Saheli ke Pati : सहेली के पति ने मेरी चूत चोदी, फिर गांड मारी

Saheli ke Pati : सभी लंड वाले मर्दों के मोटे लंड पर किस करते हुए और सभी खूबसूरत जवान चूत वाली रानियों की चूत को चाटते हुए सभी का मैं स्वागत करती हूँ। अपनी कहानी sexkahani.net के माध्यम से आप सभी मित्रो तक भेज रही हूँ। ये मेरी पहली स्टोरी है। इसे पढकर आप लोगो को मजा जरुर आएगा, ये गांरटी से कहूंगी।

मेरा नाम देवयानी यादव है। मैं जबरदस्त सेक्सी माल हूँ। मैं नवाबो के शहर लखनऊ की रहने वाली हूँ। मुझे चुदना और गांड मराना बड़ा पसंद है। मैं जब तक अच्छे से चुदवा नही लेती हूँ मुझे रात में नींद ही नही आती है। मेरे पति वैसे तो मुझे लंड रात के टाइम खिलाते है पर जिस दिन उसका ऑफ़ होता है, सारा दिन मुझे पेलते है। मैं ख़ुशी ख़ुशी गांड मरवा लेती हूँ। मेरे बदन में बहुत गर्मी है। चुदवाये बिना चैन नही मिलता है। दोस्तों मेरा चेहरा लम्बा है और आँखे सुरमई है। मेरी खूबसूरत आँखे झील की तरह गहरी है जिसमे हर मर्द खो जाता है। हर मर्द मुझे चोदना चाहता है क्यूंकि मैं इलियाना डीक्रूस और आलिया भट्ट की तरह सेक्सी दिखती हूँ। मेरे पति ने लखनऊ में ही यूनीवर्सिटी के पास एक फ्लैट लिया था। हम दोनों उसमे जाकर रहने लगे।

कुछ ही दिन मे मेरी दोस्ती सामने वाले फ्लैट में रहनी वाली औरत से हो गयी। उसका नाम आभा शुक्ला था। कुछ ही दिन में वो मेरी अच्छी दोस्त बन गयी। दोस्तों आभा ने मिलकर मेरा सारा अकेलापन दूर हो गया क्यूंकि वो बहुत अच्छे नेचर वाली लड़की थी। उसका पति चिंटू इनकम टैक्स डिपार्टमेंट में काम करता था। आभा मुझसे हर बात शेयर करती थी।

“देवयानी!! तेरा पति तुझे कैसे चोदता है??” वो पूछने लगी Saheli ke Pati “वो बिस्तर पर लिटाकर चोदता है। कभी कभी घोड़ी बनाकर गांड मारता है” मैं बोली “मेरा पति चिंटू तो पहले अच्छे से मेरी चूत पीता है। उसके बाद मेरे हाथ पैर को बेड से बांध देता है। उसके बाद जानवरों की तरह मेरी चूत और गांड मारता है” आभा बोली “कभी मुझे भी अपने मर्द का रसीला लंड खिला दे!!” मैं मजाक मजाक में कहने लगी “तेरा जुगाड़ करवा दूंगी” आभा बोली chudai ki kahani दोस्तों कुछ दिन बाद हम दोनों सखियाँ साथ में बैठकर ब्लू फिल्म देखने लगी। न तो मेरे बच्चे थे और न ही आभा के। इस वजह से कोई डिस्टर्ब करने वाला न था। सामने टीवी में बड़ी खतरनाक वाली चुदाई चल रही थी। मर्द औरत को घोड़ी बनाकर जल्दी जल्दी चोदे डाल रहा था। औरत “..अहहह्ह्ह्हह स्सीईईईइ….अअअअअ….आहा …हा हा सी सी सी” चिल्ला रही थी। ये सब देख देखकर आभा गर्माने लगी। सोफे पर बैठे बैठे अपनी साड़ी उठा डाली। और चड्डी में हाथ गुस्साकर जल्दी जल्दी अपनी रसीली चूत में ऊँगली करने लगी। मैं उसका काण्ड देखकर हँसने लगी। आभा अब चुदासी हो गयी है।

“आजा बहन!! मुझे मजा दे आकर” वो बोली chudai kahani अब मुझे भी कुछ कुछ होने लगा। मैं आभा के करीब जाकर सोफे पर बैठ गयी। उसे पकड़ ली। हम दोनों लेस्बियन बनकर किस करने लगे। मैं भी चुदक्कड औरत बन गयी थी। आभा मुझे और मैं उसे किस करने लगी। वो मेरे गले लग गयी और कितना मजा आने लगा तब। कुछ देर बाद हम दोनों अपनी अपनी साड़ी उतार दी। ब्लाउस और पेटीकोट खोल दी। फिर दोनों सखियों ने अपनी अपनी ब्रा और पेंटी उतार डाली। अब दोनों मस्त मस्त माल दिख रही थी। आभा कुछ जादा ही चुदासी हो गयी थी 

“देवयानी बहन!! आओ मेरी चूत में ऊँगली करो आकर!!” वो बोली sexy stories उसकी जब चूत देखी तो मैं भी इधर चुदासी हो गयी। आभा अपनी दोनों टांग खोलकर सोफे पर लेट गयी। मैं उसकी मस्त मस्त चूत को देखने लगी। दोस्तों उसकी चूत बड़ी खूबसूरत थी। उभरी उभरी और फूली फूली गद्दी जैसी दिख रही थी। मैं जीभ लगाकर जल्दी जल्दी चाटने लगी। आभा भी मजा काटने लगी। “……अई…अई….अई…..इसस्स्स्स्…….उहह्ह्ह्ह…..ओह्ह्ह्हह्ह….”बोल रही थी। मैं मस्त होकर चाट रही थी। उसे फुल मजा मिल रहा था। वो भी अपनी गांड उठाने लगी। दोस्तों उसकी चूत का दाना इतना सेक्सी, फिसलनभरा और चिकना था की क्या बताऊं। मैं जीभ लगा लगाकर उसके दाने को छेड़ रही थी। जल्दी जल्दी हिला हिलाकर चूस रही थी। उसकी चूत का मीठा रस चाट रही थी। आभा जन्नत का मजा ले रही थी।

“देवयानी बहन!! चूस और चूस मेरी भोसड़ी को!! …. सी सी सी सी….” आभा कहने लगी

मैं भी मुंह लगाकर चाटने लगी। फिर चूत में ऊँगली घुसा दी। जल्दी जल्दी अंदर बाहर करने लगी। आभा की हवा खराब हो गयी। 15 मिनट मैंने नॉन स्टॉप ऊँगली की और मेरी सखी झड़ गयी। उसकी चूत का फव्वारा बहने लगा जिसे देखकर बड़ी मौज मिली। फिर उसने मेरी चूत चाटी और दूध मुंह में लेकर चूसा। इस तरह से आभा मेरी लेस्बियन पार्टनर बन गयी थी। हम अक्सर ही मजे करने लगे थे क्यूंकि हमारे पति तो जॉब पर सुबह ही चले जाते थे और हम दोनों सखियाँ अकेली रह जाती थी। उसके बाद हम दोनों साथ में मजे करती थी और शाम तक ब्लू फिल्म देखती थी।

“देखो बहन मेरी चुदाई का विडियो” एक दिन आभा बोली

उसके पति चिंटू ने उसकी चुदाई का एक मस्त विडियो बना लिया था जिसमे वो घोड़ी बनाकर गांड मरवा रही थी और “अई…..अई….अई… अहह्ह्ह्हह…..सी सी सी सी….हा हा हा…” की आवाजे निकाल रही थी। दोस्तों उस दिन मैंने पहली बार उसके पति को नंगा देखा था। चिंटू की बोडी किसी जिम ट्रेनर जैसी थी। उसका लौड़ा तो 10” से भी जादा लम्बा था। कितना मोटा और लम्बा रसीला लौड़ा था आभा के पति का। दोस्तों विडियो देखकर मेरा चुदने का दिल करने लगा था। कुछ दिन बाद आभा मुझे अपने पति से मिलवा दी। उस दिन मेरा पति जॉब पर गया हूँ था। मेरे घर पर कोई नही था। आभा मुझे अपने फ्लैट में ले गयी।

“मेरी सखी तुमसे मिलना चाहती है” आभा चिंटू से बोली

चिंटू अपना हाथ बढ़ाया तो मैं भी बढ़ा दी। मैं उससे हाथ मिलायी पर मुझे नही मालुम था की चिंटू मुझसे भी जादा ठरकी मर्द होगा। जैसे ही मैं हाथ मिलाने लगी चिंटू ने धोखे से मेरा हाथ पकड़ लिया और अपने पास खींच लिया। फिर मुझे किस करने लगा। सामने आभा थी तो मुझे जादा शर्म आ रही थी। चिंटू ने मुझे बाहों में भर लिया और मैं भागने की कोशिश करने लगी।

“शरमा मत!! मेरा मर्द का लंड तू मांग रही थी। आज कसके चुदवा डाल मेरे पति से” आभा हंसकर बोली

“साली!! माल तो तू सही है। देखता हूँ तेरी चूत कितनी देर मेरा लंड को खा पाती है” चिंटू बोला और मेरे ब्लाउस के उपर से मेरे दूध को दबाने लगा। दोस्तों मैं खूबसूरत और जवान लड़की थी। मेरा फिगर 36 32 38 का था। रंग भी गोरा था इस वजह से मैं चुदने लायक सेक्सी औरत दिख रही थी। चिंटू का दिमाग गरम हो गया और मेरे ब्लाउस के उपर से मेरे दूध दबाने लगा। 36” की बड़ी कसी कसी चूची मसलने लगा। मैं “आऊ…..आऊ….हमममम अहह्ह्ह्हह…सी सी सी सी..हा हा हा..” करने लगी।

“चल रांड!! अपनी गांड की नुमाईस कर” चिंटू बोला

मैं अपनी साड़ी खोलने लगी और नंगी हो गयी। मैं ब्रा और पेंटी खोलकर पूरी तरह से नंगी होकर आभा के पति चिंटू को अपने बदन की नुमाईस करवाने लगी। चिंटू मुझे भूखे शेर की तरह देख रहा था। मैं सामने पूरी तरह से बेआभरू हो चुकी थी। मैं पलट गयी और झुक गयी। चिंटू को अपनी मस्त मस्त गांड और चूतड दिखाने लगी।

“तू सही आयटम है” चिंटू बोला और अपने पास बुला लिया।

“देवयानी रंडी!! मेरा लौड़ा चूसेगी” वो बोला

मैं भी किसी छिनाल की तरह उसके पास जाकर सोफे पर बैठ गयी और उसकी जींस पेंट की बेल्ट खोलने लगी। उसकी पेंट को नीचे खींचकर अंडरवियर पर हाथ लगाने लगी।

“आपका तो लौड़ा काफी मोटा है चिंटू जी!!” मैं बोली

दोस्तों उसका लंड किसी डरावने नाग की तरह धीरे धीरे अपना फन उठाने लगा। मैं आभा के पति का लंड अंडरवियर के उपर से सहलाने लगी। कुछ देर में वो तन गया और तम्बू जैसा दिख रहा था। फिर अंडरवियर जैसे उतारी तो उसका 10” का लौड़ा किसी भयंकर नाग की तरह फन उठा दिया। मैं हैरान होकर देखने लगी। हाथ में लेकर चेक करने लगी। फिर मुठ देने लगी। अब चिंटू भी पागल होने लगा। मेरे सर को पकड़कर मेरे पूरे चहरे पर लंड रगड़ने लगा। मैं आँख बंदकर करवाने लगी। आभा का पति चिंटू मेरे गाल और आँखों पर लंड का सुपाड़ा मलने लगा। फिर मेरे होठो पर मलने लगा।

मैं भी पकड़ के चूसना चालू कर दी। हाथ में ले लेकर फेटने लगी। उधर मेरी सखी सहेली आभा भी चुदासी होकर नंगी होने लगी। एक एक कपड़ा खोलकर नंगी हो गयी और हम तीनो ही उठकर बेडरूम में चले गये। आज उसका पति चिंटू 2 2 चूत एक साथ मारने वाला था। हम तीनो बेड पर जाकर लेट गयी। चिंटू अपनी शर्ट उतार कर बेड पर लेट गया। मैं जाकर उसका लंड फेटने लगी। आभा मेरे पीछे आकर मेरे मस्त मस्त चूतड़ पर हाथ लगाने लगी।

“तेरी गांड तो सनी लिओन से कम नही है देवयानी” आभा कहने लगी

“तो चाट लो बहन!!” मैं इधर से बोली

अब आभा भी लंड प्यासी होकर मेरे चूतड़ को सहलाने लगी और किस करने लगी। मैं उसके पति के लंड को जल्दी जल्दी फेट रही थी। उसका लंड किसी गन्ने जैसा मोटा दिख रहा था। मैं हाथ में लेकर अच्छे से फेट रही थी। मुंह में लेकर चूस रही थी। सर को जल्दी जल्दी नीचे उपर उठाकर चूस रही थी। चिंटू “….उंह उंह उंह हूँ.. हूँ… हूँ..हमममम अहह्ह्ह्हह..अई…अई…अई…..” कहता जा रहा था। उसे अत्यधिक सुख और संतोष की प्राप्ति मिल रही थी। मैंने उसका लंड इतना चूसा की मेरी सारी लिपस्टिक छूट गयी और चिंटू के लौड़े पर लग गयी। उसका लंड अब 10” लम्बा किसी रसियन लंड की तरह दिख रहा था। मैंने 15 16 मिनट हाथ में लेकर फेटा और अच्छे से खड़ा कर दिया। तभी मेरी सहेली आभा जल्दी जल्दी पीछे से मेरी गांड के छेद में जीभ लगाकर चाटने लगी। मैं पागल होने लगी।

“आओ देवयानी! मेरे लंड की एक राइड ले लो” चिंटू बेड पर लेटे लेटे बोला

मैं जाकर धीरे से उसके लंड पर जा बैठी। लंड को पकड़कर चूत में डाल ली। फिर उछल उछलकर जम्प मारने लगी। चिंटू लेटे लेटे ही मजा लेने लगा। मैं अपनी तरफ से लम्बे लम्बे धक्के देने लगी। उसका लंड मेरी चूत को अंदर तक फाड़ने लगा। अब मैं भी “उ उ उ उ उ……अअअअअ आआआआ…”करने लगी। चिंटू मेरे यौवन पर नजर डालने लगा। मेरी पतली गोरी कमर पर हाथ लगाने लगा। मेरी मस्त मस्त चूची उपर नीचे जल्दी जल्दी हिलकर डांस करने लगी। क्यूंकि मैं जल्दी जल्दी उसके 10” लंड पर जम्प मार रही थी।

““ohh!! yes yes देवयानी!! fuck me hard ….ऊँ—ऊँ…ऊँ सी सी सी…” चिंटू कहने लगा

उसका लंड मेरी चूत को फाड़ रहा था। जैसे जैसे मैं उछल रही थी बड़ी जोर की रगड़ मेरी बुर के अंधरूनी भाग में लग रही थी। मैं भी स्वर्ग का मजा ले रही थी। चिंटू मेरी चूची को पकड़कर किसी हॉर्न की तरह दबा देता था। मैं धक्के दे देकर शांत हो गयी और थक गयी। अब आभा का पति नीचे से सटासट मुझे पेलने लगा। फिर दोस्तों इतनी जल्दी जल्दी नीचे से चोदने लगा की मेरी चूत से पॉपकॉर्न फूटने जैसी पटर पटर की आवाज आने लगी। आभा के पति चिंटू ने मुझे लंड पर बिठाकर रगड़कर चोदा और अंदर ही झड़ गया। मैं उसके लंड से नीचे उतर आई।

“चल मेरे माल को पी जा रांड!!” चिंटू बोला

अब मैं लेट गयी और फिर से उसके 10” लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी। उसका सारा माल पी गयी और चूस चूसकर लंड अच्छे से साफ़ किया।

“दोनों रंडियां अब मुझे लाइव शो दिखाओ जैसे लेस्बियन गर्ल्स करती है” चिंटू बोला

मैं बेड पर लेट गयी और आभा आकर मेरे बदन से खेलने लगी। उसके दूध 34” के थे जबकि मेरे 36” के थे। वो आकर मुझे होठो पर किस करने लगी। मैं भी जोश में आ गयी और उसे किस करने लगी। ऐसे करते करते मामला और गर्म हो गया। मैं भी जोश में आभा को पकड़ ली और उसके गुलाब जैसे होठ चूसने लगी। अब वो मेरी 36” के बड़े बड़े दूध पकड़कर दबाने लगी। मैं कामुक होकर “उ उ उ उ उ……अअअअअ आआआआ… सी सी सी सी….. ऊँ…ऊँ…ऊँ….” करने लगी। मेरे कबूतर बहुत ही सेक्सी, गोल गोल, बड़े बडे और नर्म नर्म थे। आभा दबा दबाकर मुझे और आनन्द दे रही थी। फिर मुंह में लेकर चूसना चालू कर दी। मुझे अब बड़ा अच्छा लग रहा था। आज मैं आभा और उसके पति के साथ सेक्स पार्टी कर रही थी। वो आधे घंटे तक मेरे कबूतर को मुंह में लेकर चूसती रही।

अब उसका पति चिंटू उसके पीछे आ गया और घोड़ी बना दिया। उसने आभा की बुर में अपना मोटा लंड हाथ से पकड़कर घुसा दिया और उसे डौगी स्टाइल में चोदने लगा। कुछ देर बाद चिंटू फिर से झड़ गया। दूसरी राउंड में हम दोनों से उसका लंड मुंह में लेकर चूसा और फिर से खड़ा किया। फिर चिंटू ने मेरी और आभा की गांड बारी बारी से मारी। आपको स्टोरी कैसी लगी मेरे को जरुर बताना और सभी फ्रेंड्स नई नई स्टोरीज के लिए sexkahani.net पढ़ते रहना। आप स्टोरी को शेयर भी करना।

Chut Ki ChudaiHindi KahaniHindi Sexy Kahaniyaचुदाई की कहानियाँदेसीरिश्तों में चुदाई

Leave a Comment