहा मैं ड्राप कर देता हूँ. मैं कार के बैठ गया. उसने मुझसे पूछा आप क्या करते हो? मैंने कहा मैं टेक्सटाइल मार्किट में अकाउंटेंट हूँ. यूँ ही बातें करते करते हम माता सर्कल पहुँच गए. उन्होंने गाडी एक बंगलो के सामने रोक दी. मैं कहा आप को कहाँ जाना हे यहाँ से? उसने कहा मियन यही रहता हु और सूरत में अभी कुछ दिन पहले ही आया हूँ. उसने फिर मुझे कहा की आप अब कोफ़ी पी कर ही जाना. मैं थोडा हिचकिचाहट सा लगा तो उसने कहा घबराओ मत चलो अन्दर.  मैंने ओके कहा और उनके साथ चल दिया. उन्होंने दरवाजे पर आकर डोरबेल बजाई तो एक औरत ने दरवाजा खोला. वो ज्यादा सुन्दर नहीं थी पर ठीकठाक थी. हम अन्दर चले गए और बहार हाल में बैठ गए. और वो लेडी किचन में कोफ़ी बनाने के लिए चली गई. कुछ देर में वो कोफ़ी लेकर आई. उसने नाईटी पहन रखी थी.

फिर वो कोफ़ी देकर चली गई और हम कोफ़ी पिने लगे. फिर उन्होंने कहा क्या तुम मेरी वाइफ को सटिसफाई कर सकते हो? आइने कहा मैं कुछ समझा नहीं. तो उन्होंने कहा हम पहले बोम्बे मैं रहते थे. मेरी शादी के कुछ दिन बाद मेरा एक्सीडेंट हो गया था. तब से मैं अपनी वाइफ को सटिसफाई नहीं कर पाता हूँ. एक्सीडेंट के बाद से मेरी सेक्स पावर ख़त्म हो चुकी हे और ट्रीटमेंट के बाद भी कुछ नहीं हो पा रहा हे. मैंने कहा आप की वाइफ रेडी हो जायेगी? तो उसने कहा वो तुम मुझ पर छोड़ दो और वो कह कर अन्दर चला गया. और अन्दर लगभग 15 मिनिट के बाद वो दोनों बहार आये. और वो दोनों मेरे पास आ के बैठ गए.

हम लोग थोड़ी देर यहाँ वहां की बातें करने लगे. और फिर उसके हसबंड ने कहा चलो बेडरूम में बैठ कर बातें करते हे. और हम लोग बेडरूम में चले गए. कुछ देर में उसके हसबंड ने कहा मैं दुसरे कमरे में सोने जाता हूँ, आप लोग यहाँ रहो और वो चले गए. हम कुछ देर यु ही बैठे रहे. फिर मैंने कहा आप के हसबंड की प्रॉब्लम की वजह से आप को बहुत तकलीफ होती होगी ना! तो उन्होंने कहा क्या तुम मेरी तकलीफ दूर करोगे. तो मैंने उसका हाथ पकड़ कर उसे अपने पास बुलाया और कहा क्यूँ नहीं ज़रूर. वो मेरे पास आकर बैठ गई और मैंने उसका चहरा अपने पास लिया और उसके होंठो से होंठो को लगा दिया और किस करने लगा. और मेरे हाथ उसके बूब्स पर रख दिए. उसने मेरा हाथ पकड़ लिया.

मैंने उसका हाथ अपने लंड पर रख दिया. व मेरी पेंट पर से ही मेरा लंड दबाने लगी. उसका हाथ लगते ही मेरा लंड अपने रूम में आ गया. फिर उसने मेरा लंड मेरी पेंट से बहार निकाला. वो साढ़े सात इंच का अपने असल रंग में आ चूका था. मैंने उसकी नाइटी उतारी और ब्रा के ऊपर से ही उसके बूब्स दबाने लगा.

फिर उसकी ब्रा के हुक को खोलकर उसकी ब्रा को भी उतार दिया. और उसके बूब्स मैं अपने मुहं में भर के चूसने लगा. वो मेरा लंड हिला रही थी. फिर वो निचे झुक के मेरा लंड चूसने लगी. मैंने उसे रोकी और फिर खड़े हो के अपनी पेंट और अंडरवेर दोनों को उतार दिया. वो मेरा लंड मुहं में भर के चूसने लगी.

और मैं उसके बूब्स को अपने एक हाथ से लगातार दबा रहा था. और फिर 10 मिनिट्स चुसवाने के बाद मैं उसे बेड पर ले गया. मैंने उसे लिटा दिया और फिर से उसके बूब्स को चूसने लगा. मैंने अब अपना एक हाथ उसकी चूत पर रखा और उसकी पेंटी ऊपर से ही उसकी चूत रब करने लगा. उसकी चूत अन्दर बहार से गीली हो गई थी.

फिर मैंने उसकी पूरी बोडी चूमने लगा और वो धीरे धीरे उसकी चूत के पास पहुँच गया. मैंने धीरे से उसकी पेंटी उतार दी और उसकी चूत को चूम लिया. वो सिहर उठी. मैं उसकी चूत चाटने लगा. वो मेरा सर पकड कर अपनी   चूत पर दबाने लगी. मैंने अपनी जीभ उसकी चूत में डालकर चोदने लगा और मोनिंग कर रही थी सीईईइ सीईई ह्ह्ह्हह्हह्ह्ह. फिर मैं वापस उसे किस करने लगा और अपनी एक फिंगर उसकी चूत में डाल दी और उसका फिंगर फकिंग करने लगा.

वो भी अपना हाथ मेरे लंड पर लाकर मेरा लंड हिलाने लगी. कुछ देर बाद मैं उसके ऊपर आ गया और उसकी चूत में लंड डालने लगा. उसकी चूत बड़ी टाईट थी लंड अन्दर नहीं जा पा रहा था. मैंने वापस उसकी चूत चाटी और उसे पूरा गिला कर दिया.

फिर मैं ऊपर आया गया और एक जोरदार झटका मारा तो आधा लंड उसकी चूत में चला गया. और वोथोड़ी सिसक गई. मैंने धीरेधीरे से उसे चोदना चालू कर दिया और फिर मैं कुछ ही पल में अपनी स्पीड भी बढ़ा दी. वो मोनिंग कर रही थी आह्ह्ह्ह अह्ह्ह ओह्ह्ह्ह ओह्ह्ह्ह ईईईइ उईईइ!

कुछ देर ऐसे ही चोदने के बाद मैंने उसे कुतिया बनने के लिए कहा. और जब वो घोड़ी बनी तो मैंने पीछे से अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया और उसे मस्त चोदने  लगा. वो भी अपनी गांड हिला हिला के मोनिंग करते हुए चुदवा रही थी. और फिर मैं बेड में लेट गया और उसे अपने ऊपर चढ़ने के लिए कह दिया. वो मेरे लंड की सवारी करने लगी और जम्प करने लगी लंड डीप तक अपनी बुर में लेने के लिए. मैं उसके बूब्स मसल रहा था और निचे से उसकी चूत को चोद रहा था.

फिर मैं भी बैठ गया और उसे गोद में बिठाकर चोदने लगा. वो अपनी कमर हिला हिला के चुदवा रही थी. फिर मैंने उसे वापस लिटा दिया और उसकी चूत में लंड डाल दिया और अब की मैं एकदम तेज झटके मारने लगा.

वो भी अपनी कमर को हिला हिला कर चुदवा रही थी और फिर जोर से मुझे अपनी बाहों में जकड़ लिया उसने. दुसरे ही पल उसकी चूत से चुदाई का झरना बह निकला और वो झड़ गई. मैंने भी अपने लंड के पानी को इस मच्योर लेडी की बुर में ही छोड़ दिया.

लंड को चूत से निकाल के मैं भी खड़ा हो गया. अपने कपडे पहन रहा था तो वो बोली, आप मस्त करते हो और बहुत लम्बा चोदते हो. मैंने निचे झुक के उसे किस करते हुए कहा, आप भी मस्त लेती हो लंड को.

उसने अपने पर्स से मुझे दो हजार का नोट दिया. लेकिन मैंने उसे कहा की, मैं आप को खुश करता हूँ तो खुद भी तो खुश होता हूँ, मैं ये पैसे नहीं ले सकता.

वो बोली, अच्छा लेकिन फिर बुलाऊंगी तो आओगे तो सही ना?

Chut Ki ChudaiCouple SexHindi KahaniHindi Sexy Kahaniyaindian sex storiesmeri chudaiPehli ChudaiRisto me chudaiअदला बदलीइंडियन सेक्सी बीवीखुले मे सेक्सचुदाई की कहानियाँ

Leave a Comment