Tag

didi ki gand ki chudai

Browsing

यह जो कहानी लिखने जा रहा हूँ वो कल की ही बात है। मेरे पड़ोस में एक आंटी रहती है उसकी कहानी है। मुझे यह आंटी बहुत अच्छी लगती थी। क्या माल था। उसकी फ़ीगर 38-30-38 है। बड़े-2 चूतड़ और इतनी सेक्सी गाँड थी कि मेरा लंड उसको देख कर तन जाता था। गाँड का पूछो मत, मोटी मोटी गाँड ! जब जब वो चलती थी तो गाँड हिलती रहती। जब जब मैंने आंटी की गाँड देखा करता था मेरा लंड जोश में आ जता। आंटी बहुत ही सेक्सी थी। बेचारी आंटी अंकल के काम की वजह से एंजोय भी नहीं करती थी। उसके पति आर्मी ओफ़िसर थे, अक्सर बाहर ही रहते थे। एक दिन मैं उनके घर गया, सोनिया आंटी अकेली थी।

सुनीता बुआ हमारी बुआ की दूर के रिश्ते में देवरानी लगती हैं, इस नाते हम उन्हें भी बुआजी ही कहते हैं। फूफाजी सेना में कर्नल पद पर थे और ज्यादातर पोस्टिंग पर सुदूर सीमा पर ही रहते थे। इस कारण परिवार साथ नहीं रहता था। सुनीता बुआ के दो बच्चे थे बड़ा लड़का पांच साल का और लड़की ढाई साल की। स्टेशन गया तो पता लगा कि उस तारीख में स्लीपर क्लास 200 वेटिंग में है। मैं वापस आ गया तो पापा बोले- अरे बेवकूफ, ऐ सी कोच में बुक करा लेता ! फिर गया और ऐ सी कोच में टिकट बुक करा कर आ गया। नियत समय पर यहाँ से गाडी चल दी। पापा छोड़ने आए थे, आखिर तक समझाते रहे कि मथुरा…

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम अमित है और में मोहाली का रहने वाला हूँ। दोस्तों में पिछले कुछ महीनों से इस साईट पर सेक्सी कहानियाँ पढ़ता आ रहा हूँ और मुझे इसकी सभी कहानियाँ बहुत अच्छी लगती है, जिन्हें पढ़कर मुझे बहुत मज़ा आता है और आज में आप सभी के सामने वैसी ही अपनी एक सच्ची घटना सुनाने जा रहा हूँ और में उम्मीद करता हूँ कि जिसको पढ़कर आप सभी को बहुत मज़ा आएगा और दोस्तों सबसे पहले में थोड़ा अपने बारे में भी बता देता हूँ। मेरी उम्र 22 साल हाईट 5.8 इंच और मेरी अच्छी खासी बॉडी है, क्योंकि में हर रोज जिम जाता हूँ।

मैं मुंबई के एक उपनगर डोम्बीवली का रहने वाला हूँ, मेरी उम्र २३ साल है। मेरा कद 5’6″, रंग सांवला और बदन कसरत की वजह से अच्छा कसा हुआ है, मेरा लण्ड 8 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा है। यह मेरी पहली और सच्ची कहानी है। जब मैं बीस साल का था और बी कॉम के आखिरी साल की पढ़ाई कर रहा था।

दोस्तो, मेरा नाम पवन है.. मैं दिल्ली का रहने वाला हूँ। शरीर से एकदम फिट और चुस्त दुरुस्त हूँ। मेरी उम्र 23 साल है व मेरा लंड का नाप 6″ लंबा और 2″ मोटा है। मैं अभी कॉलेज की पढ़ाई कर रहा हूँ और इसके साथ-साथ लड़कियों और भाभियों को प्यार करना ही मेरा सबसे पहला काम है। तो बात कुछ 8 महीने पहले की है.. हमारे पड़ोस में एक फैमिली रहती है.. उस फैमिली में 4 लोग रहते हैं। एक 47-48 साल की महिला.. उसकी एक लड़की.. एक लड़का और लड़के की बीवी हैं। उन आंटी का लड़का सीआईएसएफ में जॉब करता है.. उसकी बहू हाउस वाइफ है और लड़की अभी पढ़ाई कर रही है।

हैलो दोस्तो, मैं परवेज फरीदाबाद से हूँ। मैं पहली बार अपनी कहानी लिख रहा हूँ। जब मैं 18 साल का था, यह तब की बात है। मेरे बड़े पापा (ताऊ) के दूसरे बेटे ने भाग कर शादी की, इसलिए उनके वापिस आने पर एक पार्टी दी गई, उसमें हमारे परिवार के सभी सदस्य शामिल थे, पार्टी रायपुर में दी गई थी। पार्टी ख़त्म होने के दो दिन बाद हमारे घर के अधिकतर लोग वापस चले गए पर मैं घूमने के लिए कुछ दिन वहाँ रुक गया। मेरी बड़ी भाभी मुझे बहुत पसंद करती थीं, उन्होंने मुझे वहीं रोक लिया था।

हैल्लो दोस्तों, में अपनी स्टोरी आपके साथ शेयर करना चाहता हूँ। मेरा नाम ऋषि है और में आपको अपने पहले सेक्स की स्टोरी बताने जा रहा हूँ जो कि मैंने अपनी भाभी के साथ किया और यक़ीनन ये आपको पसंद आयेगी और ये मेरी रियल स्टोरी है। मेरी उम्र अभी 25 साल की है और मेरी हाईट 5 फुट 5 इंच है। में अभी दिल्ली में जॉब करता हूँ और में पहले अपनी फेमिली के साथ चंडीगढ़ में रहता था और मेरे मामा जी के बड़े बेटे और भाभी भी हमारे पास में ही रहते थे। हमारे पास 2 BHK का फ्लेट था तो वो हमारे पास वाले फ्लेट में ही रहते थे। उनके एक छोटा बेटा भी था। मेरे भाई की उम्र 30…

हेल्लो दोस्तों, मेरा नाम मोहित है, मै एक स्टूडेंट हूँ, मेरी उम्र २० साल है, मैं दिखने में भी स्मार्ट हूँ, और मेरे लंड का साइज़ ८ इंच लम्बा है. मैं सेक्स स्टोरीज का नियमित पाठक हूँ, और आज पहली बार मैं अपने पहले सुहागरात की कहानी बताने जा रहा हूँ. यह बात दो साल पहले की है, तब जनवरी का महिना था मेरे चाचा को बिज़नस के काम से शहर से दूर कई बाहर जाना पड़ा था, तब उनके घर पे चाची के अलावा कोई भी नहीं था तो उन्होंने पापा से कहा की रात में सोने के लिए मुझे चाची के पास भेज दे ताकि चाची को कोई प्रॉब्लम न हो.

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम हंसिका है और मेरी उम्र 23 साल है। में कोलकाता कि रहने वाली हूँ और मेरा फिगर साईज 36-30-36 है। मेरी लड़कियों से ज़्यादा दोस्ती कभी नहीं रही थी। ये कहानी तब की है जब मैंने पी.जी में एड्मिशन लिया था। हमारे सीनियर बैच में बहुत ही मस्त लड़के थे। जब मैंने कॉलेज जॉइन किया था तो हॉस्टल में मेरे बैच के काफ़ी कम बच्चे आए थे और सब कैम्पस में ही रहते थे, तो हुआ यू कि कॉलेज पहुँचने के बाद मेरी दोस्ती एक सीनियर लड़की से हुई, उन्होंने मुझे शुरू के कुछ दिनों में काफ़ी मदद की थी। फिर एक दिन उन्होंने मुझे अपने एक दोस्त से मिलवाया, जिसका नाम साहिल है। मैंने जब साहिल को फर्स्ट टाईम…

मेरा नाम अलंकृता है. यह घटना तब की है जब मैं 12वीं कक्षा में थी. मेरे माँ-पिता जी का समय-समय पर गाँव जाना रहता था. मैं खुद अपने मुँह मियाँ-मिट्ठू तो नहीं होना चाहती, पर हकीकत यही है कि मैं दिखने में खूबसूरत हूँ, लड़के हमेशा से मेरे आशिक रहे हैं. मैंने काफी के साथ मज़े किए हैं, पर जो घटना मैं यहाँ आपके संग बाँट रही हूँ, वो उनमें से अलग है. मेरे घर के ठीक बगल में एक युवक रहता था. उनकी उम्र यही कोई 24-25 के आस-पास थी, उसका नाम मनोज था और उनका मेरे घर में हमेशा आना-जाना लगा ही रहता था. वो पापा के ऑफिस में ही काम किया करते थे. मेरा कोई भाई नहीं था तो कभी-कभार मनोज भैया के…