मेरा नाम रोहित शर्मा है और मैं जम्मू से हूं. मेरी उमर २० साल है और मैं एक हैंडसम और अच्छी बॉडी वाला लड़का हूं. और मैने मेरे लंड का साइज़ कभी चेक नही किया हे लेकिन किसी भी सेक्सी और प्यासी ओरत को शांत करने के लिए काफी हे. तो कोई मेरे साथ करना चाहता हो तो मुझे जरुर कोंटेक्ट करे. अब मैं मेरी कहानी पर आता हूं यह कहानी मेरी और मेरी गर्ल फ्रेंड की है जो अभी कुछ दिनों पहले facebook पर बनी थी. उसका नाम आरती है और वह भी जम्मू की ही है और वह मेरी फ्रेंड के थ्रू मेरी फ्रेंड बनी थी. धीरे धीरे हमारी बात चैट होने लगी और कुछ ही टाइम में हम दोनों काफी क्लोज फ्रेंड बन गए. उसके कुछ दिन बाद ही हमने नंबर एक्सचेंज कर लिए.

फोन नंबर चेंज करने के बाद हम दोनों काफी टाइम फोन पर बातें करते रहते थे. धीरे धीरे बाते सेक्स चैट में बदलती गई और हम रोज रात को सेक्स चैट करते और फिर मुठ मारते. यह हमरे लिए रोज की बात बन गयी थी. एक दिन हमने मिलने का प्लान बनाया सिर्फ मिलने का प्लान था और कुछ भी नहीं था. सॉरी फ्रेंड्स आरती के बारे में बताना ही भूल गया. आरती १९ साल की है और दूसरे साल में पढ़ती है दीखने में गोरी है और थोड़ी मोटी सी है, लेकिन बहुत सुंदर दिखती है. उसकी गांड बाहर को निकली हुई है और बहुत हिला हिला कर चलती है. और उसके बूब्स तो मानो कपड़े फाड़ कर बाहर आ जाएंगे. उसके बूब्स ३४ के हे लेकिन काफी टाइट रखती है ब्रा के अंदर. और ड्रेसेस भी बहोत टाइट पहनती है जिसकी वजह से और ज्यादा बूब्स लगते हे उसके.

तो मैं फिर से स्टोरी पर आता हूं. हमने फोन पर मिलने का प्लान बनाया, क्योंकि मेरी छुट्टियां खत्म होने वाली थी. और उसके बाद मैंने हॉस्टल चले जाना था. क्योंकि कॉलेज में क्लासेस शुरू हो जानी थी, तो हमने मिलने का प्लान बनाया जम्मू में.

अगली सुबह मैं रेडी होकर निकल गया और आरती कॉलेज को बंक करके मुझसे मिलने आ गई जब मैं वहां पहुंचा तो उसे देखता ही रह गया. मैंने उसे पहले कभी नहीं देखा था और वह एकदम माल लग रही थी.

वह टाइट फिट जींस और ब्लू कलर का टाइट टॉप पहन कर आई हुई थी, जिसमें उसके बूब्स बाहर आने को मचल रहे थे. मेरी तो आंखें फटी ही रह गई उसको देखकर. और मैं उसको  घूर रहा था तब आरती ने मुझे देख लिया था. इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम और आरती ने बोला क्या देख रहे हो खा जाओगे क्या यहीं पर? फिर उसने मुझे हग किया और हम घूमने चले गए. हम करीब दो तीन घंटे घुमें. एक पार्क में गए यहां हमने काफी किस भी की थी, और मैंने उसके बूब्स की दबाएं. आरती बहुत एक्साइट हो चुकी थी. तब मैं समझ गया कि यह आज पूरे मूड में है, तो मैंने भी सोच लिया आज मौका है इस को हाथ से जाने नहीं दूंगा.

मैंने उसको बोला कि चलो किसी होटल में चलते हैं वहां लंच करेंगे और साथ में आराम भी कर लेंगे. थोड़े गप्पे भी मारेंगे. आरती भी मेरा प्लान समझ रही थी और झट से मान गई. फिर हम एक होटल में गए पहले हमने लंच किया और फिर लेटकर गप्पे मारने लगे और मैं उसे पूरा ऊपर से नीचे तक घूर रहा था. तो आरती बोली क्या घुरे जा रहे हो खा जाओगे क्या? मुझे घर भी जाना है वापिस तो मैंने बोला

मैं : बेटा आरती आज तो तुझे ऐसे जाने नहीं दूंगा चाहे जो मर्जी कर ले.

आरती : तो क्या करोगे थोड़ी देर बाद मैं घर चली जाऊंगी.

मैं : ठीक है चली जाना मैं कौन सा तुझे भगा के ले जा रहा हूं लेकिन खाली हाथ नहीं जाने दूंगा.

वैसे तो वह भी समझ गई थी बस नाटक कर रही थी और हल्की हल्की स्माइल कर रही थी.

मैंने भी देर न करते हुए सीधा उसको लिप किस करने लगा पहले तो आरती ने कोई रिस्पांस नहीं दिया, लेकिन कुछ देर में वह भी मेरा साथ देने लगी और मैं किस के साथ साथ उसके बूब्स की दबा रहा था जोर से. तो आरती सिसकिया लेना स्टार्ट हो गई आह्ह अह्ह्ह ह्ह्ह ओह्ह्ह अह्ह्ह्ह. धीरे करो दर्द हो रहा है मैं कौन सा कहीं भाग रही हूं, धीरे करो प्लीज आह्ह्ह अह्ह्ह हहह ओह्ह्ह अहह ओह्ह येस्स ओह्ह आरती पूरे मूड में आ चुकी थी.

तब मैंने किस करते करते उसके टॉप में हाथ डाला. जैसे ही मैंने उसकी ब्रा के अंदर हाथ डाला उसने मेरा हाथ रोक लिया और मना करने लगी. मैंने बोला प्लीज एक बार टच करने दे. क्या पता फिर मौका मिले या ना मिले? फिर मेरे रिक्वेस्ट करने पर वह मान गई और ग्रीन सिग्नल मिलते ही मैंने उसका टॉप उतार दिया और देखता ही रह गया. क्या गोरा बदन था उसका और बड़े बड़े बूब्स. जैसे ही मैंने उसकी ब्रा को निकाला वह बहुत शर्मने लगी और बूब्स हाथ पर रख लिए.

जैसे ही मैंने उसके हाथ हटाये मेरी तो जैसे जान ही निकल गई. एकदम बड़े बड़े गोरे गोर बूब्स और ऊपर छोटा सा पिंक पिंक निपल. यह देख कर मुझ से रहा नहीं गया और मैं उसके बड़े बूब्स पर टूट पड़ा और एक एक करके दोनों बूब्स को चूसने लगा. वह बड़ी जोर से सिसकियां लेने लगी  आह्ह अह्ह्ह ओह्ह्ह ययय येस्स्स्स अह्ह्ह ओह्ह्ह रोहित कम ऑन सक मी आह्ह ओह्ह सक माय बूब्स आःह हार्ड अहह ओह्ह आह्ह और जोर से करो जानू आई लव यू सो मच.

आरती फुल मूड में आ गई थी पूरी गर्म हो गई थी क्योंकि आरती बड़ी हॉट लड़की है, जवानी में है तो जल्दी ही एक्साइट हो जाती है. तभी मैंने सोचा यह शायद सही टाइम है इसको चोदने का. यहां मेरा लंड आरती को देख कर पूरा खड़ा हो गया था. आरती ने मेरा लंड देखा तो जींस में आरती को सलामी दे रहा था.

और वह हैरान होकर बोली यह क्या? इतना बड़ा लंड है तुम्हारा? मैं तो मर ही जाऊंगी और आरती ने मुझे बोला तुम भी अपने कपड़े उतारो. मैंने भी अपनी टी शर्ट और जींस उतार दी और अब मैं सिर्फ अंडरवीयर में था.

फिर मैंने आरती की पेंट उतार दी और अब वह सिर्फ पेंटी में थी. अब आरती बिल्कुल भी नहीं शर्मा रही थी और वह पूरी गरम हो चुकी थी. आरती मेरे ऊपर लेट गई और मुझे किस करने लगी. किस करते करते हुए चेस्ट पर किस करने लगी. वह मेरी बॉडी के साथ खेल रही थी मैं जिम जाता हूं रोज. मैंरी  काफ़ी अच्छी और फिट बॉडी है जो आरती को बड़ी पसंद आई. इंडियन सेक्स कहानी डॉट कॉम तभी उसने मेरी अंडरवीयर खोल दी मैंने भी देर करते हुए आरती की पैंटी उतार दी और आंखें खुली हुई रह गई. आरती वर्जिन थी और एकदम टाइट और पिंक चूत थी उसकी.. फिर मैंने उसको पेट पर नाभि पर किस किया और उसकी टांगों को फैला कर उसकी टांगों के बीच में आ गया, और उसकी चूत चाटना शुरू कर दिया आरती बहुत गरम हो कर मेरा सर पकड़ कर अपनी चूत में दबा रही थी. फिर करीब १० मिनट तक उसकी चूत चाटने के बाद वह मेरे मुंह में ही जड गयी और मैं उसका सारा पानी पी गया. उसका चूत रस बहोत टेस्टी था.

फिर मैंने उसको अपना लंड चूसने को कहा, तो वह मना करने लगी कि मुझे गंदा लगता है मैं नहीं चुसुंगी. तो मेरे दो चार बार बोलने पर वह मान गई लेकिन उसको अच्छा नहीं लग रहा था तो उसने मेरा लंड अपने मुंह से निकाल दिया.

मैंने फिर किस और बूब्स प्रेसिंग चालू कर दी, जैसे ही वह गरम हुई मैंने उसको लिटाया और उसकी टांगे खोल कर बीच में आकर अपना लंड उसकी चूत में रगड़ने लगा. आरती इतनी गरम थी की खुद ही मेरा लंड अपने हाथ से पकड़ कर अपनी चूत में डालने की कोशिश कर रही थी.

आरती : कम ऑन बेबी अब और मत सताओ मुझे चोद दो. मेरी कुंवारी चूत को चोद दो.चोद दो मेरी चूत जान चोदो मुझे बहुत जोर से. आई लव यूअर लंड और बना लो मुझे अपना हमेशा के लिए. और आरती मस्ती में मदहोश होकर पता नहीं क्या क्या बोले जा रही थी?

मैं : रुक जा बेबी बस तू ही तो है एक तुझे ऐसा  चोदूंगा आज इतना मजा दूंगा तुझे कि तू जिंदगी में कभी भूल नहीं पाएगी और हमेशा मेरे पास ही आएगी चुदवाने और मैंने अपने लंड पर कंडोम लगाया और उसकी चूत पर थोड़ा थूक लगाया और लंड उसकी चूत में डालने लगा. लेकिन चूत टाइट होने की वजह से लंड अंदर नहीं जा रहा था.

आरती : जल्दी करो बेबी फक मी मैं तुम्हारा इंतजार कर रही हूं आज  फाड़  दो मेरी चूत को.

यह सब सुनकर मैंने एक जोरदार धक्का मारा. अभी सिर्फ लंड का टोपा ही अंदर गया था और आरती चिल्ला उठी मार डाला आह्ह ओह्ह ईई उह्ह आयी आऊओ बाहर निकालो बहुत दर्द हो रहा है. उसकी चूत से खून आने लगा और आंखों से आंसू निकल आए. मैंने आरती को  वैसे ही पकड़े रखा और उसको किस करने लगा.

जैसे ही उसका दर्द थोड़ा कम हुआ, मैंने एक और  धक्का मारा और लंड उसकी सील तोड़ता हुआ पूरा उसकी चूत में समा गया. अभी थोड़ा कम दर्द था उसकी चूत खूनी बन चुकी थी. थोडा दर्द कम होने के बाद मैने धक्के मरना स्टार्ट कर दिया और अब उसको भी मजा आने लगा था.

वह उछल उछल कर मेरा साथ देने लगी और जोर जोर से मोंन करने लगी थी आह्ह अह्ह्ह ओह्ह्ह अह्ह्ह मेरी जान आज तूने मुझे जन्नत की सैर करवा दी. आय लव यु रोहित आह अह्ह्ह अह्ह्ह. फिर मैने उसे डौगी स्टाइल मे आने को कहा.

१० मिनिट डौगी स्टाइल में चोदने के बाद में जड गया. इस चुदाई के दोरान वह २ बार जड चुकी थी. और हम पड़े रहे. थोड़ी देर के बाद रेडी हुए और एक दुसरे को किस किया.

loading...

Write A Comment