_

सविता भाभी का WhatsApp यहाँ से डाउनलोड करो और बाते करे पूरी नाईट सेक्सी भाभी से [Download Number ]


पायल मेरे लंड की दीवानी हे उसे में लंड नहीं देता तब वो इतना तड़पती हे की जैसे चुत में आग लगी हो

हाय फ्रेंड्स, मेरा नाम जोनी है, मेरी उम्र 24 साल की है और मैं नवाबों के शहर लखनऊ का रहने वाला हूँ. मैं भी आप सभी की तरह ही कामलीला डॉट कॉम की कहानियों का एक प्रशंषक हूँ और आज मैं आप सभी के सामने मेरे साथ घटी एक सच्ची घटना को एक कहानी के माध्यम से बताने जा रहा हूँ. दोस्तों मेरे साथ जो यह घटना घटी थी इसमें सब कुछ इतनी जल्दी हुआ और यह सब मुझसे ग़लती से हुआ था. हाँ तो दोस्तों अब मैं आप सभी का ज्यादा कीमती समय ना लेते हुए सीधा मेरी कहानी पर आता हूँ जो कुछ इस प्रकार से है।

दोस्तों मेरे पड़ौस में एक परिवार रहता था, जिसमें दो लड़कियाँ और एक लड़का था. और उस परिवार में दोनों लड़कियाँ लड़के से बड़ी थी, बड़ी वाली का नाम पायल था, और मेरी यह कहानी उसके और मेरे बारे में ही है. अब मैं आप सभी को थोड़ा पायल के बारे में भी बता देता हूँ. दोस्तों वह लड़की एकदम गोरी-चिट्टी थी, उसकी आँखें थोड़ी भूरी सी थी. और उसके होंठ एकदम गुलाबी थे, उसका फिगर तो पूरा का पूरा ही एकदम कमाल का था यारो, 34-28-34 उसके फिगर की साइज़ थी. और सबसे बड़ी बात तो यह थी कि, वह मुझसे दो साल बड़ी थी. लेकिन बड़ी लड़की के साथ ही सेक्स करने में मजा आता है दोस्तों. हम दोनों पिछले काफी सालों से दोस्त थे इसका मतलब आप कह सकते हो कि, हम बचपन से ही… जब वह 10 साल की थी और मैं 8 साल का था. और आज वह 26 साल की है और मैं 24 साल का हूँ और मेरा लंड 6” लम्बा और 2.5″ मोटा है. अब मैं मेरे साथ घटी उस घटना पर आता हूँ।

दोस्तों हुआ ऐसे कि, नवम्बर के महीनें में मेरे बड़े भाई की शादी हो रही थी तो उनके पूरे परिवार को भी शादी में आना था, इसलिए मेरी मम्मी ने पायल को बुला लिया था शादी वाले घर में काम में उनकी मदद करवाने के लिए. दोस्तों उस समय सर्दियों के दिन थे, और एक रात को उसने नीली जीन्स की एकदम टाईट फिटिंग वाली पेन्ट और उसके ऊपर एक गुलाबी रंग का टॉप पहना हुआ था, जिसमें वह बहुत ही गजब की लग रही थी. और फिर हम लोगों ने काम से निपटने के बाद में साथ में बैठकर खाना खाया और उसके बाद घर की महिलाएं तो गीत गाने लगी और हम दोनों भी छत पर जाकर एक ही रज़ाई में दुबककर बैठ गए थे क्योंकि घर में मेहमान ज्यादा होने की वजह से नीचे के सभी कमरे पूरे भरे हुए थे. और फिर पायल मेरे मोबाइल में फ़िल्मी वीडियो गाने देख रही थी तो समय बिताने के लिए मैं भी उसके साथ बैठकर वह गाने देखने लग गया था. और फिर 2-3 गाने निकलने के बाद अचानक से मेरे मोबाइल में अगले वीडियो में एक सेक्सी फिल्म शुरू हो गई थी. और फिर मुझको वह देखकर डर सा लगने लगा कि, कहीं अब यह मेरी मम्मी से ना बोल दे।

और फिर मैंने उससे मोबाइल माँगा वह फिल्म बन्द करने के लिये तो उसने मुझको कहा कि, चलाने दो ना अच्छा लग रहा है और फिर तो मुझे भी क्या चाहिए था, और फिर मैं भी यह सोचकर खुश हो गया कि, चलो आज तो काम बन ही जाएगा. लेकिन फिर हमने 1-2 फिल्म ही देखी थी कि, उसके बाद मेरा भाई आकर उस मोबाइल को ले गया था. और फिर मैं अपनी किस्मत को कोसने लग गया था. और फिर हम दोनों वैसे ही लेट गये थे और फिर करीब 10-15 मिनट के बाद मैंने थोड़ा सा डरते हुए रजाई के अन्दर से ही अपना एक पैर उसके पैर से लगाया। और फिर उसने मुझको कुछ भी नहीं बोला था. और फिर तो धीरे-धीरे मैंने हिम्मत करके अपना एक हाथ उसके बब्स पर भी लगा दिया था और फिर तो मैं अपने दूसरे हाथ से उसकी गर्दन को पकड़कर अपने होठों को उसके होठों पर रखकर चूमने लग गया था. बहुत नरम और रसीले होठं थे यारों उसके, और फिर मैंने उसका टॉप उसकी कमर पर से पकड़कर ऊपर कर दिया था क्योंकि उसको उतारने में डर था कि, छत पर कहीं कोइ आ ना जाए! और फिर मैंने अपने होठों को उसके एकदम टाईट बब्स के उठे हुए गुलाबी निप्पल पर लगाकर उनको चूसने लग गया था. और उसके बब्स को चूसते-चूसते ही मैंने अपने एक हाथ से उसकी जीन्स की पेन्ट का बटन खोलकर उसकी जीन्स को उसके घुटनों तक सरका दिया था. और फिर मैं उसकी पैंटी के ऊपर से ही उसकी चूत को रगड़ने लग गया था।

दोस्तों मेरे ऐसा करने से उसकी पैंटी आगे से पूरी तरह गीली हो चुकी थी. और पायल भी अपने मुहँ से दबी-दबी आवाज़ में सिसकियाँ ले रही थी. और फिर मैंने अपनी एक ऊँगली उसकी चूत के अन्दर भी डाल दी थी, जिससे वह धीरे से चिल्ला पड़ी थी और फिर वह मुझसे बोलने लगी थी कि, लग रही है! तो फिर मैंने भी उसको कहा कि जान, अभी तो ऊँगली ही गई है, जब यह वह मेरा 2.5” का मोटा लंड अन्दर जाएगा तो तुम क्या करोगी? और फिर वह मेरी इस बात से डरने लग गई थी. तो फिर मैंने उसको कहा कि डरो मत, मैं तुमको बिलकुल भी दर्द नहीं होने दूँगा. और फिर मैंने उसके बब्स को चूसते हुए अपनी जीन्स की पेन्ट भी उतार दी थी. और फिर मैंने उसका हाथ पकड़कर अपने लंड पर रख दिया था. तो फिर वह मुझसे बोली कि जोनी, यह तो बहुत मोटा और लम्बा है? तो फिर मैंने उसको कहा कि मेरी जान, तभी तो मज़ा आएगा! और फिर मैंने उसको लेटे-लेटे ही उसकी कमर से पकड़कर अपने सीने से लगा लिया था जिसकी वजह से मेरा लंड अब उसकी चूत को छूने लग गया था. और फिर मैं उसकी पैंटी को नीचे करके अपना लंड उसकी चूत में डालने लग गया था। दोस्तों ये कहानी आप कामलीला डॉट कॉम पर पढ़ रहे है।

दोस्तों, अब आप यह सोच रहे होगें कि, जीन्स की पेन्ट को घुटनों तक उतारकर कोइ कैसे यह काम कर सकता है? हाँ तो दोस्तों इसके जवाब के लिये मैं आपसे यह कहूँगा कि, मैं उसके पैरों के बीच में से निकलकर उसके ऊपर आ गया था जिसकी वजह से अब मेरे लंड का निशाना सीधे उसकी चूत हो गई थी. और फिर मैंने अपने लंड को उसकी चूत पर रखकर एक हल्का सा झटका मारा जिसकी वजह से वह दर्द से चीखने ही वाली थी पर उसने अपनी चीख को अपने मुहँ में ही दबा लिया था. और फिर मैंने उसके मुँह पर अपना हाथ रखकर एक ऐसा झटका मारा कि, इसबार मेरा लंड 5” तक उसकी चूत में चला गया था और फिर वह मेरा हाथ अपने मुँह से हटाने की कोशिश करने लगी पर मैंने नहीं हटाने दिया था।

और फिर मैं 5-7 मिनट तक वैसे ही बिना हिले डुले उसके ऊपर ही रहा. और फिर जब मुझको लगा कि, वह अब वह ठीक है, तब मैंने अपने लंड को धीरे-धीरे आगे-पीछे करना चालू कर दिया था, जिसकी वजह से पायल को भी अब मजा आने लग गया था. और फिर मैंने उसको कहा कि मेरी जान, बस एकबार और संभाल लेना! और फिर मैंने उसकी चूत में अपने लंड से एक और झटका दिया और इसबार मेरा पूरा का पूरा ही लंड उसकी चूत में चला गया था और वह फिर से दर्द से तड़पने लग गई थी लेकिन इसबार वह थोड़ी देर के बाद ही ठीक भी हो गई थी. और फिर तो वह भी अपनी कमर को उठा-उठाकर मुझको चोदने का इशारा कर रही थी. और फिर मैं भी उसी अवस्था में उसकी चूत में झटके मारने लग गया था और वह भी मेरा बराबर साथ दे रही थी। और फिर करीब 15-20 मिनट की चुदाई के बाद वह अकड़कर झड़ गई थी. लेकिन मैं अभी भी उसकी चूत को अपनी पूरी रफ़्तार से चोद रहा था। और फिर वह मुझसे बोली कि तुम ऐसे कब तक करोगे?.

तो फिर मैंने उसको कहा कि मेरी जान, मैं झड़ने में थोड़ा ज़्यादा समय लेता हूँ। और फिर मैं उसकी वैसे ही ताबड़तोड़ चुदाई करता रहा और वह भी मज़े से मुझसे अपनी चूत को चुदवाती रही. और फिर करीब 15 मिनट के बाद जब मैं झड़ने वाला था तो मैंने उससे पूछा कि, मेरी जान अब मैं कहाँ पर अपने लंड को झाडूं? तो फिर वह मुझसे बोली कि, मेरे दोनों बब्स पर ही झाड़ दो. और फिर मैंने उसकी चूत में से अपने लंड को बाहर निकाला और फिर मैं उसके दोनों तरफ अपने पैर करके उसके पेट पर आकर बैठ गया था. और फिर मैंने उसके हाथ में अपना लंड देते हुए कहा कि, मेरी जान, अब मेरा यह काम तो तुम ही कर दो. और फिर वह मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़कर जोर-जोर से हिलाने लग गई थी, और मैं भी उसकी चूत में अपना हाथ पीछे करके तेज-तेज मेरी ऊँगली को अन्दर बाहर करने लग गया था. और फिर उत्तेजना के चरम शिखर पर आकर मेरे लंड पर उसकी पकड़ और भी तेज हो गई थी और वह और भी जोर-जोर से मेरे लंड को हिलाने लग गई थी और मैं भी उसकी चूत में अपनी ऊँगली को और भी तेज-तेज अन्दर-बाहर करने लग गया था. और फिर हम दोनों एकसाथ ही झड़ गए थे. और मेरा ढेर सारा माल उसके बब्स पर फ़ैल गया था. और फिर वह मेरे लंड के टोपे को अपने बब्स के निप्पल पर फेर रही थी. और इधर मेरे हाथ में भी उसकी चूत से निकला हुआ पानी लग गया था. और फिर उसने मेरे लंड को बहुत ही मस्त तरीके से चाट-चाटकर साफ़ कर दिया था. और फिर मैंने उसको एक लम्बा सा किस दिया और फिर हमने अपने-अपने कपड़े ठीक किए लेकिन उसने फिर भी मेरे लंड को नहीं छोड़ा था और फिर वह मुझसे बोली कि यार, तुम्हारा लंड तो बहुत दमदार और तगड़ा है, और फिर वह बोली की, मुझको इसे एकबार और भी चूसना है. और फिर से उसने मेरा लंड चूसा और वह मेरा सारा माल पी गई थी. और उसके बाद तो वह मेरे लंड की दीवानी ही हो गई थी और उसके बाद तो मैं उसको जब भी मौका मिलता है चोद देता हूँ।

loading...
Comments