तीन बच्चो की माँ को संतुष्ट किया

loading...

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम सेंडी है, उम्र 22 साल और में चंडीगढ़ में रहता हूँ, मेरी हाईट 5 फुट 9 इंच है और रंग गोरा, सामान्य बॉडी है। में इस साईट का नियमित पाठक हूँ और में पिछले एक साल से इस साईट की सारी स्टोरी पढ़ रहा हूँ और आज में आपको अपनी एक रियल स्टोरी बताने जा रहा हूँ जो आज से कुछ साल पहले की बिल्कुल रियल स्टोरी है।

ये कहानी उस समय की है जब में IInd ईयर कर रहा था तो हमारे मौहल्ले में एक नई फेमिली रहने आई। उस फेमिली में 5 लोग थे अंकल, आंटी, और उनके तीन बच्चे, आंटी की उम्र करीब 30 साल और उनके पति की उम्र 40 साल के करीब थी और बच्चों की उम्र 7 साल, 5 साल, और 3 साल थी। जब उन्होंने शिफ्ट किया तो में आंटी को देखता ही रह गया। फिर में रोज सुबह शाम उनकी झलक पाने को तैयार रहता था। अंकल अक्सर अपने बिज़नस के लिए बाहर जाते रहते थे। फिर कुछ दिन के बाद जब में अपनी छत पर खड़ा आंटी को देख रहा था तो उसने मुझे नोटीस किया और मुझे देखकर हंस पड़ी तो दोस्तों हंसी तो फंसी आप जानते ही हो।

फिर धीरे-धीरे इशारे होने लगे और कुछ दिन ऐसे ही कट गये। फिर उसके बाद एक दिन मैंने इशारो में आंटी का फोन नम्बर माँगा तो उन्होंने एक स्लिप पर लिखकर मुझे बाहर फेंक दिया और उसके बाद हमारी फोन पर बात होने लगी। फिर वो दिन आया, जब आंटी ने मुझे बताया कि उनके पति कल टूर पर जा रहे है तो मैंने उनसे पूछा कि में आ जाऊं तो उन्होंने हाँ कहा और में खुशी से पागल हो गया। फिर में अगले दिन कंडोम लेकर रात होने का इंतज़ार करने लगा, फिर में रात के 11 बजे उनके घर गया और जल्दी से अंदर आते ही उन्होंने दरवाजा अन्दर से बंद किया। अब एक रूम में उनके बच्चे सो रहे थे तो फिर हम दूसरे रूम में चले गये। अब वहाँ जाते ही मैंने उन्हें पकड़ कर एक किस किया और फिर थोड़ी बातें हुई। जब आंटी ने नाइटी पहनी थी और नीचे कुछ नहीं पहना था, ना ब्रा और ना पेंटी, अब शायद वो पहले से ही चुदने के लिए तैयार थी और बातों-बातों में उन्होंने मुझे बताया कि उसका पति उसे संतुष्ट नहीं कर पाता है, इसलिए उसने काफ़ी सोचने के बाद मुझे यहाँ बुलाया है। फिर क्या था? मैंने भी उसे पकड़ कर किस करना शुरू किया और कहा कि आज के बाद में हूँ ना। फिर हम किस करते हुए एक दूसरे की ज़ुबान भी चाट रहे थे और साथ ही में उसकी नाइटी के ऊपर से कभी लेफ्ट तो कभी राईट बूब्स दबा रहा था।

loading...

अब आंटी मौन कर रही थी और फिर मैंने उसे पकड़ कर बेड पर लेटा दिया और साथ ही खुद भी लेटकर अपना एक हाथ उसके बूब्स पर और दूसरा हाथ उसकी चूत पर ले गया और रगड़ने लगा। अब 10 मिनट तक उसकी बॉडी मसाज करते हुए हम दोनों गर्म हो गये थे। फिर हम खड़े हो गये और एक दूसरे के कपड़े खोलने लगे। अब मेरा लंड जो कि 7 इंच लंबा और 3 इंच मोटा था, अपने पूरे रूप में आ चुका था। अब हम दोनों के नंगे होते ही में आंटी की चूत देखकर शॉक हो गया, उनकी चूत बिल्कुल क्लीन थी और बूब्स साईज़ 34 थी। अब आंटी ने मेरा लंड देखकर कहा कि क्या मस्त बड़ा और मोटा लंड है? में कब से ऐसा ही लंड चाहती थी। फिर क्या था? मैंने उन्हें लेटाकर किस करना शुरू किया और अब किस लिप से स्टार्ट होकर पूरे चेहरे से होते हुए में उनके बूब्स पर आया और एक हाथ से बूब्स को दबाते हुए दूसरे को चूसने लगा।


जिसकी कहानी पढ़ी उसका नंबर यह से डाउनलोड करलो Install [Download]
loading...

और कहानिया

loading...