अपने पाटनर से प्यार के साथ साथ उनपर भरोसा

“सच्चा प्यार कभी भी और कहीं भी हो सकता हैl प्यार एक ऐसा एहसास है, जो बिन कहे भी सब कुछ कह जाता हैl जब किसी को प्यार होता हैl तो वह यह नही सोचता की इसका अंत क्या होगाl और ऐसा इसलिए होता है क्यूंकि वह इन्सान किसी के प्यार में इतना खो जाता है कि बस प्यार के अलावा उसे कुछ दिखाई नही देता हैl”

दोस्तों मैं आपको सच्चा प्यार करने वाले एक प्रेमी जोड़े की कहानी बताने जा रही हूँ जो कि मुझे उम्मीद है आपके दिल छू जायेगीl
एक लड़का थाl वह एक लड़की से बहुत प्यार करता थाl वह उस लड़की के लिए कुछ भी कर सकता थाl पर दिक्कत यह थी कि लड़का बहुत गरीब घर से था जबकि लड़की बहुत अमीर थीl और वहीँ दूसरी दिक्कत यह थी कि लड़का अलग जाति का थाl

इस वजह से दोनों के प्यार मे बहुत कठिनाई आ रही थीl वह लड़का उस लड़की से अक्सर पूछता है “क्या तुम मुझसे शादी करोगी?” लड़की जवाब देती है “मै तो तुमसे शादी करना चाहती हूँ, पर मेरे घर वाले कभी राजी नही होंगे और मै भाग कर शादी नहीं कर सकती हूँl यह समाज बहुत बुरा हैl हमें जीने नही देगाl” और लड़के उससे कहता है “ठीक है! जब मैं अपने पैरो पर खड़ा हो जाऊंगा तो तुम्हारे पापा से तुम्हारा हाथ मागूँगाl”
लड़की हंसकर कहती है “शादी में क्या रखा है? क्या शादी के बाद मेरे दिल में तुम्हारा प्यार कम हो जायेगा?”l यह सुनकर लड़का सोच में पड़ जाता है, मगर वह जैसे-तैसे हंसकर जवाब देता है “क्या तुम मुझे शादी के बाद भूल जाओगी?” इसपर लड़की का जवाब होता है “ऐसा कभी नही होगा और मेरी सांसे रुक सकती पर मेरा प्यार तुम्हारे लिए कम नही होगाl”

समय बीतता गयाl कुछ समय बाद लड़क़ी के घर वाले उसके लिए लड़का देखने लगेl और सच्चाई जानने के बाद वह लड़का जो कि उस लड़की से बहुत प्यार करता था, वह उस लड़की के दिल में अपने लिए नफरत भरने लगाl वह जानबूझकर ऐसा करता था ताकि वह लड़की उससे बहुत नफरत करने लगेl और ठीक वैसा ही हुआ जैसा वह लड़का चाहता थाl उस लड़के ने कुछ ऐसा किया, जिससे लड़की उससे नफरत करने लगीl उस लड़की की शादी किसी और से तय कर दी गईl पर वह अन्दर ही अन्दर बहुत दुखी थीl क्यूंकि वह लड़के को बिलकुल भी नहीं भुला पा रही थीl

जिस दिन उस लडकी की शादी थी उसी दिन उस लड़के ने उस लड़की की छोटी बहन को फोन किया और कहा “मै जो कुछ भी कहूँ, वह सब अपने फ़ोन में रिकॉर्ड कर लेनाl जब तुम्हारी बड़ी बहन आए तो उसे यह रिकॉर्डिंग सुना देनाl उस लड़की की शादी हो गयी और वह शादी के दो दिन बाद अपने घर आती हैl उसकी बहन कहती है “दीदी आपको कुछ सुनाना हैl” वह लड़की हंसकर कहती है “क्या? चल सुना!”

जैसे ही वो फ़ोन चलाती हैl उसमे से रोने की अवाज आती है, वह अपनी बहन से कहती है “ये आवाज तो सोहम लग रही हैl” छोटी बहन कहती है “दीदी जिस दिन आपकी शादी थी, उसी दिन आपके सोहम का फोन आया था और बहुत रो रहा थाl आप खुद ही सुनिए की वह क्या कह रहा थाl”
फ़ोन की रिकॉर्डिंग चलाने पर सोहम रो-रोकर कह रहा था “हिनाया मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूँ, और अपने जीते जी तुम्हारी शादी किसी और के साथ होते नही देख सकता हूँl क्योकि मैंने तुमसे बहुत प्यार किया है और मै अब बस यही चाहता हूँ कि तुम अपनी जिन्दगी में आगे बढ़ो और खुश रहोl मैं तुम्हे कभी भूल नही सकता मेरी जानl” इतना कहकर फोन कट जाता हैl सोहम की यह बात सुनकर वह बहुत रोती है और अपनी बहन पर चिल्लाती है “तूने मुझे उसी दिन क्यों नहीं बताया जब फ़ोन आया थाl” छोटी बहन जवाब देती है”मैं क्या करती, मैं तो कसमों के धागे मे बंधी थीl मै कर भी क्या सकती थी?” वह अपनी बहन को उसी नम्बर पर फोन लगाने के लिए कहती है जिससे सोहम ने फ़ोन किया थाl

छोटी बहन पूछती है “क्यों दीदी?” परन्तु वह छोटी बहन हो बहुत गुस्से में डांट देती है और गुस्से मे कहती है “चल फोन लगा” वह जल्दी से फोन लगाती हैl घण्टी जाती है, दूसरी तरफ फोन उठता है और उधर से आवाज आती है
“हेल्लो,
“हेल्लो, आंटी जी सोहम कहाँ है?”
सोहम की माँ रोने लगती और कहती है “बेटी सोहम इस दुनिया मै नही रहाl वह चोंक जाती हैl और पूछती है “आंटी यह सब कब हुआ और कैसे? सोहम की माँ कहती है “पता नही मेरे सोहम ने ऐसा क्या कर दिया था जो कि उसने जो लगा लीl
लड़की : “आंटी जी कब?”
सोहम की माँ : “19 फरबरी कोl”
यह सब सुनकर वह लड़की फोन कट कर देती हैl” पता है दोस्तों 19 फरबरी क्या था? उसकी प्रेमिका हिनाया की शादी थीl यह सब सुनकर वह बहुत रोयी और रो-रोकर कहने लगी मैंने अपने सोहम पर विश्वास क्यों नही कियाl अगर मैं उसपर विश्वास कर लेती तो मेरा सोहम इस दुनिया से नही जाताl

“लोग मंजिल को मुश्किल समझते हैंl
बड़ा फर्क है लोगो में और हम में,
लोग जिन्दगी को दोस्त, और हम
दोस्त को जिन्दगी समझते हैंl

दोस्तों विश्वास बहुत बड़ी चीज होती हैl हमें अपनों पर भरोसा करना चाहिएl ताकि जो सोहम के साथ हुआ वैसा किसी के साथ न होl अगर प्यार करो तो निभाना भी इ चाहिएl क्यूंकि प्यार वह अहसास है, जो हमे जीने की वजह देता हैl अगर इस दुनिया में प्यार नही तो कुछ भी नहीl प्यार अमीरी-गरीबी देखकर नही होता हैl प्यार तो कभी भी हो सकता है, इसलिए हमे अपने प्यार पर भरोसा होना चाहिएl क्यूंकि “सच्चा प्यार बहुत मुश्किल से मिलता हैl

अगर आप अपने प्यार से किसी बात से नाराज है तो मैं आपको कहना चाहता हूँ की आप अभी अपने पत्नेर को काल करे और हो सके तो मिल के एक दुसरे से बात करके एक प्यार सा हग देके अपनी लाइफ एन्जॉय करे. आपके पत्नेर से आप कभी कभी कोई रुड शब्द बोल देते है आपको पता भी नहीं चलता आपकी एक लाइन आपके पत्नेर को कितना तकलीफ दे सकती है क्योकि कभी कभी कोई बाते दिल में सुई की तरह चुभ जाती है और आप दोनों के बिच धीरे धीरे प्यार के साथ साथ दूरिय बढती चली जाती है.

जैसे की शादीशुदा लोग वो अपने कम में इतनी व्यस्त हो जाते है की अपनी लाइफ पाटनर से कम बाते करना उनकी फीलिंग्स को नहीं समझाते या फिर समझ के भी इगनोर कर देते है आप कम में इतने बिजी हो की अपनी वाइफ को ये बात समझाते है की ये सब आप उन्ही के लिए कर रहे हो ताकि वो खुश रहे तो आप बिलकुल गलत हो आप अपना कम करो लेकिन आप भले ही ज्यादा समय देने के बजे अपनी पत्नेर को कम समय दे लेकिन आप उन्हें जो भी वक्त दे उन्हें वो स्पेशल वाला ट्रीटमेंट दे ताकि आपकी दो मं की बात में उनके दिन भर का गुस्सा शांत हो जाये क्योकि लाइफ कितनी बड़ी है ये आप नहीं जानते कब और कौन सा पल आपका आपकी पाटनर के साथ बिताया आखिरी पल बन जाये इसलिए कभी आपको गिल्ट न हो की शायद आपने उस वक्त उनसे आखिरी बार ही सही अच्छे से बात कर लिया होता उनकी बाते समझ गए होते..इसलिए आपसे कहना चाहता हूँ देर न हो जाये उससे पहले आप संभल ले खुद भी खुश रहे पत्नेर को भी खुस रखे एक दुसरे पे प्यार के साथ साथ पूरा भरोसा भी रखे.

Chut Ki ChudaiGirlfriend ki ChudaiHindi KahaniHindi Sexy Kahaniyaचुदाई की कहानियाँदेसी

Leave a Comment